ड्राइवर की सुझबूझ से धनबाद के पास तूफान एक्सप्रेस बर्निंग ट्रेन होने से बची

ड्राइवर विद्युत मंडल सह चालक अंकित कुमार की सुझबूझ के कारण धनबाद रेल मंडल में एक बहुत बड़ी दुर्घटना होते-होते बच गई। दरअसल हावड़ा-श्रीगंगानगर उद्यानआभा तूफान एक्सप्रेस की एसएलआर बॉगी में आग लग गई, जब वह थापरनगर केबिन से आगे की ओर निकली, चालक को जैसे ही आग लगने की सूचना मिली। उसने शीघ्रता से ट्रेन को रोककर, एसएलआर बॉगी को अलग किया और इस प्रकार तूफान एक्सप्रेस बर्निंग ट्रेन होने से बच गई

ड्राइवर विद्युत मंडल सह चालक अंकित कुमार की सुझबूझ के कारण धनबाद रेल मंडल में एक बहुत बड़ी दुर्घटना होते-होते बच गई। दरअसल हावड़ा-श्रीगंगानगर उद्यानआभा तूफान एक्सप्रेस की एसएलआर बॉगी में आग लग गई, जब वह थापरनगर केबिन से आगे की ओर निकली, चालक को जैसे ही आग लगने की सूचना मिली। उसने शीघ्रता से ट्रेन को रोककर, एसएलआर बॉगी को अलग किया और इस प्रकार तूफान एक्सप्रेस बर्निंग ट्रेन होने से बच गई और एक बहुत बड़ा हादसा होते-होते टल  गया, किसी को कोई क्षति नही पहुंची।

आम तौर पर यह ट्रेन आसनसोल से झाझा पटना होते हुए मुगलसराय की ओर निकलती हैं, पर मोकामा में चल रहे इंटरलॉकिंग के चलते इसका मार्ग बदल दिया गया और यह आसनसोल से धनबाद की ओर निकली। तभी थापरनगर के पास चलती ट्रेन में एसएलआर बॉगी में आग लगती दिखी। जिसे ड्राइवर ने अपनी सुझबूझ से इस समस्या का  हल निकाल लिया। तूफान एक्सप्रेस के गार्ड और ड्राइवर ने इसकी सूचना आसनसोल और धनबाद कंट्रोल रुम को दी। धनबाद से जल्द दमकल को घटनास्थल पर भेजा गया और एसएलआर में लगी आग पर काबू पाया गया। घटना आज सायं की है।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

जो सरकार ने नहीं किया, वह निजी संस्थाओं ने किया, 240 छात्राओं को दिखाई 'पैडमैन'

Tue Feb 20 , 2018
आज ही हमें एक जगह पढ़ने को मिला, कि कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय ओरमांझी की 240 छात्राओं को गत सोमवार को रांची के स्प्रिंग सिटी मॉल स्थित फन सिनेमा में फिल्म पैडमैन दिखाई गई। इस फिल्म को दिखाने के बाद उनके बीच 3000 सेनेटरी नैपकिन भी बांटे गये। यह भी पता चला कि फिल्म दिखाने की व्यवस्था रांची पुलिस, राइजअप व झारखण्ड फिल्म एंड थियेटर एकेडमी की ओर से की गई थी।

You May Like

Breaking News