CM रघुवर के खिलाफ नहीं थम रहा ब्राह्मणों का आक्रोश, गढ़वा की आग पटना पहुंची

झारखण्ड के सीएम रघुवर दास के खिलाफ ब्राह्मणों का गुस्सा थमने का नहीं नाम ले रहा। अब यह आक्रोश झारखण्ड के बाद बिहार पहुंच गया। यहीं नहीं ब्राह्मणों का गुस्सा धीरे-धीरे पूरे देश को अपने लपेटे में ले रहा हैं। ज्यादातर इलाकों में ब्राह्मणों ने झारखण्ड के सीएम रघुवर दास द्वारा गढ़वा में दिये गये आपत्तिजनक बयान को शर्मनाक बताते हुए उनसे माफी मांगने को कहा हैं।

झारखण्ड के सीएम रघुवर दास के खिलाफ ब्राह्मणों का गुस्सा थमने का नहीं नाम ले रहा। अब यह आक्रोश झारखण्ड के बाद बिहार पहुंच गया। यहीं नहीं ब्राह्मणों का गुस्सा धीरे-धीरे पूरे देश को अपने लपेटे में ले रहा हैं। ज्यादातर इलाकों में ब्राह्मणों ने झारखण्ड के सीएम रघुवर दास द्वारा गढ़वा में दिये गये आपत्तिजनक बयान को शर्मनाक बताते हुए उनसे माफी मांगने को कहा हैं। आज ब्राह्मण राज्य स्वाभिमान महासम्मेलन के बैनर तले बड़ी संख्या में युवा ब्राह्मणों ने झारखण्ड के मुख्यमंत्री रघुवर दास के खिलाफ आक्रोश मार्च निकाला तथा पटना के इन्कम टैक्स गोलम्बर पर सीएम रघुवर दास का पुतला फूंका।

ब्राह्मण स्वाभिमान महासम्मेलन के प्रवक्ता सौरभ मिश्रा ने विद्रोही 24. कॉम को बताया कि उनका संगठन किसी भी परिस्थिति में झारखण्ड के मुख्यमंत्री रघुवर दास को माफ करने की स्थिति में नहीं हैं, क्योंकि उन्होंने गढ़वा में ब्राह्मणों को अपमानित करने का काम किया है। ये अपमान उन्हें और उनकी पार्टी को बहुत ही महंगा पड़ेगा, क्योंकि आनेवाले लोकसभा चुनाव और विधानसभा चुनाव में रघुवर दास और उनकी पार्टी भाजपा सत्ता में आने से रही, क्योंकि आज जो भाजपा सत्ता में हैं, तो उसमें अन्य समुदायों की तरह ब्राह्मणों का भी कम योगदान नहीं और न इसे नजरदांज किया जा सकता।

अंतरराष्ट्रीय ब्राह्मण महासंगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. एस त्रिवेदी ने कहा है कि नरेन्द्र मोदी और उनके लोग भूल रहे हैं कि आज जो भाजपा लोकप्रियता के शिखर पर हैं, तो वह ब्राह्मणों के कारण। जिस प्रकार से झारखण्ड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने झारखण्ड के गढ़वा में ब्राह्मणों को अपमानित किया, वह असहनीय है। ये आंदोलन और तेज होगा, और पूरे देश में भाजपा के खिलाफ ऐसा वातावरण तैयार करेगा, जिसकी भाजपा कल्पना नहीं कर सकती। उन्होंने भाजपा के केन्द्रस्थ नेताओं को चेताया कि वे अपने सीएम को कहें कि पूरे ब्राह्मण समुदाय से माफी मांगे। उन्होंने यह भी कहा कि अच्छा रहेगा कि उन्हें झारखण्ड से मुक्त करें, नहीं तो ब्राह्मण समुदाय उन्हें झारखण्ड की सत्ता से मुक्त करने का संकल्प ले लिया है, इस संकल्प को देश के सारे ब्राह्मण युवा पुरा करने के लिए लग चुके हैं।

इधर झारखण्ड की सबसे बड़ी ब्राह्मणों की संस्था सार्वभौम शाकद्वीपीय ब्राह्मण महासभा के अध्यक्ष ब्रज बिहारी पांडेय ने मुख्यमंत्री रघुवर दास को कहा कि वे अनर्गल बयानबाजी न करें। वे राज्य के मुख्यमंत्री हैं इसका ख्याल रखे, वे सभी के हैं और सभी के प्रति उन्हें आदर का भाव रखना चाहिए, अगर वे ऐसा नहीं करते, तो उनका ही नुकसान होगा, क्योंकि उन्हें पता नहीं कि राज्य की 34 विधानसभा और 4 लोकसभा क्षेत्रों में ब्राह्मणों का वर्चस्व हैं, अगर इनकी कृपा इन पर रुक गई तो उन्हें लेने के देने पड़ सकते हैं।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

CM से आक्रोशित ब्राह्मणों ने प्रारंभ किया रघुवर सत्ता विनाशक जप, रांची में पुतला दहन

Sun Dec 17 , 2017
रांची के कोकर चौक में झारखण्ड ब्राह्मण युवा मंच ने मुख्यमंत्री रघुवर दास का पुतला दहन कर आक्रोश व्यक्त किया। इनका कहना था कि मुख्यमंत्री रघुवर दास ने जो गढ़वा में जाकर ब्राह्मणों को अपमानजनक शब्द कहें, वह असहनीय है। झारखण्ड ब्राह्मण युवा मंच के बैनर तले जुटे इन युवाओं को कहना था कि हमारे वोट से इनकी सरकार बनी और ये हमें ही आंख दिखा रहे हैं, ये बर्दाश्त से बाहर की चीज हैं,

Breaking News