रांची में गणेशोत्सव की धूम

महाराष्ट्र के तर्ज पर झारखण्ड में भी गणेशोत्सव की धूम है। रांची के कई इलाकों में गौरीशंकर के पुत्र गणेश धमाल मचाये हुए हैं। भगवान गणेश की भव्य प्रतिमाओं के दर्शन के लिए बड़ी संख्या में लोग विभिन्न पंडालों में उमड़ रहे हैं। रांची के रेलवे कॉलनी मैदान में बने गणेश पंडाल में इन दिनों भव्य मेला भी लगा है, जिसका रसास्वादन रांची के लोग अपने पूरे परिवार के साथ आकर यहां कर रहे हैं।

महाराष्ट्र के तर्ज पर झारखण्ड में भी गणेशोत्सव की धूम है। रांची के कई इलाकों में गौरीशंकर के पुत्र गणेश धमाल मचाये हुए हैं। भगवान गणेश की भव्य प्रतिमाओं के दर्शन के लिए बड़ी संख्या में लोग विभिन्न पंडालों में उमड़ रहे हैं। रांची के रेलवे कॉलनी मैदान में बने गणेश पंडाल में इन दिनों भव्य मेला भी लगा है, जिसका रसास्वादन रांची के लोग अपने पूरे परिवार के साथ आकर यहां कर रहे हैं।

पिछले कुछ वर्षों से शुरु हुए गणेशोत्सव ने पूरे रांची में अपनी अलग पैठ बनानी शुरु कर दी है। आज से पन्द्रह-बीस वर्ष पूर्व तक कहीं भी गणेशोत्सव की धमक नहीं दिखाई पड़ती थी, पर अब इसकी लोकप्रियता बढ़ती जा रही है। आश्चर्य इस बात की है कि यहां कोई महाराष्ट्रियन नहीं हैं, पर भगवान गणेश के फैन्स इतने हैं कि यहां प्रांतीयता का भाव ही समाप्त है, जिसकी वजह से गणेश पंडाल अब बहुतायत दीख रहे है।

आयोजकों का कहना है कि उन्हें शुरुआत में लगा था कि लोगों की रुचि इसमें नहीं रहेगी, पर जैसे-जैसे वर्ष बीतते गये, लोगों की रुचि भी बढ़ती चली गई। आयोजन करने में किसी भी प्रकार की बाधा नहीं आती, सभी सहयोग करते हैं और गणेशपूजा में सम्मिलित होते तथा भव्य मेला का आनन्द लेते हैं। इस मेले के आयोजन से कई लोगों की अच्छी आमदनी भी हो जाती है। खासकर कुटीर उद्योग में रुचि रखनेवाले मजदूरों को अपने सामान बेचने का एक अच्छा प्लेटफार्म यहां मिल जाता है, जिससे उपभोक्ता और विक्रेता दोनों को लाभ मिल जाता है। ऐसे भी जहां भगवान गणेश रहते हैं, वहां कष्ट और दुख होने का सवाल ही नहीं उठता।

गणेशोत्सव भाद्रपद शुक्लपक्ष के अनन्त चतुर्दशी तक चलेगा, जिसके आने में मात्र कुछ दिन ही शेष है, तब तक अगर आपने भगवान गणेश का दर्शन नहीं किया  तो जल्दी कर लें और गणेशोत्सव की मस्ती में डूब जायें।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

2018 से हर वर्ष झारखण्ड महोत्सव

Fri Sep 1 , 2017
झारखण्ड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा है कि वे आनेवाले वर्ष 2018 से प्रतिवर्ष झारखण्ड महोत्सव आयोजित करायेंगे। इससे पूरा विश्व झारखण्ड की गौरवशाली संस्कृति को नजदीक से देख पायेगा व गौरव महसूस करेगा। मुख्यमंत्री रघुवर दास, कल संध्या राजभवन के बिरसा मंडप में आयोजित करम पर्व के अवसर पर आयोजित एक कार्यक्रम में बोल रहे थे।

Breaking News