यौन शोषण के आरोपी, CM के अतिप्रिय विधायक ढुलू को बचाने में लगा पुलिस प्रशासन और संगठन

उपर के फोटो को ध्यान से देखिये। पार्टी के एक कार्यक्रम में कमला कुमारी और बाघमारा के भाजपा विधायक ढुलू महतो एक साथ बैठे है। वह भी प्रसन्न मुद्रा में। किसी को कोई शिकायत नहीं, पर आज दोनों को एक दूसरे से शिकायत है। कमला कुमारी का कहना है कि ढुलू महतो ने उसका यौन शोषण किया और ढुलू महतो ने इस आरोप का जवाब यह कहकर दे दिया कि कमला तो सैक्स रैकेट की संचालिका है,

उपर के फोटो को ध्यान से देखिये। पार्टी के एक कार्यक्रम में कमला कुमारी और बाघमारा के भाजपा विधायक ढुलू महतो एक साथ बैठे है। वह भी प्रसन्न मुद्रा में। किसी को कोई शिकायत नहीं, पर आज दोनों को एक दूसरे से शिकायत है। कमला कुमारी का कहना है कि ढुलू महतो ने उसका यौन शोषण किया और ढुलू महतो ने इस आरोप का जवाब यह कहकर दे दिया कि कमला तो सैक्स रैकेट की संचालिका है, अरे जब कमला कुमारी सैक्स रैकेट की संचालिका थी तो भाजपा ने उसे जिला मंत्री कैसे बना दिया? ये बात कुछ पच नहीं रही, इसका मतलब है कि ढुलू महतो ने बिना कुछ सोचे-विचारे कमला कुमारी पर तोहमत लगा दी, वह भी तब जब उसने ढुलू को लपेटे में लिया, अगर ढुलू लपेटे में नहीं आता तो कमला कुमारी, सैक्स रेकेट की संचालिका नहीं होती, पर अब क्या?

इस प्रकरण ने भाजपा को हिला कर रख दिया है। पूरे झारखण्ड में भाजपा की थू-थू हो रही है, भाजपा के लोग मुंह छुपाते फिर रहे हैं, और लोग भाजपा के लोगों का चेहरा देखने की कोशिश कर रहे हैं, इधर भाजपा में ही एक से एक गुल खिल रहा है, किसी की हिम्मत नहीं कि कमला कुमारी का साथ दे दें, क्योंकि सभी जानते है कि ढुलू पर मुख्यमंत्री रघुवर दास का विशुद्ध हाथ है।

इधर एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी धनबाद की जिला मंत्री कमला कुमारी ने कल यानी 23 नवम्बर दिन शुक्रवार को कतरास थाने में ऑनलाइन प्राथमिकी दर्ज करायी है। इस ऑनलाइन प्राथमिकी में उसी के शब्दों में क्या लिखा है, जरा ध्यान दें – “मैं कमला कुमारी, उम्र 39 वर्ष, पति – राजीव कुमार, सा. गद्दी मुहल्ला, कतरास थाना, जिला धनबाद की निवासी हूं। मैं वर्ष 2008 में भाजपा से जुड़ी एवं विभिन्न पदों पर रहते हुए वर्तमान में पार्टी की जिला मंत्री हूं।

दिनांक 13.11.2015 को मोबाइल नं. 9279702831 से बाघमारा विधायक ढुलू महतो, पिता स्व. पूना महतो, सा. चिटाही, थाना – सोनारडीह, जिला – धनबाद ने, मेरे मोबाइल नं. 9386015335 पर फोन करके मुझे रांची चलने को कहा, मैं समय का अभाव बताकर बात को टाल दी, पर विधायक ने मुझे लगातार 6-7 बार अपनी ही मोबाइल से फोन कर रांची जाने के लिए दबाव बनाया और बोकारो मॉल में मार्केटिंग करवाने का प्रलोभन भी दिया, पर मैं बहाना बनाकर टाल दी।

ठीक उसके एक सप्ताह बाद मोबाइल नं. 7870367320 से फोन कर विधायक ने मुझे पार्टी कार्य का हवाला देकर बुलाया कि हिन्दुस्तान जिंक लिमिटेड टुण्डू स्थित गेस्ट हाउस पर आ जाओ, तब मै पार्टी कार्यकर्ता होने के नाते पहुंची, तो गेस्ट हाउस में केवल विधायक जी एवं आनन्द शर्मा दो ही व्यक्ति थे। मेरे पहुंचते ही आनन्द शर्मा बाहर निकल गये।

