दो महिलाकर्मियों ने मुख्यमंत्री जनसंवाद केन्द्र पर आरोप लगाया था कि उनके साथ यहां के वरीय अधिकारियों का व्यवहार बेहद आपत्तिजनक एवं अशोभनीय होता है, जो अग्राह्य है। उन्होंने इसकी शिकायत राज्य महिला आयोग झारखण्ड से की थी, और इसकी प्रतिलिपि राष्ट्रीय महिला आयोग नई दिल्ली, प्रधानमंत्री, मुख्य न्यायाधीश, उच्च न्यायालय, मंत्री महिला बाल विकास एवं सामाजिक सुरक्षा, मुख्यमंत्री के सचिव एवं मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव को भेजी थी।

Breaking News