हेमन्त ने रघुवर सरकार पर की कड़ी टिप्पणी, कहा – ये सरकार नहीं, लूटेरों और लठेतों की जमात हैं

सिल्ली और गोमिया में झारखण्ड मुक्ति मोर्चा ने शानदार सफलता अर्जित की है। झामुमो की सफलता और विपक्षी एकता से उत्साहित नेता प्रतिपक्ष हेमन्त सोरेन से बातचीत की, विद्रोही 24.कॉम ने। आइये एक नजर डालते है, हेमन्त सोरेन से पुछे गये सवाल और उनके द्वारा दिये गये जवाब के कुछ अंश –
विद्रोही 24.कॉम – आपने सिल्ली – गोमिया पर जीत दर्ज की और इधर राज्य सरकार ने आपके विधायक चंपई सोरेन के खिलाफ केस खुलवा दी, क्या कहेंगे?

सिल्ली और गोमिया में झारखण्ड मुक्ति मोर्चा ने शानदार सफलता अर्जित की है। झामुमो की सफलता और विपक्षी एकता से उत्साहित नेता प्रतिपक्ष हेमन्त सोरेन से बातचीत की, विद्रोही 24.कॉम ने। आइये एक नजर डालते है, हेमन्त सोरेन से पुछे गये सवाल और उनके द्वारा दिये गये जवाब के कुछ अंश –

विद्रोही 24.कॉम – उधर आपने सिल्ली और गोमिया पर जीत दर्ज की और इधर राज्य सरकार ने आपके विधायक चंपई सोरेन के खिलाफ दर्ज 25 साल पुराने केस, जिस पर अब तक चार्जशीट भी दाखिल नहीं हुआ, उस मामले से संबंधित फाइल खुलवा दी, क्या कहेंगे?

हेमन्त सोरेन – दरअसल यहां सरकार नाम की कोई चीज है ही नहीं, यहां तो लूटेरों और लठैतों की जमात है, इनका एक गैंग है, जो गठबंधन के माध्यम से लोकतंत्र की हत्या कर रहा हैं, अभी सिल्ली और गोमिया की जनता ने इन्हें आइना दिखाया है, पर ये सुधरने को तैयार नहीं, अगर ये नहीं सुधरेंगे तो जनता को सुधारने आता है। वे झामुमो के टिकट पर चुनाव जीते जनप्रतिनिधियों को हतोत्साहित करते जा रहे है, उन्हें केस-मुकदमों में फंसाने का जो षडयंत्र रच रहे हैं। सामाजिक समरसता को तार-तार कर रहे हैं। इन सब पर झामुमो की नहीं, बल्कि राज्य की समस्त जनता की नजर है, आप स्वयं देख लेंगे कि 2019 में इनका क्या हाल होने जा रहा हैं?

विद्रोही 24.कॉम – आजसू सुप्रीमो सुदेश महतो ने कहा है कि भाजपा के साथ गठबंधन व सहयोग पर पुनर्विचार करेंगे, क्या लगता है कि वे ऐसा कर पायेंगे?

हेमन्त सोरेन – ऐसा है कि सुदेश महतो और उनकी पार्टी का नीति-सिद्धांत उनकी समझे से परे हैं, इतनी बेइज्जती होने के बावजूद भी सरकार में रहने की प्रवृत्ति, आनेवाले समय में आजसू के अस्तित्व पर ही संकट ला देगा, शायद आजसू के नेताओं को इस बात की समझ नहीं।

विद्रोही 24.कॉम – जिस प्रकार की राजनीति बीजेपी-आजसू कर रही हैं, उस प्रकार की राजनीति करने में आपको विश्वास है, या आप ऐसी राजनीति करना पसंद करेंगे?

हेमन्त सोरेन – ऐसा है कि आजसू और भाजपा की जो राजनीति करने का ढंग है, वह अनुकरणीय नहीं है। जाति-धर्म की राजनीति न झामुमो की है, और न करेगी। आजसू जो बीजेपी का चेहरा बनने की कोशिश कर रही है, वह उसके लिए घातक है, उसका परिणाम उसे मिल भी रहा है, हाल ही में झामुमो को विभिन्न सोशल साइटों के माध्यम से नीचा दिखाने की कोशिश, महतो-कुर्मी-आदिवासियों के बीच लड़वाने की कोशिश, ये सब क्या है? शायद बीजेपी और आजसू को मालूम नहीं कि झामुमो, झारखण्ड का पर्याय है, जो हमें झारखण्ड से उखाड़ने की बात करेंगे, उन्हें नहीं पता कि यहां की जनता उन्हें ही उखाड़ कर फेंक देगी।

विद्रोही 24.कॉम – अब ज्यादा समय नहीं, लगता है कि लोकसभा चुनाव के साथ भाजपा, विधानसभा का चुनाव भी कराना चाहेगी, क्या आप तैयार है?

हेमन्त सोरेन – हम भाजपा की राजनीति को बहुत अच्छी तरह जानते है? ये भाजपा न तो चुनाव आयोग के सुझावों को मानती है, न तो इसे परंपराओं पर विश्वास है, और न तो संविधान के साथ ये चलनेवाले है। ये शत प्रतिशत अपनी सहूलियतों के अनुसार राजनीति करते है। अभी आप देखियेगा, जैसे-जैसे लोकसभा का चुनाव आयेगा, ये भाजपा गरीबों तक खाना पहुंचाये या नहीं पहुंचाये, ये फ्री का मोबाइल, फ्री का डाटा, फ्री का इंटरनेट कनेक्शन उपलब्ध करायेगी और बेरोजगार युवकों को अपने सपनों के जाल में फंसाने का काम करेगी, उन्हें ये फंसायेगी, जिन्हें इस पार्टी ने रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने को कहा था, नफरत की राजनीति शुरु की जायेगी, औद्योगिक घरानों को जमकर दोहन करने का लाइसेंस जारी किया जायेगा, किसी की व्यक्तिगत जीवन को, राजनीति में लाकर ये लोग पटकने की कोशिश करेंगे, उनके सम्मान के साथ खेलेंगे, सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग करायेंगे, एक ऐसा नफरत का माहौल इनके द्वारा क्रियेट करने की कोशिश की जायेगी, जिसका लाभ वे उठा सकें, पर उन्हें नहीं पता कि सबकी काट, झामुमो के पास है,और इन सबका जवाब जनसहयोग के साथ झामुमो उन्हें समय पर देगी, क्योंकि आनेवाला कल हमारा है, हम सारे विपक्षी दल एक साथ, एक स्वर से इस आततायी सरकार का मुकाबला करेंगे और 2019 में परास्त कर, एक नये झारखण्ड की नींव रखेंगे, जो दिशोम गुरु शिबू सोरेन जी का सपना है।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

बंगाल में तृणमूल कांग्रेस के अत्याचार से प्रभावित भाजपाइयों ने झारखण्ड में लिया आश्रय

Sat Jun 2 , 2018
बंगाल में भाजपाइयों पर हमले अब सामान्य बात हो गई है, वहां भाजपाइयों के खिलाफ सुनियोजित ढंग से हमले किये जा रहे है, उन्हें मौत के घाट उतारा जा रहा है, और ये सारे काम तृणमूल कांग्रेस के लोग कर रहे हैं, और इनका साथ स्थानीय बंगाल पुलिस दे रही है, यहीं कारण है कि जान बचाने के लिए फिलहाल हम सभी झारखण्ड के शहरों में अपना ठिकाना ढूंढ रहे है।

Breaking News