हेमन्त ने कहा जनता तय करेगी खुद को सिल्ली का एकलौता बेटा माननेवाला लायक है या नालायक?

आजसू सुप्रीमो सुदेश महतो द्वारा पिछले दिनों दिये बयान कि सिल्ली विधानसभा का चुनाव सिल्ली बनाम दुमका की लड़ाई हैं, पर नेता प्रतिपक्ष हेमन्त सोरेन ने आजसू सुप्रीमो से दो सवाल पूछे है। नेता प्रतिपक्ष हेमन्त सोरेन ने सोशल साइट फेसबुक के माध्यम से आजसू सुप्रीमो सुदेश महतो पर तंज कसते हुए लिखा है कि अपने को सिल्ली का एकलौता बेटा माननेवाले सुदेशजी सिर्फ दो सवालों का जवाब दे दें।

आजसू सुप्रीमो सुदेश महतो द्वारा पिछले दिनों दिये बयान कि सिल्ली विधानसभा का चुनाव सिल्ली बनाम दुमका की लड़ाई हैं, पर नेता प्रतिपक्ष हेमन्त सोरेन ने आजसू सुप्रीमो से दो सवाल पूछे है। नेता प्रतिपक्ष हेमन्त सोरेन ने सोशल साइट फेसबुक के माध्यम से आजसू सुप्रीमो सुदेश महतो पर तंज कसते हुए लिखा है कि अपने को सिल्ली का एकलौता बेटा माननेवाले सुदेशजी सिर्फ दो सवालों का जवाब दे दें।

पहला सवाल – इस सहिष्णु राज्य को जात-पात, धर्म के नाम पर तोड़ते-तोड़ते, क्या सुदेश महतो की सोच इतनी संकुचित और छोटी हो गई कि अब वे सिल्ली को दुमका और दुमका को सिल्ली से लड़वाना चाहते है, और वह भी सिर्फ और सिर्फ अपने राजनीतिक फायदे के लिए। क्या सुदेश बतायेंगे कि सिल्ली दुमका से कैसे भिन्न है? सुदेश को मालूम होना चाहिए कि जितना सिल्ली दुमका है, उतना ही दुमका सिल्ली है और हेमन्त सिर्फ दिल्ली या दुमका का बेटा नहीं, बल्कि पूरे झारखण्ड और भारतवर्ष का बेटा है, अन्य झारखण्डियों एवं भारतीयों की तरह।

दूसरा सवाल – क्या एक बाहर के व्यक्ति के नेतृत्व में सरकार चलाते हुए उनकी हर गलत नीतियों का समर्थन करते हुए कभी सुदेश महतो को नहीं लगा कि वे अपने राज्य से गद्दारी कर रहे है। क्यों सुदेश मूकदर्शक बने रहे, जब बरवाडीह, सरायकेला में इस निरंकुश सरकार ने गोलियां/लाठियां चलवाई थी? क्यों सुदेश चुप रहे जब गरीबों के मुख से निवाला छीन, उन्हें भूखे पेट मरने दिया गया? क्यों सुदेश आज भी चुप है, जब हर रोज हमारी राज्य की बेटियों की अस्मत लूटी जा रही है? आखिर ऐसी क्या मजबूरी है सुदेश की।

हेमन्त सोरेन ने सुदेश महतो को चुनौती देते हुए कहा कि सुदेश इन सवालों का जवाब जरुर दें, क्योंकि जनता जरुर यह तय करेगी कि अपने को सिल्ली का एकलौता बेटा माननेवाला आखिर लायक है या नालायक?

Krishna Bihari Mishra

Next Post

वाह रे CM, मंत्रियों/साहबों के वेतन-भत्ते वृद्धि में उदारता और संविदाकर्मियों पर से कृपा गायब

Thu May 10 , 2018
वाह री रघुवर सरकार, गृहरक्षकों तथा अन्य अनुबंधकर्मियों के वेतन में वृद्धि की बात आयेगी तो उनकी वेतनवृद्धि में 100-200 रुपये की बढ़ोत्तरी और सरकार के मंत्रियों/साहबों के भत्ते में ढाई गुणा और वेतन में करीब 6 गुणा बढ़ोत्तरी, ताकि चुनाव लड़ने में तकलीफ ही न हो। अनुबंधकर्मी जब सड़क पर उतरेंगे, धरने देंगे, अपनी वाजिब हकों के लिए तो आप लाठी चलायेंगे। ये बाते अपने सोशल साइट के माध्यम से नेता प्रतिपक्ष हेमन्त सोरेन ने उठाया।

Breaking News