कन्हैया, जिग्नेश और शेहला 16 नवम्बर को पलामू में, करेंगे जनसभा को संबोधित

देश के बहुचर्चित छात्र नेता कन्हैया कुमार 16 नवंबर को पलामू में होंगे। कन्हैया के साथ गुजरात के दलित नेता जिग्नेश मेवानी और कश्मीर की रहने वाली छात्रा शेहला रशीद भी पलामू आ रही हैं। ये सभी देश के अलग-अलग हिस्सों में छात्र युवाओं का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं । तीनों युवा नेता 16 नवंबर को शिवाजी मैदान से पलामू वासियों को संबोधित करेंगे।

देश के बहुचर्चित छात्र नेता कन्हैया कुमार 16 नवंबर को पलामू में होंगे। कन्हैया के साथ गुजरात के दलित नेता जिग्नेश मेवानी और कश्मीर की रहने वाली छात्रा शेहला रशीद भी पलामू आ रही हैं। ये सभी देश के अलग-अलग हिस्सों में छात्र युवाओं का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं । तीनों युवा नेता 16 नवंबर को शिवाजी मैदान से पलामू वासियों को संबोधित करेंगे।

सोवियत क्रांति के सौ साल पूरा होने पर वामपंथी संगठनों की ओर से पलामू में एक बड़े आयोजन की तैयारी है । इस आयोजन में इन तीनों वक्ताओं को समिति की ओर से बुलाया गया हैं। बता दें कि छात्र संगठन एआईएसएफ से जुड़े कन्हैया कुमार जेएनयू के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष है, वहीं जिग्नेश का नाम गुजरात के बड़े दलित नेता के रूप में जाना जाता है ।

आयोजन समिति के राजीव कुमार ने बताया कि महान नवंबर क्रांति के 100 साल पूरे होने पर वर्तमान व्यवस्था के विरुद्ध बेहतर कल का सपना साकार करने की लड़ाई लड़ने वाले लोग अपने-अपने तरीके से शताब्दी वर्ष के रूप में मना रहे हैं । पलामू में भी अपनी विरासत को याद करते हुए नवम्बर क्रांति के शताब्दी वर्ष समारोह की तैयारी है ।

कार्यक्रम को लेकर लोकतंत्र बचाओ, संप्रभुता बचाओ और संविधान बचाओ नारा दिया गया हैं । इस दिन शिवजी मैदान से 11 बजे भव्य रैली निकाली जायेगी और दो बजे उसी मैदान में विशाल जनसभा किया जाएगा । जहाँ ये तीनों युवा वक्ता सोवियत क्रांति समेत देश के वर्तमान परिस्थिति पर अपनी बात रखेंगे ।

आयोजन समिति से जुड़े वामपंथी नेता शैलेन्द्र कुमार ने कहा कि सोवियत क्रांति से पूरी दुनिया ने सीख ली थी और बेहतर दुनिया का सपना देखा था । यह कम्युनिस्टों के साथ साथ आम लोगों के लिए भी जरूरी है कि वह नवंबर क्रांति और इसके नायकों को सेल्यूट करें । आयोजन को सफल बनाने में भाकपा के रुचिर तिवारी, माले के उदय भुइयां, सीपीएम के एसएन नेहरू, एआईएसएफ के चद्रशेखर तिवारी, अनुपम, रवि रंजन त्रिपाठी, आइसा की दिव्या भगत, इप्टा से राजीव रंजन समेत अन्य लोग सक्रिय है ।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

बिहार के ‘देव’ में उमड़ा शाकद्वीपीय विद्वानों का समूह,  देश व समाज की परिस्थितियों पर की चर्चा

Sat Nov 11 , 2017
बिहार के ‘देव’ में आयोजित ‘मग महोत्सव’ में बड़ी संख्या में शाकद्वीपीय विद्वानों ने भाग लिया। देश के विभिन्न क्षेत्रों में योगदान कर रहे इन शाकद्वीपीय विद्वानों ने देश व समाज की परिस्थितियों पर खुलकर चर्चा की तथा सभी से शांति व एकजुटता के साथ समाज को बेहतर स्थिति में लाने के लिए एक ईमानदार प्रयास करने का संकल्प लेने का आह्वान किया।

Breaking News