रेल भवन का घेराव करने जा रहे, कांग्रेस के अजय समेत धनबाद के युवाओं को दिल्ली पुलिस ने किया गिरफ्तार

धनबाद-चंद्रपुरा रेललाइन पर पुनः रेलसेवा बहाल करने की मांग को लेकर, धनबाद से दिल्ली जाकर, पिछले तीन दिनों से अपना आंदोलन चला रहे, धनबाद के युवाओं ने जैसे ही आज रेल भवन का घेराव करने का ऐलान किया, दिल्ली पुलिस ने उनके रेल भवन तक पहुंचने के पहले ही गिरफ्तार कर लिया और उन्हें पार्लियामेंट स्ट्रीट थाना लेकर पहुंच गई।

धनबाद-चंद्रपुरा रेललाइन पर पुनः रेलसेवा बहाल करने की मांग को लेकर, धनबाद से दिल्ली जाकर, पिछले तीन दिनों से अपना आंदोलन चला रहे, धनबाद के युवाओं ने जैसे ही आज रेल भवन का घेराव करने का ऐलान किया, दिल्ली पुलिस ने उनके रेल भवन तक पहुंचने के पहले ही गिरफ्तार कर लिया और उन्हें पार्लियामेंट स्ट्रीट थाना लेकर पहुंच गई।

आज जिन्हें गिरफ्तार किया गया, उनमें झारखण्ड प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अजय कुमार, रणविजय सिंह, मयूर शेखर झा, राकेश रंजन उर्फ चुन्ना यादव, एवं गौरव शर्मा के नाम शामिल है। इनका कहना था कि जब से धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन को ठप किया गया और इस लाइन से गुजरनेवाली 26 जोड़ी ट्रेनों को रद्द कर दिया गया, इस लाइन से होकर गुजरनेवालों की जिंदगी तबाह हो गई, जब तक इस रेल लाइन पर पुनः रेल सेवा बहाल नहीं होगी, उनका आंदोलन चलता रहेगा।

आज आंदोलन के आखिरी दिन झारखण्ड प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी आरपीएन सिंह भी धरना स्थल पर पहुंचे और कहा कि जब तक 26 जोड़ी ट्रेनें इस लाइन पर दौड़ने नहीं लगेंगी, तब तक कांग्रेस पार्टी चुप नहीं बैठेगी, उन्होंने कहा देर हैं, पर अंधेर नहीं, इस लाइन पर रेल सेवा जरुर बहाल होगी। उन्होंने कहा कि उन्हें इस बात का आश्चर्य होता है कि इस संबंध में उन्होंने कई बार रेलमंत्री से पत्राचार किया, पर उसका जवाब आज तक नहीं मिला। ये तानाशाही नहीं तो और क्या है? उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार कान खोलकर सुन लें, अब उनके दिन लद गये, तानाशाही नहीं चलेगी।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार ने कहा कि केन्द्र सरकार और रघुवर सरकार दोनों मिलकर झारखण्ड को लूट रहे हैं और वहां की जनता को तबाह कर रहे हैं। आश्चर्य है कि, न तो वहां के लोगों को बिजली मिल रही है और न ही पानी, उलटे जो रेल सेवा है, वह भी छीन लिया जा रहा है, ये कैसी सरकार है? उन्होंने कहा कि कोयला चोरी में झारखण्ड भाजपा के सांसद-विधायक संलिप्त तो थे ही, अब पीएम और सीएम भी इसमें लग गये।

महाबल मिश्रा ने कहा कि देश के पीएम के पास दरअसल कोई विजन ही नहीं है, और जब विजन ही नहीं तो यह व्यक्ति देश को क्या देगा, वह क्या सेवा करेगा? इन्होंने कारपोरेट घरानों की दलाली के लिए केन्द्र में सरकार बनाई है, जिसका परिणाम सामने है। आज के धरने में रणविजय सिंह, राकेश रंजन, मयूर शेखर झा, बलराम हरिजन, गौरव शर्मा, उमेश ऋषि, नदीम अहमद, गोलू यादव, सोनू राय आदि मुख्य रुप से शामिल थे।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

राज्यपाल महोदया ख्याल रहे, आपकी टीम में शामिल कोई भी सदस्य गांधी की आत्मा से खिलवाड़ न करें

Sat Oct 6 , 2018
अब जो व्यक्ति अपनी बिताई जिंदगी में एक भी दिन गांधी के आदर्शों को जिया ही नहीं, वह व्यक्ति झारखण्ड के युवाओं में क्या गांधी दर्शन का बोध कराने में सफल होगा? इसी कमेटी में जो भी व्यक्ति शामिल है, मैं सभी को अच्छी तरह जानता हूं, उनके क्रियाकलापों से अवगत हूं, वे सभी हमारी आंखों से आंखे तक नहीं मिला सकते। ऐसा मेरा दावा है, क्योंकि गांधी के सत्य और आदर्शों के साथ खेलते हुए, इन्हें मैंने नजदीक से देखा है।

Breaking News