धनबाद के भाजपा नेताओं ने कहा कालनेमियों को अगर पार्टी में शामिल किया गया तो इसे बर्दाश्त नहीं किया जायेगा

424

धनबाद जिलान्तर्गत चिरकुण्डा नगर परिषद् के अध्यक्ष डब्लू बाउरी एवं उपाध्यक्ष जय प्रकाश सिंह ने आज धनबाद जिला ग्रामीण भाजपा के अध्यक्ष ज्ञान रंजन सिन्हा को संयुक्त रुप से पत्र लिखकर अपना आक्रोश व्यक्त किया है। इस पत्र में इन दोंनों भाजपा नेताओं ने कहा है कि कुछ लोग ऐसे हैं, जो धन एवं यश कमाने के लिए कालनेमि बनकर भाजपा में पदाधिकारी बनने को उतारु तथा गलत काम को अंजाम देने की फिराक में है। नेताद्वय ने छः प्वाइंट देकर अपनी बातों को प्रकाश में लाया है।

इन दोनों भाजपा नेताओं का कहना है कि सच्चाई यह है कि भाजपा द्वारा चिरकुण्डा नगर परिषद के चुनाव के दौरान डब्लू बाउरी को अध्यक्ष एवं जयप्रकाश सिंह को उपाध्यक्ष पद के लिए पार्टी सिंबल जारी किया गया था, लेकिन संजय सिंह पिंटू, संदीप चटर्जी एवं जानकी राखा ने नगर परिषद् के चुनाव के दौरान भाजपा से इस्तीफा देकर, नगर विकास समिति के बैनर तले चुनाव लड़ने की ठान ली। लोग आज भी याद रखे है कि इस दौरान जानकी राखा ने अध्यक्ष एवं संदीप चटर्जी ने उपाध्यक्ष पद से नामांकन भरा था और इनके समर्थन में संजय सिंह पिंटू ने प्रचार अभियान चलाया, साथ ही धन की व्यवस्था भी की। नेता द्वय ने संजय सिंह पिंटू के लिए यहां कालनेमि शब्द का प्रयोग किया है।

नेता द्वय ने अपनी बातों को सत्य साबित करने के लिए भाजपा धनबाद ग्रामीण के अध्यक्ष को पत्र लिख, इसका सत्यापन भाजपा महानगर जिलाध्यक्ष चंद्रशेखर सिंह से कराने की अपील भी की है। इन दोनों ने यह भी लिखा है कि आपके द्वारा पिछले दिनों आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान जो प्रभारी की सूची जारी की गई थी, उसमें संजय सिंह पिंटू का नाम रखना ही खेदजनक है। यह व्यक्ति भारतीय जनता पार्टी की आड़ में गलत ही नहीं बल्कि महागलत, अन्य कार्य भी करता है। इसलिए संजय सिंह पिंटू को पार्टी के अंदर कोई पद नहीं दिया जाय और न ही ऐसा लोगों को पार्टी का सदस्य बनाया जाय।

चिरकुण्डा नगर परिषद् के अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष के इस पत्र ने चिरकुण्डा ही नहीं, पूरे धनबाद में भूचाल ला दिया है। साथ ही संकेत दे दिया है कि पार्टी विरोधी कार्य करनेवालों को अगर, नये-नये भाजपा पदाधिकारी बने लोगों ने भाव दिया तो यहां दांव उलटे भी पड़ सकते हैं। हालांकि चिरकुण्डा नगर परिषद् से जुड़े इन भाजपा नेताओं ने अपनी बात धनबाद जिला ग्रामीण भाजपा के अध्यक्ष के सामने रख दी है, अब इस पत्र का प्रभाव क्या पड़ता है, लोगों का ध्यान फिलहाल उसी ओर है।

Comments are closed.