विधायक जी ने कहा कि तुम बहुत अच्छी लग रही हो, तुम 18 वर्ष की लग रही हो, यह कहते हुए उन्होंने मेंरे को छू दिया और मुझे दोनों हाथों से आलिंगन कर लिया और मुझे चुमने लगा और अपने हाथों से संवेदनशील अंगों को छूने लगा और मेरा मान भंग करने का प्रयास किया, तब मैं बलपूर्वक खुद को छुड़ाकर किसी तरह अपने घर कतरास पहुंची।

इसके बाद मैं अपनी दुकान आयी तो कुछ देर बाद आनन्द शर्मा दुकान में आकर कहा कि विधायक तुम्हें बहुत चाहता है, अगर तुम उनकी बात मान लोगी, तो तुम्हें वे मालामाल कर देंगे, नहीं तो तुम बर्बाद हो जाओगी, यह धमकी देते हुए आनन्द शर्मा चला गया। इसके बाद भी विधायक फोन कर मध्य रात्रि को भी हम बिस्तर होने का दबाव बनाते रहे हैं। इसके बाद अभी तक लगातार मुझे अपने गुर्गों से धमकी दिलाता रहा है। जिससे मैं तंग आकर और भय से प्रशासन की शरण ले रही हूं।”

कमला कुमारी की ये दूसरी ऑनलाइन प्राथमिकी है और यह भी उतना ही सच है कि अन्य ऑनलाइन प्राथिमकियों की तरह इस ऑनलाइन प्राथमिकी को भी धनबाद पुलिस कचरे के ढेर में फेंक देगी और जिस पर आरोप है, उसे पकड़ना तो दूर, उसके खिलाफ कार्रवाई करने में उसके पसीने छूट जायेंगे, क्योंकि धनबाद पुलिस को पता है कि राज्य के मुख्यमंत्री रघुवर दास के हृदय में अगर कोई धनबाद का विधायक निवास करता है, तो वह सिर्फ और सिर्फ बाघमारा का भाजपा विधायक ढुलू महतो है। तभी तो राज्य में महिला आयोग के होने के बावजूद, इतनी बड़ी घटना का राज्य महिला आयोग ने अभी तक संज्ञान तक नहीं लिया। भला महिला आयोग की अध्यक्ष की इतनी मजाल की अपने परम प्रिय मुख्यमंत्री रघुवर दास को नाराज कर दें, इतनी ताकत तो महिला आयोग की अध्यक्ष में कभी हो ही नहीं सकती।

इधर इस कांड को लेकर, पूरा धनबाद आग-बबूला है, पर राज्य के मुख्यमंत्री रघुवर दास के कानों पर जूं तक नहीं रेंगी है, और न ही भाजपा में इसको लेकर सुगबुगाहट है। सूत्र बताते है कि धनबाद पुलिस प्रशासन को बता दिया गया है कि जैसे भी हो, बाघमारा के भाजपा विधायक ढुलू महतो पर कोई आंच नहीं आनी चाहिए। इधर भाजपा के जिलास्तरीय नेताओं को भी सूचना दे दी गई है कि जो अपनी रिपोर्ट वे बनाएं तो उसमें ढुलू महतो के खिलाफ एक शब्द नहीं होने चाहिए, हां कमला कुमारी पर कितना भी गाज क्यों न गिरा दी जाये, चलेगा। इसकी सारी तैयारियां भी कर ली गई है।

संभवतः धनबाद के भाजपा जिलाध्यक्ष अपने सांसद पी एन सिंह का आशीर्वाद प्राप्त कर, अपनी रिपोर्ट पार्टी मुख्यालय तक पहुंचाने के लिए, रांची आ पहुंचे है। इधर भाजपा के जिलाध्यक्ष चंद्रशेखर सिंह की भी एक महिला के साथ फोटो धमाल मचा रखी है, यह फोटो खुब वायरल हो रहा है, तथा इससे संबंधित खबरें भी अखबारों में छप चुकी है।

