पूरे बिहार-झारखण्ड में कार्तिक शुक्ल रवि षष्ठी व्रत धूमधाम से मनाया जा रहा है। आज अस्ताचलगामी भगवान भास्कर को प्रथम अर्घ्य देकर सभी छठव्रतियों और उनके परिवार के सदस्यों ने स्वयं को कृतार्थ किया और भगवान भास्कर को इस बात के लिए धन्यवाद दिया कि उन्होंने सभी छठव्रतियों के इस […]

रांची से प्रकाशित हिन्दी अखबार “प्रभात खबर” ने विश्व उर्दू दिवस दो दिन पहले यानी 6 एवं 7 नवम्बर को ही मना लिया जबकि विश्व उर्दू दिवस 9 नवम्बर को मनाया जाता है। इसके उपलक्ष्य में उसने लगातार दो दिन विशेष पेज निकाले। उर्दू का बखान किया। अंतिम दिन उसने […]

हमेशा सुर्खियों में रहनेवाले मंत्री बन्ना गुप्ता ने जमशेदपुर में आज धारा 144 लगे स्थान पर गैर कानूनी रुप से बने प्रेस क्लब भवन का जबरन उद्घाटन कर फिर सुर्खियां बटोर ली है। ऐसा कर उन्होंने ये जता दिया कि जिसकी लाठी उसकी भैंस और कानून जाए ताक पर, वे […]

महंगाई, चरम पर है। इस महंगाई से सभी प्रभावित है, पर किंकर्तव्यविमूढ़ हैं। किसी को कोई रास्ता ही नहीं सूझ रहा कि इस महंगाई के खिलाफ केन्द्र की मोदी सरकार को कैसे जगाए। कुछ दिन पहले देश में तीन लोकसभा और कई राज्यों के विधानसभा के उपचुनाव हुए, इस उपचुनाव […]

अखबारों व चैनलों में धनतेरस के विज्ञापनों की भरमार हैं। उपभोक्ताओं को इन विज्ञापनों ने ऐसे भ्रमजाल में फांस लिया हैं। जैसे लगता है कि धनतेरस भौतिक सुख-सुविधाओं से लैस होने का ही महापर्व है। लेकिन मैं भी 55 साल का हो गया हूं, कई धार्मिक/आध्यात्मिक पुस्तकों को पढ़ा हूं, […]

क्या आपको मालूम है कि पाकिस्तान में एक अखबार की कीमत क्या है? इसका उत्तर है – 25 रुपये। इसमें पृष्ठों की संख्या भी भारत के अखबारों की तरह ही होती है, यानी 22-24 की संख्या तक, जो समयानुसार घटती बढ़ती रहती है, लेकिन भारत में पाकिस्तान के अखबारों के […]

आखिर एक पत्रकार दूसरे पत्रकारों से, एक मीडिया संस्थान दूसरे मीडिया संस्थानों से इतना नफरत क्यों करता हैं भाई? किसी पत्रकार की मौत पर भी उसका दिल क्यों नहीं पसीजता, आखिर वो इतना क्रूर कैसे होता जा रहा हैं, दूसरों के लिए समाचार देनेवाला, अपनों के लिए इतना घृणा कहां […]

फूलो-झानो आशीर्वाद अभियान से जुड़कर झारखण्ड की हजारों महिलाओं की जिंदगी में बड़ा बदलाव आया है। पहले जो महिलाएं आर्थिक मजबूरियों की वजह से सड़क किनारे बैठकर हड़िया और शराब बेचती थीं, उन्हें अब रोजगार के सम्मानजनक कार्यों से जोड़ा जा रहा है। गौरतलब है कि मुख्यमन्त्री हेमन्त सोरेन के […]

“हम तेरे बिन कही रह नहीं पाते, तुम नहीं आते तो हम मर जाते, हाय प्यार क्या चीज है, ये जान नहीं पाते…” इस दृश्य को देख, हमें फिल्म “सड़क” का ये गाना अनायास याद आ रहा है। कमाल है अर्जुन मुंडा की सरकार हो या रघुवर की सरकार, और […]

जिन्हें पेट, परिवार, पैसे, पद और प्रतिष्ठा से प्यार हो, उन्हें पत्रकारिता सदा के लिए छोड़कर, कोई ऐसा व्यवसाय या नौकरी ढूंढना चाहिए, जिसमें पेट भी भर जाये, परिवार भी पल जाये, पैसे इतना आ जाये कि घर से निकले भी तो सीधे प्लेन में ही प्रवेश करें, क्योंकि जो […]

Breaking News