रिम्स में हुई मौत से प्रभावित परिवारों को न्याय दिलाने के लिए उत्तम यादव दो दिवसीय उपवास पर

रिम्स में जूनियर डाक्टरों और नर्सों की हड़ताल से मात्र दो दिनों में 25 से भी अधिक लोगो की जानें चली गई, इसके लिए जो दोषी है, उन पर कानूनी कार्रवाई हो, व्यवस्था में सुधार हो, गरीबों-लाचारों पर कम से कम रिम्स जैसी अस्पतालों में अत्याचार न हो, रांची में पेयजल व विद्युत संकट दूर हो, इन सारी विषयों को लेकर झारखण्ड विकास युवा मोर्चा के केन्द्रीय अध्यक्ष उत्तम यादव आज से राजभवन के समक्ष दो दिवसीय उपवास पर बैठ गये।

रिम्स में जूनियर डाक्टरों और नर्सों की हड़ताल से मात्र दो दिनों में 25 से भी अधिक लोगो की जानें चली गई, इसके लिए जो दोषी है, उन पर कानूनी कार्रवाई हो, व्यवस्था में सुधार हो, गरीबों-लाचारों पर कम से कम रिम्स जैसी अस्पतालों में अत्याचार न हो, रांची में पेयजल व विद्युत संकट दूर हो, इन सारी विषयों को लेकर झारखण्ड विकास युवा मोर्चा के केन्द्रीय अध्यक्ष उत्तम यादव आज से राजभवन के समक्ष दो दिवसीय उपवास पर बैठ गये।

उनका यह भी कहना था कि रांची में बिजली और पानी का अभुतपूर्व संकट है, इस संकट से जिन्हें मुक्ति दिलाना है, वे इस ओर ध्यान ही नहीं दे रहे, बल्कि अपनी-अपनी मस्ती में डूबे है। कमाल है एक ओर सरकार स्मार्ट सिटी बनाने की बात कर रही है और दुसरी ओर रांची में आधी से अधिक आबादी पानी और बिजली के लिए तरस रही है। जल संकट तो इतना गहरा है कि लोगों को स्नान व अन्य कार्यों के लिए, यहां तक की पीने के लिए पानी नसीब नहीं है।

उत्तम यादव ने यह भी कहा कि फिलहाल रिम्स में प्रभावित मरीजों को न्याय दिलाने, रांचीवासियों को पेयजल संकट से मुक्ति दिलाने तथा अबाधित विद्युत आपूर्ति जारी रखने की मांग को लेकर वे दो दिवसीय उपवास पर बैठे है, अगर सरकार ने उनकी इन जायज मांगों पर शीघ्र ध्यान नहीं दिया तो वे चरणबद्ध उग्र आंदोलन करने को तैयार है।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

झारखण्ड छात्र संघ ने जूनियर डाक्टरों एवं नर्सों के खिलाफ कोतवाली थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई

Mon Jun 4 , 2018
झारखण्ड छात्र संघ के अध्यक्ष शमीम अली ने रांची के कोतवाली थाने में 28 मरीजों के मौत के जिम्मेवार जूनियर डाक्टरों एवं नर्सों के उपर भारतीय दंड संहिता एवं अपराधिक प्रक्रिया संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज करा दी, तथा इसकी प्रतिलिपि झारखण्ड की राज्यपाल, मुख्यमंत्री, स्वास्थ्य विभाग, मुख्य सचिव, सचिव, कार्मिक, प्रशासनिक सुधार एवं राजभाषा विभाग, पुलिस महानिदेशक एवं वरीय पुलिस अधीक्षक, रांची को भेज दी है।

Breaking News