ट्रैफिक आतंकवाद के खिलाफ झामुमो नेता मथुरा महतो का अपने समर्थकों के साथ साइकिल मार्च

झारखण्ड मुक्ति मोर्चा के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व भूमि सुधार एवं राजस्व मंत्री मथुरा महतो अपने समर्थकों के साथ साइकिल मार्च पर निकल पड़ें। धनबाद के टुंडी इलाके में साइकिल मार्च निकाल कर उन्होंने केन्द्र व राज्य की सरकारों को जनविरोधी सरकार बताया। उनका कहना था कि केन्द्र व राज्य सरकार का यह कदम ट्रैफिक में सुधार करना नहीं, बल्कि जनता की गाढ़ी और मेहनत की कमाई पर डाका डालना हैं।

झारखण्ड मुक्ति मोर्चा के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व भूमि सुधार एवं राजस्व मंत्री मथुरा महतो अपने समर्थकों के साथ साइकिल मार्च पर निकल पड़ें। धनबाद के टुंडी इलाके में साइकिल मार्च निकाल कर उन्होंने केन्द्र राज्य की सरकारों को जनविरोधी सरकार बताया। उनका कहना था कि केन्द्र राज्य सरकार का यह कदम ट्रैफिक में सुधार करना नहीं, बल्कि जनता की गाढ़ी और मेहनत की कमाई पर डाका डालना हैं।

उन्होंने विद्रोही24.कॉम को बताया कि जब भाजपा शासित राज्य गुजरात, महाराष्ट्र और कर्नाटक जैसे राज्य नितिन गडकरी के इस फैसले के विरुद्ध हैं, तथा अपने राज्यों में इसे लागू नहीं होने दिया तो फिर राज्य की रघुवर दास सरकार को इससे क्या प्राप्त हो रहा हैं और इतनी दिलचस्पी क्यों? इसका मतलब है कि इस सरकार को राज्य की जनता को लूटने में ही आनन्द हैं, वह देख रही है कि राज्य की जो आर्थिक ढांचा हैं, वह पूरा तरह फेल हैं, ऐसे में क्यों नहीं?

इसे ठीक करने के लिए जनता से गडकरी टैक्स के नाम पर पैसे वसूले जाये। उन्होंने कहा कि राज्य केन्द्र सरकार नहीं सुधरी तो झामुमो इससे भी बड़ा आंदोलन करेगी। मथुरा महतो के साथ बड़ी संख्या में साइकिल सवार थे, जो गडकरी टैक्स वापस लो, ट्रैफिक आतंकवाद मुर्दाबाद, मोटर एक्ट काला कानून वापस लो, गरीबों की लूटनेवाली सरकार हायहाय की तख्तियां भी लिये हुए थे।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

MP संजय के समर्थकों व भाजपाइयों ने ट्रैफिक रुल्स तोड़ा, पर ट्रैफिक पुलिस ने उनसे जुर्माने नहीं वसूले

Fri Sep 13 , 2019
कल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी रांची में थे, उन्होंने नवनिर्मित झारखण्ड विधानसभा का उद्घाटन किया। रांची के भाजपा सांसद संजय सेठ भी इस दौरान अति उत्साहित दिखे और इसी उत्साह में उन्होंने अपने समर्थकों के साथ मोदी की सभा में जाने के लिए बाइक की सवारी की। खुद संजय सेठ तो इस दौरान हेलमेट पहने दिखे, पर उनके ही बाइक पर बैठे एक शख्स ने हेलमेट पहनना जरुरी नहीं समझा, और संजय सेठ को ही चूना लगा दिया।

Breaking News