राज्य में पहली बार, संपूर्ण विपक्ष 19 जनवरी को करेगा राज्य सरकार का पुतला दहन

राज्य में पहली बार, राजधानी रांची में 19 जनवरी को दिन के 4 बजे नेता प्रतिपक्ष हेमन्त सोरेन के नेतृत्व में संपूर्ण विपक्ष राज्य सरकार का पुतला फुंकेगा। इस दौरान राज्य के सभी प्रमुख विपक्षी दलों के सांसदों-विधायकों के समूह मौजूद रहेंगे। बताया जा रहा है, इसमें झारखण्ड मुक्ति मोर्चा, कांग्रेस, झाविमो के विधायकों, नेताओं व कार्यकर्ताओं का हुजुम रांची विश्वविद्यालय के प्रांगण में एकत्रित होने के बाद, यहां से अलबर्ट एक्का चौक की ओर प्रस्थान करेंगे।

राज्य में पहली बार, राजधानी रांची में कल यानी 19 जनवरी को दिन के 4 बजे नेता प्रतिपक्ष हेमन्त सोरेन के नेतृत्व में संपूर्ण विपक्ष एकमत होकर राज्य सरकार का पुतला फुंकेगा। इस पुतला फुंकने के दौरान राज्य के सभी प्रमुख विपक्षी दलों के सांसदों-विधायकों के समूह मौजूद रहेंगे। बताया जा रहा है, इसमें झारखण्ड मुक्ति मोर्चा के सभी सांसद- विधायक, कांग्रेस-झाविमो तथा अन्य दलों के सभी विपक्षी विधायकों, नेताओं व कार्यकर्ताओं का हुजुम रांची विश्वविद्यालय के प्रांगण में एकत्रित होने के बाद, यहां से अलबर्ट एक्का चौक की ओर प्रस्थान करेंगे। जहां राज्य सरकार का पुतला दहन करेंगे।

बताया जाता है कि कुछ दिन पहले राज्य के सभी प्रमुख विपक्षी दलों की बैठक नेता प्रतिपक्ष हेमन्त सोरेन के आवास पर बैठक हुई, जिसमें राज्य के सभी प्रमुख विपक्षी दलों के प्रमुख नेताओं ने भाग लिया तथा निर्णय लिया था कि 19 जनवरी को राज्य सरकार का पुतला फूंका जायेगा, क्योंकि राज्य सरकार ने विपक्षी नेताओं की बातों को मानने से इनकार किया। विपक्षी दल के नेताओं की मांग थी कि मुख्य सचिव राजबाला वर्मा, डीजीपी डी के पांडेय एवं एडीजी अनुराग गुप्ता को पदमुक्त कर इनके कार्यकाल की सीबीआई जांच करायी जाय।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

18 जनवरी 1941 की वो रात जब गोमो स्टेशन पर अंतिम बार नेताजी को देखा गया

Fri Jan 19 , 2018
18 जनवरी, एक ऐतिहासिक दिन। बहुत कम ही लोग जानते है कि झारखण्ड में गोमो जंक्शन नामक रेलवे स्टेशन पर 18 जनवरी 1941 को, नेताजी सुभाष चंद्र बोस को अंतिम बार देखा गया था। बताया जाता है कि अंतिम दिन दिल्ली जाने के लिए उन्होंने यहीं से गाड़ी पकड़ी थी और उसके बाद फिर उन्हें कहीं नहीं देखा गया।

Breaking News