जनदबाव के आगे झूकी कोर्ट, ऋचा भारती मामले में पांच कुरान की प्रति बांटने का अपना आदेश बदला

आखिरकार जनदबाव के आगे कोर्ट झूकी, ऋचा भारती को नियमित जमानत दे दी तथा अपने पूर्व के पांच कुराने की प्रति बांटने का आदेश बदल दिया। ज्ञातव्य है पांच कुरान बांटने के शर्त जोड़ दिये जाने पर सोशल साइट में इसको लेकर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की गई थी, यहीं नहीं रांची जिला बार एसोसिएशन ने भी इस पर नाराजगी व्यक्त की तथा मनीष कुमार सिंह की कोर्ट का बहिष्कार करने का ऐलान कर दिया तथा इनके तबादले तक की मांग कर दी।

ऋचा भारती को कुरान बांटने के आदेश पर ज्यादातर अधिवक्ता नाराज दिखे, वहीं सोशल साइट पर इसको लेकर, तरहतरह के सवाल उठा दिये गये, यहीं नहीं उधर भाजपा के तेजतर्रार नेता सुब्रह्मण्यम स्वामी ने भी इस मामले में ऋचा भारती का साथ दे दिया।

कोर्ट द्वारा कुरान बांटने के आदेश को लेकर ऋचा भारती नाराज दिख रही थी, तथा खुद को असहज महसूस कर रही थी, जिसका जिक्र उसने कई बार किया, तथा उसने इस पर सवाल भी उठाये। इधर कुरान की प्रतियां बाटे जाने के आदेश को लेकर भाजपा समेत कई हिन्दू संगठनों ने भी तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की थी, तथा इस फैसले पर अपनी नाराजगी विभिन्न समाचार पत्रों के माध्यम से जाहिर कर दी। जिसका प्रभाव न्यायालय पर पड़ा और पूर्व के आदेश बदल दिये गये।