आखिर झूके रेलमंत्री पीयूष गोयल, आक्रोशित युवाओं की सारी मांगे मानी

रेलमंत्री पीयूष गोयल ने ट्विवट कर बताया है कि रेलवे में ग्रुप डी की निकली बहाली में आइटीआइ की डिमांड खत्म कर दी गई हैं, साथ ही ग्रुप डी के लिए निकली आवेदन के लिए मांगे जा रहे पांच सौ रुपये की डिमांड को घटाकर एक सौ रुपये कर दिया गया हैं। ऐसा नहीं कि ये मांगे रेल मंत्री पीयूष गोयल ने प्रसन्न होकर मान ली हैं, चूंकि पूरे देश में युवाओं का आक्रोश वर्तमान केन्द्र सरकार के खिलाफ बढ़ता जा रहा था,

रेलमंत्री पीयूष गोयल ने ट्विवट कर बताया है कि रेलवे में ग्रुप डी की निकली बहाली में आइटीआइ की डिमांड खत्म कर दी गई हैं, साथ ही ग्रुप डी के लिए निकली आवेदन के लिए मांगे जा रहे पांच सौ रुपये की डिमांड को घटाकर एक सौ रुपये कर दिया गया हैं। ऐसा नहीं कि ये मांगे रेल मंत्री पीयूष गोयल ने प्रसन्न होकर मान ली हैं, चूंकि पूरे देश में युवाओं का आक्रोश वर्तमान केन्द्र सरकार के खिलाफ बढ़ता जा रहा था, तथा सरकार को लग रहा था कि युवाओं के अंदर यह बढ़ता आक्रोश 2019 के लोकसभा चुनाव में एक बहुत बड़ा मुद्दा बन सकता हैं तथा युवाओं की नाराजगी से भाजपा को लेने के देने पड़ सकते हैं, इसलिए रेल मंत्री पीयूष गोयल ने आक्रोशित युवाओं की दोनों बातें जल्दी मान ली।

अब सवाल उठता है कि जिन युवाओं ने पांच सौ रुपये की राशि जमा करा दी हैं, उन्हें वह पैसे कब और कैसे लौटायें जायेंगे? साथ ही केन्द्र सरकार नये अभ्यर्थियों से यह क्यों नहीं कह रही कि वे एक सौ रुपये की राशि के साथ अपने आवेदन जमा करें। यह सवाल अभी भी अभ्यर्थियों के मन में उमड़-घुमड़ रहा हैं। इधर आज भी पटना में युवाओं ने ग्रुप डी की निकली बहाली और उसमें व्याप्त  गड़बड़ियों को लेकर बवाल काटा, इसके पूर्व बिहार के ही आरा, समस्तीपुर, बाढ़ आदि इलाकों में युवा अभ्यर्थियों ने बवाल काटा था, देर से ही सही रेल मंत्री ने इन अभ्यर्थियों की बातों पर अमल किया और इसका श्रेय उन युवाओं को जाता है, जिन्होंने इसे गंभीरता से मुद्दा बनाया तथा इसके लिए आंदोलनरत रहे।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

दिल्ली की हवा झारखण्ड पहुंची, BJP MLA ने भू-अर्जन अधिकारी को ठोका, गालियां दी

Fri Feb 23 , 2018
पांच दिन पहले दिल्ली में आप विधायकों ने मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के सामने ही, वहां के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश को जिस भाषा में जवाब दिया और पिटाई कर दी, ठीक उसी प्रकार झारखण्ड के भाजपा विधायक साधु चरण ने भी यहां के भू-अर्जन पदाधिकारी की ठुकाई कर दी और उसे गालियां भी दे दी। फिलहाल दिल्ली के जिन दो विधायकों जरवाल और अमानुल्लाह ने दिल्ली के मुख्य सचिव की पिटाई की थी, वे तो जेल पहुंच गये,

You May Like

Breaking News