सुरक्षा मामलों में दोहरा मापदंड अपनाना आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन – झामुमो

झारखण्ड मुक्ति मोर्चा के महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को पत्र लिखकर कहा है कि लोकसभा चुनाव 2019 के अवसर पर आदर्श आचार सहिंता के अनुपालन में दिये गये निर्देशानुसार सुरक्षा वाहनों को ईंधन आपूर्ति रोक दी गई है। प्रसंगाधीन पत्र में यह भी उल्लेखित है कि राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री एवं उपराष्ट्रपति को ही सिर्फ इससे मुक्त रखा गया है, परन्तु यह भी ज्ञात है कि राज्य के मुख्यमंत्री के सुरक्षा-वाहनों में ईंधन आपूर्ति की जा रही है।

झारखण्ड मुक्ति मोर्चा के महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को पत्र लिखकर कहा है कि लोकसभा चुनाव 2019 के अवसर पर आदर्श आचार सहिंता के अनुपालन में दिये गये निर्देशानुसार सुरक्षा वाहनों को ईंधन आपूर्ति रोक दी गई है। प्रसंगाधीन पत्र में यह भी उल्लेखित है कि राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री एवं उपराष्ट्रपति को ही सिर्फ इससे मुक्त रखा गया है, परन्तु यह भी ज्ञात है कि राज्य के मुख्यमंत्री के सुरक्षा-वाहनों में ईंधन आपूर्ति की जा रही है।

सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा है कि एक ओर सुरक्षा कारणों से मुख्यमंत्री के वाहनों में ईंधन आपूर्ति की जा रही है, लेकिन पूर्व मुख्यमंत्री सह केन्द्रीय अध्यक्ष झारखण्ड मुक्ति मोर्चा शिबू सोरेन एवं पूर्व मुख्यमंत्री सह नेता प्रतिपक्ष हेमन्त सोरेन दोनों, जिन्हें जेड प्लस की सुरक्षा दी गई है, के सुरक्षा वाहनों की ईंधन आपूर्ति बंद कर दी गई है। जिस कारण सुरक्षा में लगे जवानों के आवागमन प्रभावित हो गये है। इसका प्रतिकूल प्रभाव दोनों नेताओं के सुरक्षा पर पड़ने की संभावना प्रबल हो गई है।

सुप्रियो भट्टाचार्य ने अपने पत्र में कहा है कि जब मुख्यमंत्री जो जेड प्लस सुरक्षाधारित है, को सुरक्षा कारणों से ईंधन आपूर्ति की जा सकती है, तो जेड प्लस सुरक्षाधारित पूर्व मुख्यमंत्रियों शिबू सोरेन एवं हेमन्त सोरेन के सुरक्षा वाहनों को भी इँधन आपूर्ति करने का निर्देश पुलिस मुख्यालय को दी जाय। सुरक्षा मामलों में दोहरा मापदंड अपनाना आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है, एवं निष्पक्ष एवं भयमुक्त चुनाव संपन्न कराने की दिशा में गंभीर प्रश्न खड़ा करता है।

अतः ऐसी परिस्थितियों में पार्टी के स्टार प्रचारक सह केन्द्रीय अध्यक्ष शिबू सोरेन एवं सह कार्यकारी अध्यक्ष हेमन्त सोरेन की सुरक्षा में कोई कोताही न बरतकर नियमित ईंधन आपूर्ति की व्यवस्था सुनिश्चित की जाय। सुप्रियो भट्टाचार्य ने इस पत्र की प्रतिलिपि पुलिस मुख्यालय और मुख्य निर्वाचन आयुक्त, भारत निर्वाचन आयोग, नई दिल्ली को भी संप्रेषित की है।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

लक्षण सुधारें भाजपा नेता, नहीं तो जनता ऐसा सुधार देगी कि कही के नहीं रहेंगे, झंडा ढोनेवाला तक नहीं मिलेगा

Wed Mar 27 , 2019
लोकसभा चुनाव सर पर हैं और भाजपा में भूचाल है। कहीं पार्टी कार्यकर्ता आपस में भिड़ रहे हैं तो कही टिकट नहीं मिलने से कोई इतना नाराज हो गया कि वो अपने पार्टी के ही शीर्ष नेताओं को औकात दिखाने पर तुला है, और कोई ऐसा विधायक हैं जो महिला को थप्पड़ तक जड़ देता है, जबकि एक भाजपा विधायक ऐसा है कि उस पर यौन शोषण का आरोप भाजपा की ही जिला मंत्री लगा देती हैं,

Breaking News