तबरेज मामले में इरफान ने कहा राज्य में कानून व्यवस्था पूरी तरह समाप्त, हत्यारी है रघुवर सरकार

तबरेज अंसारी के हत्यारों को सरकार द्वारा क्लीन चिट दिए जाने पर जामताड़ा विधायक एवं कांग्रेस के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष डा. इरफान अंसारी ने गहरा आक्रोश व्यक्त किया है। उनका कहना कि सरकार का यह निर्णय राज्य की जनता के साथ अन्याय हैं, तथा दोषियों अपराधियों को बचाने का सबसे बड़ा षडयंत्र  हैं। उन्होंने कहा कि इस राज्य में कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज नहीं है। यह सरकार हत्यारी है।

उन्होंने कहा कि मॉब लिंचिंग के नाम पर बेगुनाह तबरेज अंसारी को मौत के घाट उतार दिया गया और सरकार के दबाव में पूरा प्रशासन इस मामले को लीपापोती कर इसे ब्रेन हेमरेज का मामला दिखाकर रफादफा कर दिया। सरकार ने जिस तबरेज अंसारी को चोर कहा वह दरअसल मामूली एक पढ़ा लिखा कमाने खाने वाला व्यक्ति था।

इरफान अंसारी ने कहा कि वे जानना चाहते हैं, भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं से कि क्या उन्हें किसी बेकसूर को मारने का हक है? इस सरकार में गुंडागर्दी चरम सीमा पर है और जिस तरह सरकार के दबाव में पुलिस द्वारा अपराधियों के धारा को बदलवा दिया जाता है वो सरासर अन्याय है।

जिस तरह मेडिकल रिपोर्ट में दिखाया गया की तबरेज अंसारी की मौत ब्रेन हेमरेज से हुई, वह सरासर फर्जी है, जबकि सच तो यह है 12 की संख्या में लोगों ने तबरेज अंसारी को पीटपीटकर मार डाला। उन्होंने कहा कि वे इस मुद्दे पर चुप नहीं रहनेवाले और जब तक दोषियों को फांसी की सजा ना दिला देंगे, वे चैन से नहीं बैठेंगे।