भाजपा के कार्यक्रम में छोड़े गये भोजन को खाकर डालटनगंज में १५ गायों की मौत, कांग्रेस ने उठाए सवाल

डालटनगंज के हाउसिंग कालोनी में हाल ही में भाजपा के बूथ सम्मेलन कार्यक्रम के बाद खूले में फेंके गये खाद्य पदार्थों को खाकर १० से १५ की संख्या में गो-वंशों के मरने की घटना की कांग्रेस के वरिष्ठ नेता के एन त्रिपाठी ने कड़ी भर्त्सना की है और इस पूरी घटना को दूर्भाग्यपू्र्ण करार दिया है। उनका कहना है कि भाजपा कार्यकर्ता सम्मेलन के मुख्य अतिथि रहे पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा और रघुवर दास ही गौ-माता की मौत के असली जिम्मेदार है।

डालटनगंज के हाउसिंग कालोनी में हाल ही में भाजपा के बूथ सम्मेलन कार्यक्रम के बाद खूले में फेंके गये खाद्य पदार्थों को खाकर १० से १५ की संख्या में गो-वंशों के मरने की घटना की कांग्रेस के वरिष्ठ नेता के एन त्रिपाठी ने कड़ी भर्त्सना की है और इस पूरी घटना को दूर्भाग्यपू्र्ण करार दिया है। उनका कहना है कि भाजपा कार्यकर्ता सम्मेलन के मुख्य अतिथि रहे पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा और रघुवर दास ही गौ-माता की मौत के असली जिम्मेदार है। उन्होंने कहा कि इस पाप के लिए दोनों को गंगा स्नान करना चाहिए।

लोगों का कहना है कि बीते ३१ अगस्त को पलामू के प्रमंडलस्तरीय बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन का आयोजन हुआ था, जिसमें उपस्थित लोगों के भोजन के पश्चात् बाकी खाना खूले मैदान में ही फेंक दिया गया, जिसे वहां के मवेशी खा गये। अभी तक सूचना के मुताबिक मरनेवाले गायों की संख्या १०-१५ के करीब है, वहीं कुछ की हालत अभी भी खराब है।

पूर्व मंत्री के एन त्रिपाठी ने इस मामले पर रोष व्यक्त करते हुए, गायों के मालिकों को उचित मुआवजा देने की मांग की है, जबकि दूसरी ओर जिनके घऱ की गायों की मौत हुई है, उनका गुस्सा बढ़ता जा रहा हैं, इन महिलाओं का कहना है कि भाजपा वालों ने अपना कार्यक्रम तो कर लिया पर हमारे घरों की खुशियां छीन ली, अब इन गायों की मौत के बाद हम अपना घर कैसे चलायेंगे, सबसे बड़ी मुश्किलें तो यह उनके सामने आ गई।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

खुद बाहरी और दूसरे को बाहरी बता रहे, और ये बतानेवाले दूसरा कोई नहीं, अपने ही CM रघुवर दास है

Tue Sep 3 , 2019
कल राज्य के मुख्यमंत्री रघुवर दास बरहरवा-गोड्डा के दौरे पर थे। जहां उन्होंने बड़े-बड़े कार्यक्रम किये, लोगों को सपने दिखाये, झामुमो और झारखण्ड नामधारी पार्टियों को खूब भला-बुरा कहा, और खुद को दुध का धूला एवं महान राजनीतिज्ञ साबित करने में कोई कोताही नहीं बरती। इसी बतकही में राज्य के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कह डाला कि आप यहां के स्थानीय लोगों को मौका देकर, विकास योजना में सहयोग करें।

You May Like

Breaking News