कमाल की बात है, पिछले कई दिनों से न्याय के लिए संघर्ष कर रही भाजपा की जिला मंत्री कमला कुमारी को लगा था कि बार-बार पीएम नरेन्द्र मोदी और सीएम रघुवर दास द्वारा बेटियों-महिलाओं के सम्मान की बात कहे जाने पर उसे भी न्याय मिलेगा, पर जो धनबाद से लेकर रांची तक बाघमारा के भाजपा विधायक ढुलू महतो को बचाने के लिए, जो तिकड़म भिराया जा रहा है, उससे साफ लगता है कि भाजपा की जिला मंत्री कमला कुमारी को जल्द ही पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया जायेगा, क्योंकि मुख्यमंत्री रघुवर दास के अतिप्रिय विधायक ढुलू महतो के खिलाफ रिपोर्ट पेश करने की हिम्मत न तो भाजपा के जिलास्तरीय नेताओं में हैं और न ही प्रदेशस्तरीय नेताओं में।

इधर झारखण्ड मुक्ति मोर्चा, मार्क्सवादी समन्वय समिति, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के सभी बडे-छोटे नेताओं ने इस कांड की कड़ी आलोचना की है, तथा भाजपा नेत्री कमला कुमारी को न्याय मिले, इसके लिए वे संघर्षरत है। मुख्यमंत्री रघुवर दास के पुतला दहन से लेकर, प्रतिदिन धरना-प्रदर्शन का दौर चल रहा है, कमला कुमारी भी अपने संघर्ष को तेज करने के लिए प्रयासरत है, उसका कहना है कि जब तक न्याय नहीं मिलेगा, उसका संघर्ष जारी रहेगा। वह कहती है कि वह अपना संघर्ष प्रधानमंत्री कार्यालय तक ले जायेगी। इसके पूर्व भी वह धमकी दे चुकी है कि अगर उसे न्याय नहीं मिला तो वह सीएम रघुवर दास ही नहीं बल्कि पीएम नरेन्द्र मोदी के समक्ष भी आत्मदाह का प्रयास करेगी।

कमला कुमारी और ढुलू महतो के इस प्रकरण ने भाजपा की चूलें हिला कर रख दी है, भाजपा चाहे जो कह लें, अब इतना तय हो गया कि जो पार्टी अपने आपको चरित्रवानों की पार्टी कहती रही हैं, इस घटना ने उसके चेहरे से नकाब उतार फेंका है, आज भी धनबाद से लेकर रांची तक, जो भी संभ्रांत लोग है, जो राजनीति में चारित्रिक शुद्धता की वकालत करते हैं, वे इस घटना को लेकर भाजपा को माफ करने के मूड में नहीं है, जबकि इसके विपरीत भाजपा के बड़े से छोटे नेता, मुख्यमंत्री रघुवर दास, महिला आयोग, सभी बाघमारा के भाजपा विधायक ढुलू महतो के पीछे आकर खड़े हो गये है, ऐसे में कमला कुमारी को न्याय मिलेगा? यह कहना मुश्किल है? क्योंकि लोग तो यह भी कहने लगे है कि जिस मुख्यमंत्री रघुवर दास ने बाघमारा के भाजपा विधायक ढुलू महतो पर से सारे के सारे अपराधिक मुकदमें उठा लेने के लिए प्रस्ताव लाया था, आज वहीं रघुवर दास, जो ढुलू के एक इशारे पर धनबाद का चक्कर काट देते हैं, वे भला कमला कुमारी जैसी छोटी कार्यकर्ता के लिए थोड़े ही न दिमाग लगायेंगे, और वह भी तब जबकि उनका परम प्रिय विधायक ढुलू, कमला कुमारी को सैक्स रैकेट की संचालिका बता चुका है।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

पर शर्म बेच खाये सरकार बहादुर को शर्म नहीं आती, क्या करें आदत से मजबूर है...

Sat Nov 24 , 2018
कल रांची में एक जबर्दस्त घटना घटी, झारखण्ड चैंबर ऑफ कामर्स ने भारत सरकार द्वारा झारखण्ड के इंडस्ट्रियल पार्क की रैंकिग पर जारी रिपोर्ट पर प्रश्न चिह्न खड़े कर दिये और यहीं नहीं इसे पूरी तरह से फर्जीवाड़ा बता दिया। झारखण्ड चैंबर के अध्यक्ष दीपक मारु और उद्योग उप समिति के चेयरमैन अजय भंडारी के शब्दों में झारखण्ड के उद्योगपति इस रैंकिंग पर हंस रहे हैं।

Breaking News