जो सरकार ने नहीं किया, वह निजी संस्थाओं ने किया, 240 छात्राओं को दिखाई ‘पैडमैन’

आज ही हमें एक जगह पढ़ने को मिला, कि कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय ओरमांझी की 240 छात्राओं को गत सोमवार को रांची के स्प्रिंग सिटी मॉल स्थित फन सिनेमा में फिल्म पैडमैन दिखाई गई। इस फिल्म को दिखाने के बाद उनके बीच 3000 सेनेटरी नैपकिन भी बांटे गये। यह भी पता चला कि फिल्म दिखाने की व्यवस्था रांची पुलिस, राइजअप व झारखण्ड फिल्म एंड थियेटर एकेडमी की ओर से की गई थी।

सचमुच ऐसा करके रांची पुलिस, राइज अप व झारखण्ड फिल्म एंड थियेटर एकेडमी ने सराहनीय प्रयास किया है, अन्य संस्थाओं को भी चाहिए कि इस प्रकार के कार्यक्रम आयोजित कर, छात्राओं को जागरुक करें तथा उन्हें स्वच्छता के मूल उद्देश्यों से परिचय कराये, क्योंकि इससे अंततः फायदा हमारा और हमारे समाज का ही हैं।

विद्रोही24.कॉम तो इस फिल्म को टैक्स फ्री करने की मांग राज्य सरकार से की थी, ताकि हमारे राज्य की स्कूली छात्राएं इसका सीधा-सीधा लाभ उठाएं, पर राज्य सरकार को शायद इस फिल्म के सामाजिक पक्ष का ज्ञान नहीं और न ही इनके लोग इस पर ध्यान देना चाहते हैं, अच्छा रहता कि राज्य सरकार इस फिल्म को टैक्स फ्री करती और राज्य की बालिकाएं व परिवार इस फिल्म को देख स्वच्छता के मूल उद्देश्यों को समझ पाती।

फिर भी राज्य सरकार द्वारा टैक्स फ्री नहीं किये जाने के बावजूद राज्य की कई संस्थाओं द्वारा छात्राओं को फिल्म दिखाने और उसके उद्देश्यों से उन्हें परिचय कराना एक अच्छा प्रयास हैं, जिसकी सराहना होनी चाहिए, हम चाहेंगे कि ऐसी जागृति अन्य संस्थाओं में भी दिखाई दें ताकि हमारे राज्य की छात्राएं स्वच्छता से परिचित हो।