धनबाद के कतरास में दो गुटों के मनबढूंओं ने माहौल किया खराब, पथराव, लाठीचार्ज के बाद धारा 144 लागू

पीएम नरेन्द्र मोदी को मिली अपार सफलता और गिरिडीह संसदीय सीट से भाजपा समर्थित आजसू उम्मीदवार चंद्रप्रकाश चौधरी को मिली जीत से बौराएं भाजपा-आजसू के कार्यकर्ताओं ने कतरास में विजय जुलूस क्या निकाला, ये जुलूस कतरास के शांतिप्रिय लोगों के लिए काल बनकर आ गई। बताया जाता है कि जब यह जुलूस गुहीबांध मस्जिद पहुंची, तब वहां तराबीह की नमाज पढ़ी जा रही थी,

पीएम नरेन्द्र मोदी को मिली अपार सफलता और गिरिडीह संसदीय सीट से भाजपा समर्थित आजसू उम्मीदवार चंद्रप्रकाश चौधरी को मिली जीत से बौराएं भाजपा-आजसू के कार्यकर्ताओं ने कतरास में विजय जुलूस क्या निकाला, ये जुलूस कतरास के शांतिप्रिय लोगों के लिए काल बनकर आ गई। बताया जाता है कि जब यह जुलूस गुहीबांध मस्जिद पहुंची, तब वहां तराबीह की नमाज पढ़ी जा रही थी, जिसे देख नमाज पढ़ रहे लोगों में से एक ने जुलूस में शामिल लोगों को आगे जाने तथा मस्जिद से दूर जाकर पटाखे छोड़ने की अपील की।

जिसे जुलूस में शामिल कुछ मनबढूंओं ने मानने से इनकार कर दिया, फिर क्या था, दोनों पक्षों में विवाद बढ़ा, और फिर एक पक्ष के लोगों ने दूसरे पक्ष को अपना निशाना बनाना शुरु किया, जिसमें किशन शर्मा और उनकी पत्नी अंचला शर्मा घायल हो गई, इन लोगों ने धार्मिक स्थलों को भी निशाना बनाना शुरु किया। इसके बाद दूसरे पक्ष के लोगों ने भी एक पक्ष को अपना निशाना बनाया। रात में हुई इस घटना के बाद पुलिस ने मामले को  शांत करने की भरसक कोशिश की, पुलिस पदाधिकारियों को लगा की मामला अब शांत हो गया।

लेकिन आज फिर एक पक्ष के लोगों ने दूसरे पक्ष के लोगों को अपना निशाना बनाया, जिसके विरोध में वहां के नागरिकों ने कतरास बाजार चौक जाम कर दिया, स्थिति तनावपूर्ण होता देख, स्थानीय प्रशासन ने जाम कर रहे लोगों को खदेड़ा तथा लाठी चार्ज कर माहौल को शांत करने की कोशिश की। स्थानीय प्रशासन की मानें तो मनबढूंओं की पहचान कर ली गई है, जल्द ही इन्हें सलाखों के पीछे किया जायेगा।

इधर राजनैतिक पंडितों का कहना है कि मोदी भक्तों को चाहिए कि जीत मिलने के बाद अपनी जीत का थोड़ा कम प्रदर्शन करें तथा मर्यादित ढंग से प्रदर्शन करें, क्योंकि किसी को भी चिढ़ाना, उन्हें उद्वेलित करना किसी भी प्रकार से सही नहीं है, स्थानीय प्रशासन को चाहिए कि जिन लोगो ने माहौल को खराब करने की कोशिश की, उन्हें दंडित करने का प्रयास करें, चाहे वो कोई भी हो, इधर बुद्धिजीवियों ने सभी पक्षों से शांति की अपील की है, फिलहाल धनबाद के कतरास में शांति दिख रही है।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

वाह रे भास्कर, रघुवर भक्ति में इतने लीन हो गये कि पीएम मोदी को रघुवर के सामने बौना बना दिया

Fri May 24 , 2019
देखिये, रांची के एक अखबार को, देखिये आज की पत्रकारिता को, और देखिये अखबारों के मैनेजमेंट को, कि कैसे वह आम जनता की आंखों में धूल झोकता है? पूरा देश जानता है, यहां तक कि बच्चा-बच्चा जानता है कि झारखण्ड ही नहीं, बल्कि पूरे देश में भाजपा के पक्ष में जो भी चुनाव परिणाम आये हैं, उसका अगर कोई श्रेय लेने का हकदार हैं तो वे स्वयं है – प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, न कि कोई ओर।

Breaking News