भाजपा प्रवक्ता प्रदीप का बयान, CM हेमन्त के प्रेस सलाहकार ने अपने रसूख का गलत फायदा उठाते हुए माइनिंग लीज का आवंटन खुद के नाम कराया

झारखण्ड में खनिज सम्पदा की भारी लूट का आरोप लगाते हुए भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता प्रदीप सिन्हा ने प्रदेश कार्यालय मे प्रेस वार्ता को सम्बोधित किया। श्री सिन्हा ने इस दौरान हेमंत सरकार पर जोरदार हमला करते हुए कहा कि पूरे प्रदेश में खनिज सम्पदा की लूट मची है। यह लूट सरकार के इशारे पर हो रही है। मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन के प्रेस सलाहकार पद का दुरूपयोग कर रहे हैं।

वे अपने रसूख का लाभ लेते हुए माइनिंग लीज का आवंटन अपने नाम करवा लिये है। साहेबगंज के मिर्जा चौकी में लीज अग्रीमेंट करवाया जिसका महज कुछ ही दिनों में कागजी कार्रवाई पूरी की  गयी।  एनओसी तक जारी कर दिया गया। जिसका मेमो नंबर 375, 11/2019 है। प्रदूषण, माइनिंग प्लान आदि सब, देखते ही देखते अप्रूव कर दिया गया।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन के इशारे पर यह सब हो रहा है। भाजपा मांग करती है कि प्रेस सलाहकार को तत्काल पद से हटाया जाये। उन्होंने कहा कि मामले में लगातार भारतीय जनता पार्टी तो विपक्ष ही रही। पर सत्तारुढ दल के विधायक सीता सोरेन, लॉबिन हेमब्रम आदि भी सवाल उठा रहे हैं। इस पर सरकार मौन साधे  बैठी है। सरकार को स्पष्टीकरण तो कम से कम देना ही चाहिए ।

श्री सिन्हा ने कहा कि इसी प्रकार से पंकज मिश्रा व एक खास गुट कोयला, बालू की लूट व तस्करी में शामिल हैं, इन सबको मुख्यमंत्री की मौन स्वीकृति मिली हुई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और आरजेडी की ख़ामोशी से स्पष्ट है कि इस लूट के भागीदार वे लोग भी हैं। उन्होंने कहा कि सरकार में थोड़ी भी नैतिकता है तो मामले कि जांच के आदेश दें।

साथ ही मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन में थोड़ी भी नैतिकता है तो वे इस्तीफा देकर मामले की जांच कराये, सब दूध का दूध और पानी का पानी हो जायेगा। उन्होंने कहा कि हेमंत सरकार के लूट और झूठ के कारनामे लगातार मीडिया में उजागर हो रहे हैं। सदन में लगातार राज्य सरकार घिर रही है। लेकिन यह सरकार बेशर्म सरकार है जो लूट के सवालों का जवाब नही दे रही।