BJP सांसद महेश पोद्दार को महंगा पड़ रहा, उनका दिव्य राजनीतिक ज्ञान, सोशल साइट पर लोग जता रहे विरोध

कुछ महीने पहले रांची के विधायक एवं राज्य के नगर विकास मंत्री सीपी सिंह के खिलाफ महेश पोद्दार का भड़का गुस्सा, आज उनके लिए बहुत भारी पड़ रहा हैं, सोशल साइट पर लोग उनका जमकर विरोध कर रहे हैं, जिससे भाजपा सांसद महेश पोद्दार की बोलती ही बंद हो जा रही है। राजनीतिक पंडित इस मुद्दे पर बहुत ही सरलता से एक दोहे बोल दे रहे हैं, जो भाजपा सांसद महेश पोद्दार पर बिल्कुल फिट बैठ रही हैं, वह दोहा है –

कुछ महीने पहले रांची के विधायक एवं राज्य के नगर विकास मंत्री सीपी सिंह के खिलाफ महेश पोद्दार का भड़का गुस्सा, आज उनके लिए बहुत भारी पड़ रहा हैं, सोशल साइट पर लोग उनका जमकर विरोध कर रहे हैं, जिससे भाजपा सांसद महेश पोद्दार की बोलती ही बंद हो जा रही है। राजनीतिक पंडित इस मुद्दे पर बहुत ही सरलता से एक दोहे बोल दे रहे हैं, जो भाजपा सांसद महेश पोद्दार पर बिल्कुल फिट बैठ रही हैं, वह दोहा है – बिना विचारे जो करे, सो पाछे पछताय, काम बिगाड़े आपनो, जग में होत हंसाय। यह दोहा इतना सरल है कि इसका भावार्थ लिखने की कोई जरुरत ही नहीं।

जरा देखिये महेश पोद्दार ने ट्विटर पर क्या लिखा – “एक कहता था – लड़ के लेंगे झारखण्ड, दूसरा बोला – मेरी लाश पर बनेगा झारखण्ड, तीसरा इन दोनों से दशकों तक खेलता रहा। फिर तीनों ने एक निर्दलीय को आगे कर झारखण्ड के हजारों करोड़ लूटे। ये फिर साथ हैं। फैसला जनता के हाथ है। तुम्हें याद हो के न याद हो,पर ये जो पब्लिक है सब जानती है।”

अब जरा महेश पोद्दार के इस ट्विट पर सबूत के साथ अजय भंडारी ने क्या लिखा, उस पर ध्यान दीजिये – “हम रांचीवासियों को अच्छी तरह यह भी याद है कि किस तरह निर्भीक होकर आपने चेताया था कि शहर किस विधायक ने बर्बाद किया है। अब उस तथ्य को भूलने के लिए हमें कोई न कहे। यह पब्लिक है – सब जानती है, याद भी रखती है।”

आगे अजय भंडारी ने लिखा है – “दिक्कत यह है कि बयान रिकार्ड से तो निकाला जा सकता है, जेहन से नहीं।”

दरअसल जिस प्रकार से राजधानी रांची की दुर्दशा की गई, बड़ा तालाब व हरमू नदी को सौंदर्यीकरण के नाम पर सत्यानाश किया गया, जयपाल सिंह स्टेडियम की सूरत बिगाड़ दी गई, जिसके खिलाफ रांची की सिविल सोसाइटी कई बार सड़कों पर उतरी, पर किसी ने इनकी ओर ध्यान ही नहीं दिया, लेकिन बहुत दिनों के बाद इनके संघर्ष को तब ताकत मिली, जब भाजपा सांसद महेश पोद्दार रांची की दुर्गति पर मुखर हुए, और उनके बयानों को अखबारों ने प्रमुखता देना शुरु किया।

महेश पोद्दार ने तो माना था कि रांची की दुर्गति हुई हैं और इसके लिए अगर कोई जिम्मेवार है तो नगर विकास मंत्री सीपी सिंह ही हैं, जिसको लेकर नगर विकास मंत्री सीपी सिंह और सांसद महेश पोद्दार में जमकर बयानबाजी भी हुई थी, दोनों एक दूसरे से बुरी तरह उलझ गये थे, पर अचानक विधानसभा चुनाव में नगर विकास मंत्री सीपी सिंह के प्रति उनके उमड़े प्रेम ने लोगों की नजरों में महेश पोद्दार को विलेन के रुप में लाकर खड़ा कर दिया।

जिस कारण लोग उनका जमकर विरोध कर रहे हैं, तथा ये कहने से चूक नहीं रहे कि पब्लिक केवल जो आप (महेश पोद्दार) जो वर्तमान में कह रहे हैं, केवल उसी को नहीं जान रही, बल्कि उसे भी जानती है, जो आप (महेश पोद्दार) पूर्व में रांची के विधायक एवं नगर विकास मंत्री सीपी सिंह के बारे में कह चुके हैं।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

जमशेदपुर पूर्व की जनता ने कहा, यहां महामुकाबला सिर्फ “कलम” और “चिलम” के बीच

Tue Dec 3 , 2019
जमशेदपुर पूर्व विधानसभा जहां राज्य के मुख्यमंत्री रघुवर दास को उन्हीं के कैबिनेट में रहे मंत्री सरयू राय चुनौती दे रहे हैं। दिनांक 1 दिसम्बर। स्थान – बिरसा नगर, सन्डे मार्केट। सरयू राय को सुनने के लिए लोग अच्छी खासी संख्या में जुटे हैं। सन्डे मार्केट में जमी इतनी भीड़ से सरयू राय आह्लादित हैं, तथा आह्लादित वे लोग भी हैं, जो उन्हें समर्थन दे रहे हैं।

You May Like

Breaking News