आरक्षण अधिकार मोर्चा ने रांची में आक्रोश सभा कर रघुवर सरकार को चेताया

रांची के मोरहाबादी केन्द्रीय पुस्तकालय में आरक्षण अधिकार मोर्चा ने एक बड़ी आक्रोश सभा की। इस सभा में राज्य के कोने-कोने से आये प्रतिनिधियों ने भाग लिया तथा राज्य सरकार की आरक्षण विरोधी नीति की कड़ी आलोचना की। वक्ताओं ने खुलकर कहा कि राज्य सरकार आरक्षण विरोधी हैं और ये छात्र हित में नहीं है, इसलिए सभी छात्रों को इस सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलना चाहिए तथा सरकार को बताना चाहिए कि आनेवाले चुनाव में इस बार राज्य का युवा रघुवर सरकार को सत्ता से बाहर जाने का रास्ता दिखाने के लिए तैयार हैं।

इस आक्रोश सभा को संबोधित करते हुए आरक्षण अधिकार मोर्चा के अध्यक्ष अजय चौधरी ने कहा कि आरक्षण सहित राज्य हित के सभी मुद्दों पर सभी झारखण्डवासी-मूलवासी एक  है। आरक्षण के मुद्दे पर सरकार जो छेड़छाड़ कर रही है, वो आरक्षण अधिकार मोर्चा को किसी भी रुप में मंजूर नहीं है। अजय चौधरी ने कहा कि जब तक सरकार उनकी सारी मांगों को मान नहीं लेती, उनका आंदोलन जारी रहेगा।

हजारीबाग से आये प्रदीप कुमार ने कहा कि जिस प्रकार आरक्षण के पक्ष में एवं सरकार के खिलाफ आवाज उठाने पर राज्य के एक मंत्री ने युवा छात्र अजय चौधरी एवं संतोष महतो को अपना निशाना बनाया, झूठी प्राथमिकी दर्ज कराई, उसकी जितनी आलोचना की जाय कम है। प्रदीप कुमार का कहना था कि इस घटना से हमें सबक लेनी है और एकता के सूत्र में बंधकर, आरक्षण को बचाने के लिए धारदार लड़ाई लडऩी है।

सभा में उपस्थित सभी वक्ताओं ने एक स्वर में कहा कि जब तक स्थानीय नीति में संशोधन नहीं हो जाता, नियोजन नीति में संशोधन नहीं हो जाता, जब तक झारखण्ड के मुख्यमंत्री रघुवर दास सभी नियुक्तियों पर रोक लगाकर जेपीएससी में आरक्षण नियमावली के तहत अतिरिक्त रिजल्ट छोड़कर 15 गुणा कोटिवार रिजल्ट तत्काल जारी नहीं करते, आंदोलन जारी रहेगा। वक्ताओं ने संकल्प लिया कि आरक्षण अधिकार मोर्चा तब तक आर-पार की लड़ाई जारी रखेगा, जब तक सभी परीक्षाओं और नियुक्ति प्रक्रियाओं पर रोक नहीं लग जाता।

आक्रोश सभा को संजय महतो, प्रदीप प्रसाद, केन्द्रीय सरना समिति के अजय तिर्की, आदिवासी छात्र संघ के सुशील उरांव, आदिवासी जन परिषद के प्रेमशाही मुंडा, राजू महतो, उपेन्द्र रजक, तालकेश्वर महतो, एल्विन लकड़ा, संतोष महतो, वेद यादव, दिलीप रे, चन्दन कुमार, जीवन कुमार, तिलेश नायक, रुपेश कुमार और मनोज यादव ने सभी संबोधित किया।