CBSE प्रश्नपत्र लीक कांड में ABVP के जिला संयोजक ने अपनी संलिप्तता स्वीकारी

चतरा पुलिस ने आज संवाददाता सम्मेलन में इस बात का खुलासा किया कि सीबीएसई के दसवीं का गणित का प्रश्नपत्र पटना से व्हाट्सऐप के द्वारा चतरा पहुंचा था। संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए चतरा एसपी एबी वारियर ने कहा कि इस कांड में चतरा के स्टडी विजन कोचिंग सेंटर का संचालक और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का जिला संयोजक सतीश पांडेय समेत 3 लोगों को जेल भेजा जा चुका हैं।

चतरा पुलिस ने आज संवाददाता सम्मेलन में इस बात का खुलासा किया कि सीबीएसई के दसवीं का गणित का प्रश्नपत्र पटना से व्हाट्सऐप के द्वारा चतरा पहुंचा था। संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए चतरा एसपी एबी वारियर ने कहा कि इस कांड में चतरा के स्टडी विजन कोचिंग सेंटर का संचालक और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का जिला संयोजक सतीश पांडेय समेत 3 लोगों को जेल भेजा जा चुका हैं।

एसपी का कहना था कि बिहार और झारखण्ड से गिरफ्तार इन 12 लोगों में से नौ नाबालिग छात्रों को भी गिरफ्तार किया गया है, जिन्हें हजारीबाग बाल सुधार गृह भेजा गया हैं। एसपी वारियर के अनुसार एसआइटी टीम ने पटना के कृष्णानगर से गया के शेरघाटी निवासी अमित और छपरा के आकाश को हिरासत में लिया, जिनका संपर्क दिल्ली से हैं। ये दोनों ही दिल्ली स्थित शिक्षा माफियाओं की सहायता से बोर्ड परीक्षा में शामिल होनेवाले छात्रों से पैसे लेकर अधिक अंक दिलाने के कामों में लगे थे।

एसपी ने कहा कि पुलिस पेपर लीक करनेवाले मुख्य स्रोत की तलाश जारी रखी हुई हैं, और जल्द ही वह पुलिस की गिरफ्त में होगा। एसपी का कहना था कि जिस दिन गणित की परीक्षा थी, उसके एक दिन पहले ही कोचिंग सेंटर के संचालक ने छात्रों को पैसे लेकर प्रश्न पत्र उपलब्ध करा दिया था। बताया जाता है कि जवाहर नवोदय विद्यालय के प्राचार्य देवेश नारायण ने चार छात्रों को इसी दौरान चोरी करते  हुए पकड़ा था, जिनके खिलाफ चतरा सदर थाना में नामजद प्राथमिकी दर्ज भी कराई गई थी। बताया जाता है कि स्टडी विजन के संचालकों पंकज सिंह एवं सतीश पांडे ने इस कांड में अपनी संलिप्तता स्वीकार कर ली हैं और इसमें शामिल अपने एक और साथी के बारे में भी पुलिस को जानकारी दी।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

दुमका नगर परिषद चुनाव में जनता बदलाव के मूड में, भाजपा को हो सकता है नुकसान

Sun Apr 1 , 2018
दुमका नगर परिषद चुनाव में अध्यक्ष पद के लिए भाजपा की अमिता रक्षित और निर्दलीय श्वेता झा के बीच अब सीधी टक्कर स्पष्ट रुप से दिखाई पड़ रही है। इस सीधी टक्कर में फिलहाल श्वेता झा का पलड़ा भारी दिख रहा हैं। ऐसे भी इस बार लगता है कि दुमका नगर परिषद के अध्यक्ष पद के लिए हो रहे चुनाव में निर्दलीय प्रत्याशी के रुप में किस्मत आजमा रही श्वेता झा को दुमका की जनता निराश करने के मूड में नहीं हैं।

Breaking News