खिलाड़ियों के बेहतर भविष्य के लिए प्रतिबद्ध CM हेमन्त ने फुटबॉलर संगीता की बेहतरी के लिए धनबाद DC को दिये निर्देश

जैसे ही राज्य के मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन को इस बात की जानकारी मिली की धनबाद की अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल खिलाड़ी ईट-भट्ठों में काम कर रही हैं तथा उसकी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं हैं, उन्होंने धनबाद के उपायुक्त को एक ट्विट किया। ट्विट में उन्होंने धनबाद के डीसी को निर्देश दिया कि वे जल्द धनबाद में डे बोर्डिंग फुटबॉल सेन्टर का शुभारम्भ कराने का प्रयास करें। जिसमें संगीता बतौर कोच/ट्रेनर काम करेंगी, इससे उसको नियमित आय भी होगा, साथ ही वह महिला खिलाड़ियों को प्रशिक्षित भी करेगी।

जैसे ही राज्य के मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन को इस बात की जानकारी मिली की धनबाद की अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल खिलाड़ी ईट-भट्ठों में काम कर रही हैं तथा उसकी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं हैं, उन्होंने धनबाद के उपायुक्त को एक ट्विट किया। ट्विट में उन्होंने धनबाद के डीसी को निर्देश दिया कि वे जल्द धनबाद में डे बोर्डिंग फुटबॉल सेन्टर का शुभारम्भ कराने का प्रयास करें।

जिसमें संगीता बतौर कोच/ट्रेनर काम करेंगी, इससे उसको नियमित आय भी होगा, साथ ही वह महिला खिलाड़ियों को प्रशिक्षित भी करेगी। मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन की मानें तो वे राज्य में खिलाड़ियों के बेहतर भविष्य और उनके कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है। इसमें कोई किन्तु-परन्तु नहीं हैं। इसी बीच मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन के इस ट्विट पर काफी लोगों ने प्रतिक्रिया भी दी हैं, और उन्हें इसके लिए साधुवाद दिया।

इधर वरिष्ठ महिला पत्रकार अन्नी अमृता ने जमशेदपुर में कहा कि जब सत्ता पक्ष और विपक्ष मिलकर जनसेवा करेंगे तो पहल रंग लायेगी ही, पर एक सवाल भी है, यहां धनबाद में डे बोर्डिंग फुटबॉल सेन्टर के लिए धनबाद के उपायुक्त को निर्देशित किया गया है यानी जाहिर है कि existing नहीं हैं, ऐसे में संगीता की नौकरी की आस, फिर आस न रह जाये, बल्कि उसकी हालात बदले यही आस है।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

झारखण्ड CID या पुलिस की इतनी हिम्मत नहीं की रेमडेसिविर की कालाबाजारी करनेवाले महत्वपूर्ण शख्स का टेटूआ दबा दें, इसके लिए जिगर चाहिए, जो इनमें नहीं

Sun May 23 , 2021
याद करिये, 04 मई 2021 का दिन। रांची के सभी प्रमुख अखबारों में रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी की खबरें प्रमुखता से छपती है। बताया जा रहा है कि जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र में दो युवक आधा दर्जन रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करते पकड़े गये हैं। फिर दो दिन बाद यानी 6 मई को इसी से संबंधित खबरें छपती हैं। इस बार खबर यह है कि पुलिस जांच में यह पुष्टि हुई कि इन युवकों ने अपने मामा के लिए यह रेमडेसिविर खरीदा था।

You May Like

Breaking News