राजस्थान विधानसभा चुनाव में ब्राह्मणों ने भाजपा-कांग्रेस को चेताया 40 सीटों से कम मंजूर नहीं

राजस्थान की राजधानी जयपुर में सर्व ब्राह्मण महासभा के बैनर तले ब्राह्मण युवा पंचायत में ब्राह्मणों ने भाजपा और कांग्रेस को कहा कि वे 40-40 सीटें ब्राह्मण समुदाय को उपलब्ध कराये। इनका कहना था कि राजस्थान की जनसंख्या की गणित को देखा जाय, तो राजस्थान की आबादी 7 करोड़ है, जिसमें 84 लाख ब्राह्मण हैं, जो कुल आबादी की पन्द्रह प्रतिशत है, साथ ही लगभग 45 सीटों पर ये हार-जीत को सीधा प्रभावित करते है,

राजस्थान की राजधानी जयपुर में सर्व ब्राह्मण महासभा के बैनर तले ब्राह्मण युवा पंचायत में ब्राह्मणों ने भाजपा और कांग्रेस को कहा कि वे 40-40 सीटें ब्राह्मण समुदाय को उपलब्ध कराये। इनका कहना था कि राजस्थान की जनसंख्या की गणित को देखा जाय, तो राजस्थान की आबादी 7 करोड़ है, जिसमें 84 लाख ब्राह्मण हैं, जो कुल आबादी की पन्द्रह प्रतिशत है, साथ ही लगभग 45 सीटों पर ये हार-जीत को सीधा प्रभावित करते है, परंतु सच्चाई यह है कि दोनों दल ब्राह्मणों की अनदेखी करने में ज्यादा रुचि दिखाते हैं।

युवा प्रकोष्ठ की ओर से मानसरोवर स्थित ओसियन पैलेस मैरिज गार्डन में ब्राह्मण युवा पंचायत का आयोजन किया गया था, जिसमें हजारों की संख्या में ब्राह्मण समाज के युवा, महिला, पुरुषों ने भाग लिया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सर्व ब्राह्मण महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुरेश मिश्रा थे।

सुरेश मिश्रा ने कहा कि राजनीति में वोट काफी मायने रखता है। जब तक हम शत प्रतिशत मतदान नहीं करेंगे, तब तक राजनीतिक रुप से मजबूत नहीं हो सकते, इसलिए राजस्थान में कुल 51,000 केन्द्रों के लिए बूथ वाइज कमेटियां बनाकर, शत प्रतिशत मतदान सुनिश्चित कराई जायेगी। मतदान दिवस को सभी ब्राह्मण समुदाय के लोग एक उत्सव के रुप में मनायेँ। उन्होंने कहा कि ब्राह्मणों के वोट शत प्रतिशत पड़ें, इसके लिए सर्व ब्राह्मण महासभा प्रदेश के सभी संभागों, जिलों, तहसीलों, पंचायतों, वार्डों में जागरुकता अभियान चलायेगी।

इस पंचायत में काफी संख्या में ब्राह्मण समुदाय, ढोल, नगारें और शंख बजाते हुए पहुंचे तथा राजनीतिक चेतना का इससे शंखनाद भी किया। कार्यक्रम में पूरे समय तक ब्राह्मणों की टोलियां जोश में दिखी। वे नारे लगा रहे थे। जब-जब ब्राह्मण बोला है, राजसिंहासन डोला है। जिसकी जितनी हिस्सेदारी, उसकी उतनी भागीदारी। ब्राह्मणों के सम्मान में, समाज हैं मैदान में। ब्राह्मण एकता जिंदाबाद, हम सब एक है।

सर्व ब्राह्मण महासभा के प्रभारी महासचिव व प्रवक्ता संदीप भातरा ने जानकारी देते हुए कहा कि विभिन्न वक्ताओं के उद्बोधन एवं राजनीतिक परिप्रेक्ष्य के चिन्तन-मनन के बाद सात सूत्री मांगों का प्रस्ताव पारित करने का भी निर्णय लिया गया। ये मांगे थी 1. सभी राजनीतिक दल ब्राह्मणों के प्रति मान-सम्मान बनाये रखे। 2. उचित राजनीतिक प्रतिनिधित्व दें। 3. जयपुर शहर में 4 विधानसभा सीटों पर ब्राह्मण प्रत्याशी हो। 4. शत प्रतिशत मतदान के लिए ब्राह्मण समुदाय जन-जागरण अभियान। 5. आर्थिक आधार पर ब्राह्मण आरक्षण पर सभी दल अपने रुख स्पष्ट करें। 6. राजस्थान में 40 सीटों पर ब्राह्मण प्रत्याशी हो। 7. पूरे राजस्थान में सर्व ब्राह्मण महासभा की प्रत्येक कार्यकारिणी शत प्रतिशत मतदान के लिए घर-घर संपर्क करे।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

काश, झारखण्ड के CM रघुवर दास की सोच भी, राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू की तरह होती...

Mon Oct 29 , 2018
कल की ही बात है, झारखण्ड की राजधानी रांची में राष्ट्रीय युवा शक्ति के बैनर तले, बड़ी संख्या में युवाओं की टीम ने पहाड़ी मंदिर से लेकर राजभवन तक आक्रोश मार्च निकाला। इस आक्रोश मार्च के माध्यम से युवा अपनी बात राज्यपाल महोदया तक पहुंचाना चाहते थे, वे उनसे कहना चाहते थे कि राज्यपाल महोदया, थोड़ा आप इस पर ध्यान दे, हो सकता है कि आपके ध्यान देने से पहाड़ी मंदिर की किस्मत संवर जाये।

Breaking News