सुप्रसिद्ध फिल्मकार गौतम घोष को CM के प्रधान सचिव ने घंटो इंतजार करवाया

याद करिये, हाल ही में 20 सूत्री कार्यक्रम की बैठक में धनबाद के ही भाजपा सांसद पीएन सिंह ने मुख्यमंत्री रघुवर दास के समक्ष कहा था कि उनका फोन तो आपके प्रधान सचिव सुनील कुमार बर्णवाल ही नहीं उठाते हैं, जबकि उन्होंने उन्हें बीसियों फोन किये। ये समाचार अखबारों में सुर्खिया बन गई थी, पर मुख्यमंत्री रघुवर दास को इस बात का तनिक दुख नहीं हुआ कि उसके नौकरशाह उसी के भाजपा सांसद को आखिर फोन क्यों नहीं उठाते?

याद करिये, हाल ही में 20 सूत्री कार्यक्रम की बैठक में धनबाद के ही भाजपा सांसद पीएन सिंह ने मुख्यमंत्री रघुवर दास के समक्ष कहा था कि उनका फोन तो आपके प्रधान सचिव सुनील कुमार बर्णवाल ही नहीं उठाते हैं, जबकि उन्होंने उन्हें बीसियों फोन किये। ये समाचार अखबारों में सुर्खिया बन गई थी, पर मुख्यमंत्री रघुवर दास को इस बात का तनिक दुख नहीं हुआ कि उसके नौकरशाह उसी के भाजपा सांसद को आखिर फोन क्यों नहीं उठाते

आज फिर ऐसी ही एक घटना घट गई, सुप्रसिद्ध फिल्मकार, पार, यात्रा, पतंग जैसी फिल्मों के डायरेक्टर और सिनेमेटोग्राफर गौतम घोष प्रोजेक्ट बिल्डिंग स्थित झारखण्ड मंत्रालय सीएम रघुवर दास से मिलने पहुंचे, पर सीएम रघुवर दास के पीए अंजन सरकार ने उन्हें टाल दिया, सीएम से मुलाकात न होने की स्थिति में उन्होंने मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुनील कुमार बर्णवाल से मुलाकात करनी चाही, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुनील कुमार बर्णवाल ने तो, उन्हें घंटो बिठा दिया।

जब गौतम घोष को लगा कि उनके साथ ये ठीक नहीं हो रहा, बेचारे वे प्रोजेक्ट बिल्डिंग से निकल पड़े, जैसे ही सुप्रसिद्ध फिल्मकार गौतम घोष के निकलने की सूचना सुनील कुमार बर्णवाल तक फिर पहुंचाई गई, शायद सुनील कुमार बर्णवाल को लगा कि कुछ गड़बड़ियां हुई हैं, उनसे गलतियां हुई हैं, उन्होंने तुरंत गौतम घोष को बाहर से बुलवाया, गौतम घोष फिर अंदर गये, बातचीत हुई और सुनील कुमार बर्णवाल ने उनके साथ मुस्कुराते हुए एक फोटो खिंचाई, जैसे कि गौतम घोष के साथ कुछ हुआ ही नहीं।

बताया जाता है कि सुप्रसिद्ध फिल्मकार गौतम घोष, झारखण्ड में फिल्म बनाने के उद्देश्य से यहां आये हुए है, और इसी संबंध में वे सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग एवं मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुनील कुमार बर्णवाल से मिलने की कोशिश की, जिस दौरान ये सब घटना घट गई। सुप्रसिद्ध फिल्मकार गौतम घोष को मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुनील कुमार बर्णवाल द्वारा उन्हें घंटो बैठा देने की ये घटना पूरे रांची में चर्चा का विषय बना हुआ हैं।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

वाह री भाजपा, सम्मान देने के पहले खिलाड़ियों से चाय-बिस्किट सर्व करा लिया

Mon Jul 23 , 2018
ये नई भाजपा है, भारत को बदलने वाली भाजपा है, ये भाजपा हमारी सारी परम्परा-संस्कृति को बदलेगी तभी तो नया भारत बनेगा, नया झारखण्ड बनेगा। इस बदलते भारत में जिन्हें हमें सम्मानित करना है, उनसे पहले हमें चाय-बिस्किट सर्व कराना होगा, उनसे अपनी सेवा लेनी होगी, सेवा करानी होगी, जैसा कि भाजपा कार्यालय में देखने को मिला,

You May Like

Breaking News