शहीद सीताराम उपाध्याय की पत्नी को नौकरी और जमीन जल्द उपलब्ध कराए सरकार

सार्वभौम शाकद्वीपीय ब्राह्मण महासभा की गिरिडीह इकाई ने मुख्य सचिव को पत्र लिखकर शहीद सीताराम उपाध्याय की पत्नी को नौकरी और जमीन जल्द उपलब्ध कराने की मांग की है। गिरिडीह के रामनाथ मिश्र और देवशंकर मिश्र ने मुख्य सचिव को लिखे पत्र में कहा है कि शहीद सीताराम उपाध्याय का पूरा परिवार आर्थिक अभावों से गुजर रहा है।

सार्वभौम शाकद्वीपीय ब्राह्मण महासभा की गिरिडीह इकाई ने मुख्य सचिव को पत्र लिखकर शहीद सीताराम उपाध्याय की पत्नी को नौकरी और जमीन जल्द उपलब्ध कराने की मांग की है। गिरिडीह के रामनाथ मिश्र और देवशंकर मिश्र ने मुख्य सचिव को लिखे पत्र में कहा है कि शहीद सीताराम उपाध्याय का पूरा परिवार आर्थिक अभावों से गुजर रहा है।

जबकि सरकार ने सीताराम उपाध्याय के शहीद होने पर शहीद के परिवार के एक सरकारी नौकरी और जमीन उपलब्ध कराने की बात की थी, लेकिन आज तक न तो शहीद के परिवार को नौकरी मिली और न ही जमीन, जो खेद का विषय है। सार्वभौम शाकद्वीपीय ब्राह्मण महासभा ने इस संबंध में विभिन्न समाचार पत्रों में इस संबंध में छपे समाचारों की कतरनों को भी संलग्न किया है।

सार्वभौम शाकद्वीपीय ब्राह्मण महासभा के देवशंकर मिश्र एवं रामनाथ मिश्र ने विद्रोही24.कॉम को बताया कि इस संबंध में एक ज्ञापन भी गिरिडीह के उपायुक्त को सौंपा गया है, तथा उनसे अनुरोध किया गया कि वे जल्द इस पर ध्यान दें ताकि शहीद के परिवार को आर्थिक तंगी का शिकार न होना पड़ें, क्योंकि फिलहाल शहीद का पूरा परिवार विभिन्न प्रकार के आर्थिक संकटों से जूझ रहा है, जिसका समाधान सिर्फ उन संकल्पों को पूरा करने से हो जायेगा, जो संकल्प सरकार ने सीताराम उपाध्याय के शहीद होने पर की थी

Krishna Bihari Mishra

Next Post

राहुल के एक बयान से पूरे पाकिस्तान में खुशी की लहर, पाकिस्तानी मीडिया, सेना और सरकार ने राहुल के बयान का किया समर्थन

Thu Feb 28 , 2019
पूरे पाकिस्तान में उस वक्त खुशी की लहर दौड़ गई, जब आज 21 विपक्षी दलों की बैठक के बाद कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने संयुक्त विपक्ष की ओर से एक साझा बयान में कहा कि सत्तारुढ़ दल के नेताओं द्वारा जवानों की शहादत का राजनीतिकरण करने पर सभी विपक्षी दलों ने चिन्ता व्यक्त की है। राहुल का इधर वक्तव्य जारी हुआ और उधर पाकिस्तानी मीडिया ने जमकर इस पर बवाल काटा तथा पूरे विश्व को यह बताने की कोशिश कर दी

You May Like

Breaking News