भूलिये मत, आज ऐतिहासिक दिन है, आज ही के दिन 1941 में नेताजी सुभाष चंद्र बोस को भारत में अंतिम बार देखा गया था

भूलिये मत। आज ऐतिहासिक दिन है। आज ही के दिन 1941 यानी 18 जनवरी 1941 को नेताजी सुभाष चंद्र बोस

Read more

अभिनन्दन विवेकानन्द विद्या मंदिर के बच्चों का, जिनकी पाइप बैंड ने झारखण्ड के राजभवन, विधानसभा, न्यायालय परिसर में चार चांद लगा दिये, जिसके बैंड को समझने के लिए CM हेमन्त सोरेन भी खुद को रोक नहीं सकें

अभिनन्दन करिये, विवेकानन्द विद्या मंदिर में पढ़ाई कर रहे होनहार बच्चों का, जिनके पाइप बैंड ने पूरे झारखण्ड में धूम

Read more

विश्व बाल दिवस पर बाल पत्रकारों से मिले CM हेमन्त सोरेन, बाल पत्रकारों ने किये संवाद, CM हेमन्त ने बाल पत्रकारों का बढ़ाया उत्साह

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से आज विश्व बाल दिवस के अवसर पर यूनिसेफ, झारखंड से जुड़े बाल पत्रकारों ने मुलाकात कर

Read more

मेरा बचपन-मेरा घरौंदा, वो सपनों का महल, जिसमें होती वो हर चीजें, जो जीवन जीना सीखाती थी, अब बस यादे शेष रह गई हैं

आज सुविज्ञा की दादी, सुविज्ञा के लिए घरौंदा सजा रही थी। दूर मुंबई में बैठी पांच वर्षीया सुविज्ञा अपनी दादी

Read more

ज्ञानेश और उसके दादाजी, धनतेरस का मेला व असली दीपावली का रहस्य

दस वर्षीय ज्ञानेश आज दादाजी के साथ धनतेरस का मेला देखने गया था। धनतेरस के मेले में लोगों की भारी

Read more

CM हेमन्त सोरेन ने ऑड्रे हाउस में किया चाइल्ड आर्टिस्ट एग्जिविशन का विधिवत् उद्घाटन, बच्चों द्वारा बनाई गई आर्ट को आप यहां पांच नवम्बर तक कर सकते हैं अवलोकन

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने आज ऑड्रे हाउस, रांची में 3 नवंबर से 5 नवंबर 2023 तक आयोजित “चाइल्ड आर्टिस्ट एग्जिविशन”

Read more

अगर भारतीय प्रशासनिक सेवा का अधिकारी बनना तो डा. नितिन मदन कुलकर्णी जैसा ही बनना

प्यारे बच्चों, आओ तुम्हें झारखण्ड के एक भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी से जुड़ी एक कहानी सुनाता हूं। ये जरुरी

Read more

सपनों की उड़ान कार्यक्रम से जुड़ इंजीनियरिंग की तैयारी कर रही कस्तूरबा आवासीय विद्यालय, खूंटी की दस बच्चियों ने JEE मेंस किया क्वालिफाई

कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय, खूंटी की दस छात्राओं ने JEE-MAIN 2023 क्वालिफाई किया है। ये उपलब्धि उपायुक्त, शशि रंजन

Read more

बाल दिवस पर बाल पत्रकारों से मिले CM हेमन्त, एक सवाल के जवाब में कहा 24 में से 20 घंटे राज्य की जनता की सेवा में लगे रहते हैं

बाल दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कांके रोड स्थित मुख्यमंत्री आवासीय कार्यालय में यूनिसेफ के बाल पत्रकारों

Read more

परमहंस योगानन्द का योग, अंतिम नहीं है बल्कि यह प्रवेश द्वार है, उस परमपिता परमेश्वर तक पहुचंने का…

जय गुरु। पहली बार रांची मेरा पदार्पण 4 जून 1985 को हुआ था, क्योंकि 5 जून को मेरी शादी रांची में थी। मेरी पत्नी उस वक्त योगदा सत्संग विद्यालय की नौंवी कक्षा की छात्रा थी, उनके हाथों में कई बार योगी कथामृत मैंने देखा था, पर कभी पढ़ नहीं सका। उसी समय से कभी कभार योगदा सत्संग आश्रम में आना – जाना लगा रहा, कभी योगदा सत्संग द्वारा चलाये जा रहे औषधालय गया तो कभी योगदा सत्संग द्वारा चलाये जा रहे मोतियाबिंद के आपरेशन में शामिल हुआ।

Read more