अखबार-चैनलवाले सुदेश को जीताने में लगे, पर सिल्ली की जनता सीमा महतो के पक्ष में

सिल्ली विधानसभा की जनता एक बार फिर झामुमो प्रत्याशी को जीताने को तैयार है। आजसू सुप्रीमो सुदेश महतो की स्थिति डांवाडोल है, हांलाकि वे मेहनत खुब कर रहे हैं, उनके साथ विभिन्न चैनलों-अखबारों के संपादकों एवं पत्रकारों की टीम उन्हें जीताने के लिए दिलो-जान से लग चुकी हैं। स्थिति यह है कि सुदेश महतो को जीताने के लिए ये चैनल और अखबारवाले अपनी ओर से नाना प्रकार के हथकंडे और भागीरथी प्रयास भी कर रहे हैं।

सिल्ली विधानसभा की जनता एक बार फिर झामुमो प्रत्याशी को जीताने को तैयार है। आजसू सुप्रीमो सुदेश महतो की स्थिति डांवाडोल है, हांलाकि वे मेहनत खुब कर रहे हैं, उनके साथ विभिन्न चैनलों-अखबारों के संपादकों एवं पत्रकारों की टीम उन्हें जीताने के लिए दिलो-जान से लग चुकी हैं। स्थिति यह है कि सुदेश महतो को जीताने के लिए ये चैनल और अखबारवाले अपनी ओर से नाना प्रकार के हथकंडे और भागीरथी प्रयास भी कर रहे हैं।

इसके लिए ये चैनल और अखबार वाले सीमा महतो के पति अमित महतो की इमेज को खराब करने के लिए एक से एक समाचार अपने अखबारों व चैनलों में प्रकाशित व प्रसारित कर रहे हैं, इसके बावजूद सीमा महतो की जीत के असर पर कोई फर्क नहीं पड़ रहा।

इधर जहां-जहां जिस इलाके में झामुमो प्रत्याशी सीमा महतो जा रही है, इस भीषण गर्मी में भी उन्हें सुनने और देखने के लिए भारी भीड़ इकट्ठी हो रही है। झामुमो की ओर से आयोजित होनेवाली सभाओं में भी भारी संख्या में जनसैलाब उमड़ रहा है, जो बता दे रहा है कि यहां जीत किसकी होगी? झामुमो प्रत्याशी सीमा महतो को सभी दलों का समर्थन भी प्राप्त है, जिसके कारण सीमा महतो की जीत आसान लग रही है, इधर सुदेश महतो के समर्थन में पत्रकारों व संपादकों का दल हवा बनाने के लिए तरह-तरह के हथकंडे अपना रहा है, पर सिल्ली की जनता पर अमित महतो का जादू सर चढ़कर बोल रहा है।

सिल्ली की जनता को लगता है कि इस इलाके से विधायक रहे अमित महतो को भाजपा-आजसू की सरकार ने जानबूझकर उनकी विधायकी समाप्त कराई है, इसलिए सीमा महतो को सहानुभूति वोट भी ज्यादा मिलने की उम्मीद लगाई जा रही है।  बड़ी संख्या में कांग्रेस, वामपंथियों तथा अन्य दलों के समर्थक भी सीमा महतो को जीताने के लिए एड़ी-चोटी एक किये हुए है और सिल्ली विधानसभा में डेरा-डंडा डालकर सीमा महतो की जीत को सुनिश्चित करने के लिए लगे हैं।

एक झामुमो समर्थक ने विद्रोही 24.कॉम को बताया कि सिल्ली विधानसभा चुनाव में कुछ चैनलों और अखबारों के संपादकों की हरकतें, इतनी गंदी हो चली है कि अब ऐसे लोगों को पत्रकार कहते भी घृणा आती है, सिल्ली की जनता ऐसे पत्रकारों को भी चुनाव में सबक सिखायेगी, जो पत्रकारिता न कर, एक राजनीतिक दल के पक्ष में चुनावी माहौल बनाने में लगे हैं। झामुमो कार्यकर्ताओं तथा झामुमो को समर्थन दे रहे अन्य दलों के कार्यकर्ताओं का कहना है कि यहां तो चुनाव एकतरफा है, सीमा महतो की जीत तय है, केवल चुनाव परिणाम आने बाकी है।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

CM रघुवर दास की स्वीकारोक्ति - 14 साल तक बिजली के क्षेत्र में कोई काम नहीं, सिर्फ घोटाले हुए

Thu May 24 , 2018
झारखण्ड की आम आदमी पार्टी ने राज्य के लोकायुक्त से झारखण्ड राज्य में बिजली विभाग में 14 वर्षों तक हुए घोटाले की निष्पक्ष जांच कराने की मांग की है। आम आदमी पार्टी का कहना है कि झारखण्ड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने 19 मई 2018 को अपने अधिकारिक टविटर के माध्यम से स्वीकार किया है कि राज्य में बिजली के क्षेत्र में कोई काम नहीं हुआ, काम के नाम पर सिर्फ और सिर्फ घोटाले हुए है।

You May Like

Breaking News