गवर्नर से मिलेगा राजद प्रतिनिधिमंडल, करेगा सरकार की शिकायत, मानवाधिकारों का उल्लंघन बर्दाश्त नहीं

राष्ट्रीय जनता दल ने आज अपने प्रदेश मुख्यालय में राज्य सरकार द्वारा की जा रही जन-विरोधी कार्यों को लेकर एक प्रेस कांफ्रेस का आयोजन किया, जिसे राजद प्रदेश अध्यक्ष गौतम सागर राणा ने संबोधित किया। गौतम सागर राणा ने कहा कि राज्य सरकार लॉ एंड आर्डर की आड़ में मानवाधिकारों के उल्लंघन पर उतारु हो गई हैं, अगर चुनाव नहीं होता, आचार संहिता लागू नहीं होता, तो राज्य के राजद कार्यकर्ता सरकार को बता देते कि…

राष्ट्रीय जनता दल ने आज अपने प्रदेश मुख्यालय में राज्य सरकार द्वारा की जा रही जनविरोधी कार्यों को लेकर एक प्रेस कांफ्रेस का आयोजन किया, जिसे राजद प्रदेश अध्यक्ष गौतम सागर राणा ने संबोधित किया। गौतम सागर राणा ने कहा कि राज्य सरकार लॉ एंड आर्डर की आड़ में मानवाधिकारों के उल्लंघन पर उतारु हो गई हैं, अगर चुनाव नहीं होता, आचार संहिता लागू नहीं होता, तो राज्य के राजद कार्यकर्ता सरकार को बता देते कि उनके नेता लालू प्रसाद यादव के साथ किया जा रहा यह अन्याय का वे कैसे बदला लेते हैं।

उन्होंने कहा कि सप्ताह में एक दिन, वह भी तीन व्यक्तियों से मिलने पर भी राज्य सरकार को आपत्ति हैं, ये मानवाधिकार का उल्लंघन हैं, राज्य सरकार भूल रही हैं कि वह लालू प्रसाद यादव जैसे नेता के साथ ऐसी हरकत कर, अपना कब्र स्वयं खोद रही है। उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री के इशारे पर मुख्यमंत्री रघुवर दास लोकतांत्रिक व्यवस्था को नष्ट कर रहे हैं, ज्ञातव्य है कि कल 20/4/19 को रिम्स अस्पताल में इलाजरत राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को सरकार के दबाव में प्रशासन द्वारा लोगों से मुलाकात नहीं करने दिया गया।

जबकि रिम्स अस्पताल में शनिवार को जेल मैन्युअल के अनुसार सप्ताह में तीन दिन राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव से लोग मिल सकते हैं, लेकिन दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से जेल अधीक्षक ने शनिवार को दिवार में नोटिस चिपकाकर विधिव्यवस्था का हवाला दे लालू जी से मिलने नहीं दिया, जेल प्रशासन द्वारा ऐसे दुःसाहसी निर्णय से राजद कार्यकर्ता आहत है। राणा ने कहा कि यह विषय लोकतांत्रिक मर्यादाओं के खिलाफ है,जबकि सर्वविदित है कि लालू यादव बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री एवं केंद्र में रेल मंत्री रह चुके है। प्रशासन के इस ओछी हरक़त के लिए राजद का एक उच्चस्तरीय शिष्टमंडल गवर्नर से मिलकर इसकी उच्चस्तरीय जांच की मांग करेगा।

23 अप्रैल को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के रांची आगमन पर अध्यक्ष राणा ने कहा कि स्वयं प्रधानमंत्री बोलते है कि देश में मोदी है तो मुमकिन है, लेकिन मेरा मोदी जी से सवाल है कि आप 56 इंच का सीना की बात करते हैं और राँची के डम्मी भाजपा प्रत्याशी के लिए रोड शो करना पड़ रहा है, राज्य की जनता जानना चाहती है कि मोदी जी 2014 मे किये गए झूठे वादों और जुमलेबाजी के विषय मे क्या जवाब देंगे?

