सिविल सोसाइटी ने आरआरडीए को कहा नियमों को ताक पर रखकर कोई निर्माण न करें

झारखण्ड सिविल सोसाइटी से जुड़े आर पी शाही ने रांची क्षेत्रीय विकास प्राधिकार के अध्यक्ष को एक पत्र लिखा है, जिसकी प्रति उन्होंने रांची के उपायुक्त, रांची नगर निगम के मुख्य प्रशासकीय पदाधिकारी एवं शहरी विकास विभाग के सचिव को भी दी है।आर पी शाही ने अपने पत्र में इस बात का जिक्र किया है कि विकास भवन का नक्शा पन्द्रह साल से पहले दुबारा पास हुआ, ओरिजनल नक्शा 39 साल पहले बना था, पर पास नहीं हुआ था।

झारखण्ड सिविल सोसाइटी से जुड़े आर पी शाही ने रांची क्षेत्रीय विकास प्राधिकार के अध्यक्ष को एक पत्र लिखा है, जिसकी प्रति उन्होंने रांची के उपायुक्त, रांची नगर निगम के मुख्य प्रशासकीय पदाधिकारी एवं शहरी विकास विभाग के सचिव को भी दी है।आर पी शाही ने अपने पत्र में इस बात का जिक्र किया है कि विकास भवन का नक्शा पन्द्रह साल से पहले दुबारा पास हुआ, ओरिजनल नक्शा 39 साल पहले बना था, पर पास नहीं हुआ था।

पास किये नक्शे की वैलिडिटी केवल तीन साल होती है। अभी भी पार्किंग अपर्याप्त है और कुछ पार्किंग एरिया किराये पर दे दिया गया है। पार्किंग में नागरिकों के वहां रखने का कोई स्थान नहीं है। कृपया इस मुख्य बिंदु को ध्यान में रखें कि प्राधिकार या कोई भी विभाग नागरिकों के हितों के लिए बनते हैं, लेकिन यह कितनी विचित्र तथ्य है कि विभाग के भवनों में कहीं भी नागरिक सुविधाओं पर विचार ही नहीं किया जाता।

सिविल सोसाइटी यह मांग भी करती है कि इस विकास भवन में नागरिक वाहनों के पार्किंग की अविलम्ब व्यवस्था की जाये। वर्तमान बिल्डिंग बायलॉज के हिसाब से तो अगर दो अतिरिक्त मंजिल का निर्माण होगा तो नियमानुसार करीब अभी से चार गुणा पार्किंग स्पेस की जरुरत होगी, जो वर्तमान परिस्थितियों में असंभव है। ऐसे में क्या आरआरडीए नियमों को ताक पर रख कर केवल धन कमाने के लिए यह निर्माण करेगा, यह नियमानुसार नहीं होगा, ऐसे में इस निर्णय को अविलम्ब रद्द किया जाये।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

केन्द्र में मोदी और UP में SP-BSP की जोड़ी ने किया विवश, बहन प्रियंका के शरण में राहुल भाई

Wed Jan 23 , 2019
भाई पार्टी आपकी है, आप किसको राष्ट्रीय अध्यक्ष बनायेंगे? किसको महासचिव बनायेंगे? उससे हमें या और किसी को क्या लेना देना? आप बनाते रहिये, पर जनता को बेवकूफ बनाने का जो काम, आप या आपके जैसी अन्य पार्टियां करती है, वो आम जनता को तनिक पसन्द नहीं। आज की घटना, जिस प्रियंका वाड्रा को प्रियंका गांधी बनाकर कांग्रेस का राष्ट्रीय महासचिव बना दिया गया और उत्तर प्रदेश तथा ईस्ट की जिम्मेवारी दी गई, ऐसा नहीं कि लोग कांग्रेस की इस रणनीति को नहीं जानते।

Breaking News