CM रघुवर और मंत्री सीपी के दूत पोद्दार को नहीं मिली सफलता, पवन ने खोला कार्यालय, चैंबर के अधिकतर व्यवसायी सरकार से नाराज

लीजिये, आज वो हो गया, जिसकी संभावना कम से कम मुख्यमंत्री रघुवर दास और नगर विकास मंत्री सीपी सिंह को नहीं थी, उन्हें लगता था कि चैम्बर ऑफ कॉमर्स के नाराज व्यवसायी अंत-अंत तक मान जायेंगे, उन्होंने व्यवसायियों को मनाने के लिए भाजपा के राज्यसभा सांसद महेश पोद्दार को लगाया था, इन्हें लगता था कि महेश पोद्दार को इसमें सफलता मिल जायेगी।

पर आज चैम्बर ऑफ कॉमर्स से जुड़े पवन शर्मा ने आज हरमू रोड स्थित मगंलमूर्ति हाइट्स में अपना चुनावी कार्यालय खोलकर अपना रुख स्पष्ट कर दिया, साथ ही इस अवसर पर व्यवसायियों की जुटी भीड़ ने साबित कर दी कि यहां के व्यवसायी फिलहाल रघुवर सरकार और राज्य के नगर विकास मंत्री सीपी सिंह से किस कदर नाराज हैं।

हालांकि इस दौरान झारखण्ड चैम्बर के कुछ व्यवसायी जो फिलहाल राज्य सरकार की कृपा से विभिन्न योजनाओं का लाभ ले रहे हैं या सरकार के कार्यक्रमों में रुचि लेकर सरकार के लिए काम कर रहे हैं, वे इस भय से कि उनके लगे पैसे फंस न जाये, इस कारण दूरियां बनाये रखी, पर लोग बताते है कि जब सारे के सारे व्यवसायी एकतरफ हैं, तो उनका इस कदर दूरियां बनाना ज्यादा दिनों तक नहीं टिकेगा।

ज्ञातव्य है कि पूरे राज्य के व्यवसायी, वर्तमान झारखण्ड सरकार के क्रियाकलापों से इस कदर नाराज हैं कि वे इस बार इस सरकार को सबक सिखाना चाहते हैं। इसी सबक सिखाने के क्रम में ये भाजपा प्रत्याशियों के नाक में दम भी कर रखे हैं, जिसका परिदृश्य पूरे झारखण्ड में दिखाई पड़ रहा हैं, रांची में इसका बीड़ा पवन शर्मा ने उठा लिया है, जिसे झारखण्ड चैम्बर ऑफ कॉमर्स से जुड़े ज्यादातर व्यवसायियों का समर्थन प्राप्त है।

इन व्यवसायियों का कहना है कि इस राज्य की रघुवर सरकार ने और खासकर नगर विकास मंत्री सीपी सिंह ने पूरे राजधानी रांची की सूरत बिगाड़ कर रख दी हैं, आश्चर्य है कि कभी भाजपा सांसद महेश पोद्दार जो फिलहाल सीपी सिंह को जीताने के लिए मुख्यमंत्री रघुवर दास के इशारे पर एड़ी-चोटी एक किये हुए हैं, कभी इन्होंने भी सीपी सिंह के काम-काज की तीखी आलोचना की थी, जो रांची से प्रकाशित अखबारों की सुर्खियां बन रही थी, लेकिन राजनीति जो न करवा दें, अब  यहीं व्यवसायी महेश पोद्दार से पूछ रहे है कि आपके उस बयान का क्या हुआ, जो पहले आप नगर विकास मंत्री सीपी सिंह के खिलाफ बोला करते थे।

प्राप्त सूत्रों के अनुसार आज चुनाव कार्यालय के लिए उद्घाटन के समय मंगलमूर्ति हाइट्स स्थल पर भारी भीड़ इकट्ठी हो गई, सारी कुर्सियां खचाखच भरी थी, लोग पवन शर्मा को सुनना चाह रहे थे, पवन शर्मा ने भी अपनी बातें खुलकर रखी और बताया कि किन कारणों से उन्होंने चुनाव लड़ने का मन बनाया।

इधर राजनीतिक पंडित बताते है कि पवन शर्मा का चुनाव लड़ना बता रहा है कि भाजपा के लिए पूरे राज्य में यह खतरे की घंटी हैं, क्योंकि जो चुनाव लड़ रहा हैं, कभी वो वर्ग भाजपा का वोट बैंक हुआ करता था, जो आज पूरी तरह दरक गया। लोग तो अभी से ही बोलने लगे – करिये बदलाव की तैयारी। पवन भैया अबकी बारी।। वोट फोर बेटर रांची। रांची पुकारा, पवन हमारा।