जो जनता से प्यार करेगा, वही महानायक बनेगा, हेमन्त सोरेन ने अपने व्यवहार से जनता का दिल जीता

रघुवर दास जी, अब भी वक्त है, सीखिये हेमन्त सोरेन से, कि अपने लोगों से कैसे मिला जाता हैं? कैसे संबंध मजबूत बनाए जाते हैं? पर आप इनसे सीखेंगे, हमें ऐसा लगता नहीं, क्योंकि आप तो अपने ही पार्टी के वैसे लोगों को दलाल और जयचंद कह रहे हैं, जो आपके व्यवहारों से दुखी होकर, आपका साथ देने से इनकार कर दिया और आप ऐसे लोगों को गालियां देकर उनके क्रोध की अग्नि को और भड़का रहे हैं, ये आपको मालूम होना चाहिए।

ऐसे तो आप जो अब तक कर चुके हैं, हमें नहीं लगता कि अब आपकी कभी पुनरावृत्ति भी होगी, क्योंकि आपके ग्रह-नक्षत्र बता रहे हैं कि आपका राजनीतिक भविष्य पर हेमन्त सोरेन ने सदा के लिए विराम लगा दिया है। हेमन्त सोरेन द्वारा पहली कैबिनेट और उनके द्वारा लिये गये ठोस निर्णयों ने भी जनता के बीच महानायक के रुप में उन्हें अब स्थापित कर दिया है।

यही कारण है कि उनके आवास पर झारखण्ड की जनता, उनके शुभचिन्तकों, झामुमो कार्यकर्ताओं तथा उनके प्रशंसकों की एक लंबी लाइन लगी हैं और हेमन्त भी उनके चेहरे पर उत्पन्न भावों को पढ़कर, उनसे प्राप्त आशीर्वादों को लेने में कोताही नहीं बरत रहे, क्योंकि एक अच्छा राजनीतिज्ञ वहीं है, जो सफलता व असफलता दोनों में समान भाव में रहे।

आपको मालूम होना चाहिए कि लोकसभा चुनाव के दौरान महागठबंधन को करारी हार मिली थी, पर हेमन्त ने धैर्य नहीं छोड़ा, और वे दोगुनी उत्साह से विधानसभा चुनाव में निकल पड़े, जनता ने विश्वास किया और लीजिये हेमन्त सोरेन को महानायक बना दिया और आपके अंदर छुपे गर्व और अहं ने आपकी ऐसी बाट लगा दी कि आप कही के नहीं रहे।

विद्रोही 24.कॉम में दिये गये हेमन्त सोरेन के आवास पर जुट रही भीड़ और लोगों से मिल रहे हेमन्त की चित्र बहुत कुछ कह दे रही हैं, अगर हेमन्त सोरेन ने अपने हृदय में यही भाव रखा तथा विपरीत परिस्थितियों में जिन्होंने हेमन्त सोरेन का साथ नहीं छोड़ा, उनके सम्मान में हमेशा खड़े रहे, तथा उनके बताये मार्गों पर चलते रहे, तो फिर समझ लीजिये, झारखण्ड आनेवाले समय में भारत के लिए सिरमौर हो जायेगा।

झारखण्ड का मान बढ़ेगा, क्योंकि पूर्व में जो भी मुख्यमंत्री बने, उनका कोई जनाधार नहीं था, वे सभी केन्द्र की कृपा पर बनें, आज पहली बार हेमन्त जैसा कोई व्यक्ति आया, जिसे जनता ने केन्द्र के समक्ष रख दिया और कह दिया ये हैं हमारा झारखण्ड का हीरो महानायक – झामुमो नेता हेमन्त सोरेन।

मैं तो कहूंगा कि हेमन्त सोरेन इसी प्रकार लोगों से मिलते रहे, तथा अपने एकाउंट को जनता के आशीर्वाद से भरते रहे, तथा जनता से किये गये वायदों को पूरा करने में अपनी पूरी शक्ति लगा दें, हालांकि वर्तमान में झारखण्ड की आर्थिक स्थिति बहुत ही दयनीय हैं, पूर्ववर्ती सरकार ने ऐसी व्यवस्था कर दी है कि झारखण्ड को पटरी पर लाना, भागीरथी प्रयास करने के बराबर है, फिर भी इस संसार में कोई ऐसी चीज नहीं, जो पटरी पर न लाई जा सके, ऐसे भी जब जनता का आशीर्वाद साथ हैं तो फिर समस्या कहां ठहर पाती है।