राज्य योग केन्द्र पूर्वी जेल रोड रांची में खिलाड़ियों के लिए एक दिवसीय योग प्रशिक्षण शिविर का आयोजन

आज रांची के पूर्वी जेल रोड स्थित राज्य योग केन्द्र में आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में खिलाड़ियों के

Read more

ओलम्पिक में शानदार खेल का प्रदर्शन करनेवाली झारखण्ड की दो बेटियों का CM हेमन्त ने दिल खोलकर किया स्वागत, 50-50 लाख के चेक थमाए, स्कूटी दी और शहर में एक शानदार मकान भी

जहां हर दिन जीविका को लेकर चुनौतियों से जूझना पड़ता है। वहां सीमित संसाधनों के बीच यहां के बेटे-बेटियां आज

Read more

खिलाड़ियों के बेहतर भविष्य के लिए प्रतिबद्ध CM हेमन्त ने फुटबॉलर संगीता की बेहतरी के लिए धनबाद DC को दिये निर्देश

जैसे ही राज्य के मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन को इस बात की जानकारी मिली की धनबाद की अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल खिलाड़ी ईट-भट्ठों में काम कर रही हैं तथा उसकी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं हैं, उन्होंने धनबाद के उपायुक्त को एक ट्विट किया। ट्विट में उन्होंने धनबाद के डीसी को निर्देश दिया कि वे जल्द धनबाद में डे बोर्डिंग फुटबॉल सेन्टर का शुभारम्भ कराने का प्रयास करें। जिसमें संगीता बतौर कोच/ट्रेनर काम करेंगी, इससे उसको नियमित आय भी होगा, साथ ही वह महिला खिलाड़ियों को प्रशिक्षित भी करेगी।

Read more

ईंट भट्टे पर काम करनेवाली धनबाद की अंतरराष्ट्रीय फुटबॉलर संगीता को मिलेगी सम्मानजनक जिंदगी, कुणाल के ट्विट पर केन्द्रीय मंत्री किरन रिजीजू ने लिया संज्ञान

झारखंड के खिलाड़ियों की दुर्दशा की कहानी लॉकडाउन में लगातार उभर कर सामने आ रही है। पिछले एक साल के इस कोविड काल में मीडिया के माध्यम से राष्ट्रीय -अंतरराष्ट्रीय खिलाडियों को सब्जी बेचते देखने से लेकर तमाम झंझावातों से गुजरते लोगों ने देखा। पहले से ही झारखंड में एक व्यापक खेल-नीति के अभाव में खिलाड़ियों की दुर्दशा जगजाहिर है, उस पर कोरोना महासंक्रमण काल में तो हालात इस कदर खराब हुए, कि घर चलाने के लिए धनबाद की अंतरराष्ट्रीय फुटबॉलर संगीता कुमारी को अपनी माँ के साथ ईंट भट्टा में काम करना पड़ रहा है।

Read more

RPC के अधिकारियों को दो-दो किट, अन्य पत्रकारों को जलपान तक नहीं, उन्हें मिले किट पर भी उठे सवाल, एक ने कहा – सब भिखारी

धिक्कार ऐसे आयोजन पर, जहां आप खुद के लिए अलग व्यवस्था और दूसरों के लिए निम्नतम स्तर की व्यवस्था करते हैं। जहां आप अपने लिए दो-दो किट (ओपनिंग सेरेमनी और लीग मैच के लिए अलग-अलग) तथा स्पेशल भोजन-जलपान और अन्य लोगों को दोयम दर्जे का किट (जिसमें जूते एक ही खेल में दांत निपोड़ देते हैं) उपलब्ध कराते हैं तथा उन्हें भोजन व जलपान के लिए भी तरसा देते है, धिक्कार आपके द्वारा इस आयोजन पर, जहां लोग आपके ओपनिंग सेरेमनी में जाने से भी कतराते हैं, आप पर सवाल उठाते हैं।

Read more

खेल पत्रकार सुशील ने CM हेमन्त, BJP नेता बाबूलाल व DGP एमवी राव को टैग कर खुद पर CCL द्वारा लगाये आरोपों की त्वरित जांच की कर डाली मांग

झारखण्ड के वरिष्ठ खेल पत्रकार सुशील सिंह ‘मंटू’ ने राज्य के मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन, भाजपा नेता बाबू लाल मरांडी, पुलिस महानिदेशक एम वी राव को टैग करते हुए पिछले दिनों सोशल साइट पर एडीजी, सीआइडी शाखा को पूर्व में जारी किये गये अपने पत्र का हवाला देते हुए अपनी भावनाओं को शब्दों में उकेरते हुए, स्वयं के खिलाफ त्वरित जांच करवाने की मांग की है। उन्होंने जो अपनी बातें लिखी है, वो इस प्रकार है…

Read more

धौनी ने की अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा, झारखण्डियों के दिल टूटे, हेमन्त ने BCCI से फेयरवेल मैच रांची में कराने की अपील की

झारखण्ड के लाल महेन्द्र सिंह धौनी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा क्या कर दी, उनके चाहनेवालों को बहुत बड़ा धक्का लगा, पर किया ही क्या जा सकता है? जब आप किसी पद को ग्रहण करते हैं, तो उसी दिन यह भी सुनिश्चित हो जाता है कि आपको आनेवाले समय में नये भविष्य के लिए, जहां आप है, उसे एक न एक दिन छोड़ना ही है।

Read more

बड़े-बड़े पूंजीपतियों के लिए CM रघुवर के पास जमीन की कमी नहीं, पर धौनी के क्रिकेट एकेडमी…

आज एक अखबार ने सुप्रसिद्ध अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खिलाड़ी एवं भारत के शान महेन्द्र सिंह धौनी से संबंधित फोटो के साथ एक खबर छापी है, खबर यह है कि ‘महाराष्ट्र के नागपुर में भारत के पूर्व क्रिकेट कप्तान महेन्द्र सिंह धौनी ने अपनी क्रिकेट एकेडमी लांच की। यहां पर क्रिकेटर को रहने और अभ्यास करने की सारी सुविधाएं मुहैया कराई जायेगी।’

Read more

अभावों से जूझ रही आशा और ललिता ने फुटबॉल में अपना परचम लहराया, झूमे ग्रामीण, झूमा गांव

आशा और ललिता दोनों सगी बहनें हैं। आशा भारतीय फुटबॉल टीम अंडर 19 की खिलाड़ी है, जबकि ललिता झारखण्ड महिला फुटबॉल अंडर 17 की खिलाड़ी है। जब दोनों बहने छोटी थी, उसी वक्त उसके पिता डिलूराम महतो का निधन हो गया। मां पुटकी देवी और भाई मनोज महतो मजदूरी करते हैं, यानी न राज्य सरकार का सहयोग और न ही किसी स्वयंसेवी संस्था का सहयोग, ये दोनों बेटिया अपने संघर्ष से ही अभावों के बीच वह सफलता प्राप्त कर ली,

Read more

रांची के एक अखबार का, खेल और खिलाड़ियों को लेकर दोहरा चरित्र सामने आया

कल की ही बात है, एशियन गेम्स में रजत पदक विजेता भारतीय महिला हॉकी टीम की निक्की प्रधान रांची पहुंची हैं, वह आते ही बोलती हैं कि हमारा पूरा प्रयास था, लेकिन हम गोल्ड चूक गये। वह यह भी कहती है उसे इस बात की तकलीफ है कि उसी की टीम के खिलाड़ियों को उनके राज्यों की सरकारें दिल खोलकर अवार्ड देती है, लेकिन झारखण्ड में उसे बहुत कम कैश अवार्ड मिलता हैं।

Read more