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री रघुवर दास चुनावी जनसभाओं में पिछड़ो को 27 % आरक्षण देने के नाम पर लोगों को धोखा दे रहे हैं, जबकि सच्चाई यह है कि विधानसभा में विधायकों द्वारा आरक्षण की मांग के सवाल पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए नकारात्मक जवाब देते हैं और बाहर जनसभा में लोगो को झूठा दिलासा देते हैं। उनके द्वारा आरक्षण देने की आश्वासन देने की बात करना सरासर आचार संहिता का उल्लंघन है।

राणा ने कहा कि राज्य के मुख्यमंत्री को विपक्ष के लोगों पर अमर्यादित टिप्पणी करना शोभा नहीं देता है, क्योंकि वह सवा तीन करोड़ जनता के मुख्यमंत्री है, ऐसी ओछी बयानबाज़ी से बचने की वे उन्हें सलाह देंगे। राणा ने प्रधानमंत्री से सवाल किया कि देश मे स्टाफ सेलेक्शन का चेयरमैन असीम खुराना का चयन बिल्कुल नियम संगत नही है क्योंकि खुराना की नियुक्ति को युपीएससी और कानून मंत्रालय के तरफ से 5 बार रिजेक्ट किया गया था, तो आखिर कौन सी मजबूरी थी कि प्रधानमंत्री ने नियमों को ताक पर रख कर उनकी बहाली कर दी।

देश के लोगो का मानना है कि असीम खुराना गुजरात कैडर होने के कारण सभी नियमों को ताक पर नियुक्त किये गए। राणा ने प्रेस वार्ता में बताया कि प्रदेश राजद महासचिव कैलाश यादव को अतिरिक्त प्रभार देकर संगठन की मजबूती एवं धारदार बनाने के लिए राँची जिला का संयोजक नियुक्त किया गया और प्रदेश उपाध्यक्ष अर्जुन यादव को हजारीबाग जिला का अतिरिक्त प्रभार देकर संयोजक बनाया गया है।

चतरा में राजद प्रत्याशी सुभाष यादव और पलामू लोकसभा के महागठबंधन से राजद उम्मीदवार घूरन राम दोनों ऐतिहासिक जीत दर्ज करेंगे, क्योंकि उन्होंने सप्ताह दिन से चुनाव प्रचार में दृश्य देखा कि भाजपा के प्रत्याशियों को लोगो ने पस्त कर दिया है, चारो तरफ राजद ही राजद के नारे लग रहे हैं। प्रेस वार्ता में मुख्य रूप से अध्यक्ष गौतम सागर राणा के अलावा प्रदेश महासचिव सह प्रवक्ता कैलाश यादव, मनोज पाण्डेय, आबिद अली, डॉ. मनोज, फिरोज अंसारी, रामकुमार यादव और कमल पाण्डेय भी उपस्थित थे।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

रघुवर भक्ति में “प्रभात खबर” ने सभी अखबारों को पछाड़ा, सही समाचारों से राज्य की जनता वंचित

Mon Apr 22 , 2019
ऐसे तो पूरे झारखण्ड से प्रकाशित हो रहे अखबार सीएम रघुवर भक्ति में लीन हैं, पर इन अखबारों में भी इस बात की होड़ लगी हैं कि रघुवर भक्ति में कौन किसको पछाड़ता हैं, इसमें निःसंदेह प्रभात खबर ने बाजी मार ली है, ऐसे में जब कभी लोकसभा के चुनाव परिणाम आयेंगे, तो इसमें कोई दो मत नहीं, भाजपा गठबंधन को सर्वाधिक सीटे मिले अथवा नहीं मिले, इस रघुवर भक्ति का इनाम झारखण्ड के शहंशाह रघुवर दास की ओर से प्रभात खबर को अवश्य मिलेगा।

Breaking News