झामुमो के झारखण्ड संघर्ष यात्रा का दुसरा चरण प्रारम्भ, जनता का मिला अपार समर्थन

झारखण्ड मुक्ति मोर्चा की बहुचर्चित झारखण्ड संघर्ष यात्रा का दुसरा चरण आज से प्रारम्भ हो गया। झारखण्ड संघर्ष यात्रा के दूसरे चरण की शुरुआत नेता प्रतिपक्ष हेमन्त सोरेन भगवान बिरसा मुंडा की जन्मस्थल उलिहातु से की। उलिहातु, सायको चौक, भगत सिंह चौक खूंटी और तोरपा ब्लॉक मैदान तक पहुंची आज झारखण्ड संघर्ष यात्रा में आम जनता ने भी रुचि दिखाई तथा नेता प्रतिपक्ष हेमन्त सोरेन के प्रति अपना खुलकर समर्थन अभिव्यक्त किया।

झारखण्ड मुक्ति मोर्चा की बहुचर्चित झारखण्ड संघर्ष यात्रा का दुसरा चरण आज से प्रारम्भ हो गया। झारखण्ड संघर्ष यात्रा के दूसरे चरण की शुरुआत नेता प्रतिपक्ष हेमन्त सोरेन भगवान बिरसा मुंडा की जन्मस्थल उलिहातु से की। उलिहातु, सायको चौक, भगत सिंह चौक खूंटी और तोरपा ब्लॉक मैदान तक पहुंची आज झारखण्ड संघर्ष यात्रा में आम जनता ने भी रुचि दिखाई तथा नेता प्रतिपक्ष हेमन्त सोरेन के प्रति अपना खुलकर समर्थन अभिव्यक्त किया। जनता का हेमन्त सोरेन को मिल रहा समर्थन इस बात का प्रतीक है कि राज्य की जनता वर्तमान सरकार के क्रियाकलापों से प्रसन्न नहीं।

शायद यहीं कारण रहा कि धरती आबा भगवान बिरसा मुंडा की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के बाद, हेमन्त सोरेन ने आम जनता से यह कहते हुए आशीर्वाद मांगा कि भगवान बिरसा का आशीर्वाद उन्हें मिल चुका है, उनकी झारखण्ड संघर्ष यात्रा का दुसरा चरण प्रारम्भ हो चुका है, वे इस संघर्ष यात्रा के दौरान मिल रहे जनसमर्थन से उत्साहित हैं, वे आम जनता के प्रति कृतज्ञता का भाव प्रकट करते हुए, जनता से चाहेंगे कि वे अपना आशीर्वाद दें, ताकि उनके सपनों का झारखण्ड बनाने में कोई बाधा उपस्थित न हो सकें।

झारखण्ड संघर्ष यात्रा के दौरान, आम जनता को संबोधित करते हुए, नेता प्रतिपक्ष हेमन्त सोरेन ने कहा कि इस झारखण्ड विरोधी रघुवर सरकार ने झारखण्डियत और आदिवासी अस्मिता पर जो वार किया है, उसे झारखण्ड की जनता कभी भूल नहीं सकती और न वे भूलने जा रहे। उन्होंने कहा कि भगवान बिरसा मुंडा ने दमन के खिलाफ जिस उलगुलान की शुरुआत की थी, हम सभी को, ठीक उसी प्रकार वर्तमान दमनकारी शक्तियों के खिलाफ मिलकर खड़ा हो उठना है, और संघर्ष करनी है, निःसंदेह इसमें सफलता मिलेगी। उन्होंने उलिहातू में मिले अपार समर्थन के लिए जनता के प्रति कृतज्ञता का भाव भी ज्ञापित किया।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

रांची की प्रतिष्ठित पहाड़ी मंदिर को बचाने के लिए युवाओं का राजभवन मार्च

Sun Oct 28 , 2018
पहाड़ी मंदिर को बचाने को लेकर राष्ट्रीय युवा शक्ति के बैनर तले बड़ी संख्या में युवाओं ने पहाड़ी मंदिर से लेकर राजभवन तक आक्रोश मार्च निकाला। यह आक्रोश मार्च राष्ट्रीय युवा शक्ति के अध्यक्ष उत्तम यादव के नेतृत्व में निकाला गया, जिसमें मुख्य रुप से मिसेस जय एशिया रिंकू भगत ने भी भाग लिया। आक्रोश मार्च में शामिल बड़ी संख्या में युवा पहाड़ी मंदिर को बचाने से संबंधित तख्तियां अपने हाथों में लिये थे

Breaking News