मैं भी 32, तू भी 32, सब कोई 32 हो जा, ले ले नौकरी झारखण्ड में, राज बेच के सो जा। गजब है रघुवर दास और गजब है उनके द्वारा बनाई गई कमेटी, जिसने प्रस्ताव दिया है कि झारखण्ड में सरकारी नौकरियों में उन्हें ही आरक्षण मिले, जिनके पास 1932 का खतियान हो। अब सवाल उठता है कि आज से 15-16 साल पहले इसी बात को कभी झारखण्ड के प्रथम मुख्यमंत्री बाबू लाल मरांडी कहा करते थे,

Breaking News