भाजपा को मिला जामयांग शेरिंग नामज्ञाल के रुप में एक और महानायक, कल का “मैन ऑफ द लोकसभा” बने लद्दाख सांसद

सच पूछा जाये तो कल का दिन संसद में अमित शाह का नहीं, कल का दिन था लद्दाख के भाजपा सांसद जामयांग शेरिंग नामज्ञाल का, जिन्होंने अपनी सिंहगर्जना और अपने शानदार भाषण से सारे विपक्षियों की हवा निकाल दी। यहीं नहीं जामयांग जैसे-जैसे अपने भाषण के शिखर की ओर पहुंच रहे थे, पूरा देशवासी उनकी ओर मुखातिब था, वो जानना चाहता कि यह युवा और आगे क्या बोलना चाहता है,

सच पूछा जाये तो कल का दिन संसद में अमित शाह का नहीं, कल का दिन था लद्दाख के भाजपा सांसद जामयांग शेरिंग नामज्ञाल का, जिन्होंने अपनी सिंहगर्जना और अपने शानदार भाषण से सारे विपक्षियों की हवा निकाल दी। यहीं नहीं जामयांग जैसेजैसे अपने भाषण के शिखर की ओर पहुंच रहे थे, पूरा देशवासी उनकी ओर मुखातिब था, वो जानना चाहता कि यह युवा और आगे क्या बोलना चाहता है? 

ऐसे तो भाजपाई नेता बोलने में तेज माने ही जाते हैं, पर ऐसे बहुत कम ही भाजपा के सांसद हैं, जो अपनी वाणी में जादू रखते हुए, सभी का ध्यान अपनी ओर आकृष्ट कर लेते हैं, और उनमें भाजपा के दिवगंत नेता अटल बिहारी वाजपेयी का नाम शिखर पर रहता है, और महिला नेताओं में भाषण देनेवालों में भाजपा की दिवंगत नेता सुषमा स्वराज का नाम भी शिखर पर है।


आखिर
जामयांग ने क्या कर दिया, दरअसल जामयांग जब भाषण दे रहे थे, तो आम जनता को लग रहा था कि यह युवा अपनी बात नहीं, बल्कि देश की जनता की बात संसद में रख रहा है, जब वह करगिल और लद्दाख की समस्याओं को रख रहा था, तो साफ लग रहा था कि कि करगिल और लद्दाख की जनता के साथ पूर्ववर्ती जम्मूकश्मीर की सरकारों और केन्द्र में कांग्रेस की सरकारों ने धारा 370 के नाम पर कितना अन्याय किया।

जामयांग ने कहा कि धारा 370 ही समस्याओं का मूल जड़ था, आज यह समाप्त हो रहा है, उनका प्रदेश केन्द्रशासित प्रदेश बनने जा रहा है, अब यानी 70 सालों के बाद उनकी चिरप्रतीक्षित मांग पूरी होने जा रही है, और वह युवा इसके लिए गृह मंत्री अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को दिल से शुक्रिया अदा कर रहा था, जब जामयांग बोल रहा था, तब बहुत सारे विपक्षी नेताओं ने उन्हें बोलने से रोकने की कोशिश की, पर वह बहुत ही चतुराई से जवाब देता कि जरा सुनने की क्षमता रखिये। 

यही नहीं आज मैं दावे के साथ कह सकता हूं कि जामयांग जैसे युवा नेताओं का कांग्रेस जैसी पार्टियों ही नहीं, बल्कि हर विपक्षी पार्टियों में अभाव है, अथवा ये पार्टियां ऐसे युवाओं को बोलने का मौका या आगे बढ़ने का मौका नहीं देती, जो भाजपा में संभव है, यहीं कारण है कि जामयांग आज संसद में ऐसा बोला कि वह पूरे भारतवासियों के दिलोदिमाग पर छा गया, ओर उसका यह बोलना साबित भी कर दिया कि जम्मूकश्मीर में धारा 370 के नाम पर कितना अत्याचार हुआ।

जामयांग ने एक तरह से सिद्ध कर दिया कि अगर भाजपा नहीं होती तो धारा 370 खत्म नहीं होता, और जो लोग धारा 370 के नाम पर राजनीति कर रहे हैं, इसे हटाने का विरोध कर रहे हैं, वे दरअसल जम्मूकश्मीर की सही स्थिति को जानकर केवल हिन्दूमुस्लिम की बात करते हैं, जिसका कोई वहां वजूद ही नहीं, आज भी जम्मूकश्मीर की जनता वो सब चाहती है, जो देश के अन्य राज्यों के नागरिकों को प्राप्त है। 

सचमुच जामयांग आप बहुत याद आओगे, जब जब धारा 370  हटाने की बात चलेगी, आपका नाम भी उतना ही सम्मान से लिया जायेगा, लोग आपकी बातों को सुनना चाहेंगे, ऐसे आपके कल का भाषण ने आपके उज्जवल भविष्य की मुहर लगा दी है, निश्चय ही भाजपा इसका लाभ उठायेगी, आनेवाले समय में आपके भाषण को जनता भी अन्य राज्यों में सुनना चाहेगी, जिससे भारत को लाभ मिलेगा, भारत मजबूत होगा, लद्दाखवासी गर्व से स्वयं को भारतीय कहलाना पसन्द करेंगे, जिस लद्दाख पर चीन और पाकिस्तान जैसे दुष्ट राष्ट्रों की नजर है।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

प्रभात खबर बताएं कि क्या सचमुच जम्मू-कश्मीर बंट गया, नहीं तो अपनी गलती के लिए देश से माफी मांगे

Wed Aug 7 , 2019
झारखण्ड का सर्वाधिक प्रसारित हिन्दी दैनिक “प्रभात खबर” जो अपना 35वां स्थापना दिवस मनाने जा रहा है, जिसके स्थापना दिवस समारोह में भाग लेने के लिए आगामी 10 अगस्त को स्वयं भारत के उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडु पहुंच रहे हैं, जिसका विषय ही है – देश के विकास में नए राज्यों की भूमिका, जरा देखिये, उसके आज के पृथम पृष्ठ को, क्या हेडिंग दी है – “ अनुच्छेद 370 अब इतिहास, 370 वोट से जम्मूकश्मीर को बांटनेवाला बिल लोकसभा से पास।”

Breaking News