रांची प्रेस क्लब कोर कमेटी के मेंम्बरों की मनमानी के विरुद्ध मुकेश कल जायेंगे कोर्ट

रांची प्रेस क्लब की सदस्यता का विवाद थमता नहीं दीख रहा। राजनामा.कॉम के संपादक मुकेश भारतीय ने कहा है कि उन्होंने द रांची प्रेस क्लब के अध्यक्ष बलबीर दत्त तथा कोर कमेटी के सदस्य रजत कुमार गुप्ता को लिखित तौर पर सूचना दे दी है कि उन्हें रांची प्रेस क्लब का सदस्य न बनाकर उन्हें चुनाव लड़ने से वंचित किया गया है, जो गलत है, ऐसे हालत में उनके पास अब एक ही विकल्प बचा है कि वे न्यायालय की शरण में जाये।

रांची प्रेस क्लब की सदस्यता का विवाद थमता नहीं दीख रहा। राजनामा.कॉम के संपादक मुकेश भारतीय ने कहा है कि उन्होंने द रांची प्रेस क्लब के अध्यक्ष बलबीर दत्त तथा कोर कमेटी के सदस्य रजत कुमार गुप्ता को लिखित तौर पर सूचना दे दी है कि उन्हें रांची प्रेस क्लब का सदस्य न बनाकर उन्हें चुनाव लड़ने से वंचित किया गया है, जो गलत है, ऐसे हालत में उनके पास अब एक ही विकल्प बचा है कि वे न्यायालय की शरण में जाये। मुकेश भारतीय ने कहा है कि वे कल न्यायालय में जाकर अपना पक्ष रखेंगे तथा न्यायालय से मांग करेंगे कि जब तक उन्हें न्याय नहीं मिल जाये, रांची प्रेस क्लब का चुनाव स्थगित रखा जाय। मुकेश भारतीय ने जो पत्र प्रेषित किया है, वह इस प्रकार है –

“मैं शर्मसार हूं। रांची की पत्रकारिता पर शर्मसार हूं। मैं रांची प्रेस क्लब पर शर्मसार हूं। इसके कर्ता-धर्ता पर शर्मसार हूं। इन लोगों ने अपनी रणनीति के तहत एक ऐसे निजी फार्मूलों का इस्तेमाल किया, जिसके बदौलत कोई पत्रकार इसके स्वयंभूओं को चुनौती न दे सकें। आज सारे कमेटी सदस्य जिसमें किसी ने भी विरोध नहीं किया। राजनामा. कॉम, समेत अन्य तीन व्यवसायी के मालिक सह प्रधान संपादक मुकेश भारतीय की सदस्यता रोक रखी है, क्योंकि इनसे उनकी अध्यक्ष की कुर्सी खतरे में हैं। फोन रिकार्डेड एवं व्यक्तिगत जानकारी के अनुसार सभी ने मुकेश भारतीय की प्रशंसा की, लेकिन चुनाव लड़ने के लिए सक्षम उम्मीदवार मुकेश भारतीय पर बहुमत के विपरीत व्यक्ति विशेष एक सदस्य ने आपत्ति दर्ज की, उस अनुरुप ने इन्हें सदस्यता ना देकर चुनाव लड़ने से वंचित किया। मुकेश भारतीय का कहना है कि 27 साल से मैं सक्रिय पत्रकारिता में हूं, मेरी तीन सक्रिय वेबसाइट चल रही है, समाचार प्रकाशन को लेकर ऐज ए सम्पादक कई मुकदमे दर्ज हुए है जो न्यायालय में लंबित है, मुकेश भारतीय का स्पष्ट कहना है कि वे चुनाव ना लड़े, इसको लेकर इनकी सदस्यता को एप्रूव करने के लिए, तरह-तरह की अनर्गल बातें की जा रही है। उन्होंने स्पष्ट कहा कि कल वे इस मामले को न्यायालय में ले जायेंगे और सदस्यता निरस्त के फैसले से पहले वे न्यायालय से मांग करेंगे कि सदस्यता संबंधी फैसला आने से पहले चुनाव की प्रक्रिया स्थगित कर दी जाये। अतः सभी से निवेदन है कि मुकेश भारतीय के इस मुहिम में साथ दें और फैसला होने तक चुनाव प्रक्रिया लंबित रखी जाये। – मुकेश भारतीय”

इधर एक और पत्रकार अवधेश कुमार सिंह ने राज्य के मुख्यमंत्री से द रांची प्रेस क्लब की गतिविधियों पर ध्यान देने का अनुरोध किया है, उनका कहना है कि उन्हें भी रांची प्रेस क्लब की सदस्यता से वंचित रखा गया है, जबकि वे कई वर्षों से रांची की पत्रकारिता में सक्रिय रहे हैं। इनका ये भी कहना है कि दि रांची प्रेस क्लब के एप्रुव्ड मेम्बरशिप लिस्ट 884 में, नियुक्ति, सातवां सच, और न्यूज रांची मेल के एक भी सदस्य का नाम नहीं, आखिर क्यों? इसी प्रकार ऐसे कई पत्रकार हैं, जिन्हें रांची प्रेस क्लब की सदस्यता नहीं मिली है, उन्होंने कोर कमेटी की भूमिका पर सवाल उठाये हैं।

इधर आज कोर कमेटी की विशेष बैठक प्रेस क्लब में संपन्न हुई, बैठक में शामिल सभी सदस्यों ने चुनाव की प्रक्रिया शुरु करने पर विचार किया तथा सभी से प्रेस क्लब की गरिमा को बनाये रखने का अनुरोध किया। दूसरी ओर मुकेश भारतीय द्वारा सदस्यता प्रदान करने संबंधी कार्यों में हुई गड़बड़ियों को कल न्यायालय में ले जाने के वक्तव्य ने रांची प्रेस क्लब के चुनाव पर अभी से ही संकट के बादल उमड़ने के संकेत दे दिये हैं। कई पत्रकारों ने, जिन्हें सदस्यता नहीं मिली है, वे भी इन दिनों आक्रोशित हैं और द रांची प्रेस क्लब के सदस्यों पर अंगूलियां उठा रहे हैं।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

CM के PRO अजय नाथ झा ने नहीं दिया विभागीय कारण बताओ नोटिस का जवाब

Mon Nov 27 , 2017
तो क्या मुख्यमंत्री के पीआरओ अजय नाथ झा ने बिना सीएम के बोले ही न्यूज बना दिया था? क्या कोई भी पीआरओ सीएम का झूठा वक्तव्य, जो सीएम ने दिये नहीं हो, अखबारों में प्रकाशित करा सकता हैं?  ऐसी हरकत तो वहीं कर सकता है, जो सीएम का इमेज खराब करना चाहता हो। फिलहाल झारखण्ड में यहीं हो रहा हैं, यहीं कारण है कि मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव संजय कुमार ने मुख्यमंत्री के पीआरओ अजय नाथ झा को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया है।

You May Like

Breaking News