राहुल गांधी दो मार्च को रांची में एक जनसभा को करेंगे संबोधित, कांग्रेसियों में उत्साह

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी आगामी 2 मार्च को झारखण्ड दौरे पर आ रहे है। इसी दिन रांची में वे एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे। जिसकी तैयारी आज से ही कांग्रेसियों ने प्रारम्भ कर दी है। इस बात की जानकारी कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे ने विद्रोही 24. कॉम को दी। आलोक कुमार दूबे का कहना था कि प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी आर पी एन सिंह तथा प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार ने…

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी आगामी 2 मार्च को झारखण्ड दौरे पर रहे है। इसी दिन रांची में वे एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे। जिसकी तैयारी आज से ही कांग्रेसियों ने प्रारम्भ कर दी है। इस बात की जानकारी कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे ने विद्रोही 24. कॉम को दी। आलोक कुमार दूबे का कहना था कि प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी आर पी एन सिंह तथा प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार ने राहुल गांधी से रांची आने का अनुरोध किया था। जिसे राहुल गांधी ने स्वीकार करते हुए, इस पर अपनी सहमति दे दी।

आलोक कुमार दूबे ने कहा कि राहुल गांधी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद उनके कार्यक्रम को लेकर कांग्रेस के कार्यकर्ताओं का भारी दबाव था कि वे झारखण्ड के लिए अपना कार्यक्रम बनाएं। जैसे ही उनकी स्वीकृति मिली, कांग्रेसियों में एक प्रकार का उत्साह देखने को मिला, सभी ने एक दूसरे को बधाई दी, तथा कार्यक्रम को सफल बनाने की जिम्मेदारी ले ली।उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के कार्यक्रम के लिए जल्द ही स्थल का चयन कर लिया जायेगा। प्रदेश अध्यक्ष एव प्रदेश प्रभारी, कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए रणनीति तैयार करेंगे तथा उन रणनीति को जमीन पर उतारने के लिए प्रत्येक कांग्रेसी लगे होंगे।

आलोक कुमार दूबे ने कहा कि राहुल गांधी के इस कार्यक्रम में आदिवासी, पिछड़े, गरीब, अल्पसंख्यक, नौजवान एवं सभी तबके के लोगों को आमंत्रित किया जायेगा, तथा विभिन्न सामाजिक संगठनों को भी इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया जायेगा।उन्होंने यह भी कहा कि चूंकि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद राहुल गांधी का यह पहला कार्यक्रम हैं, इसलिए पूरे जोशखरोश के साथ उनका झारखण्डी परम्परा एवं संस्कृति के अनुसार उनका अभिनन्दन किया जायेगा।

Krishna Bihari Mishra

Next Post

CPI-ML ने आदिवासियों के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिये गये निर्णय के लिए केन्द्र को ठहराया दोषी

Thu Feb 21 , 2019
भाकपा माले राज्य सचिव जनार्दन प्रसाद ने आज रांची में कहा कि 20 फरवरी को सर्वोच्च न्यायालय द्वारा आदिवासियों को वनभूमि से बेदखली का निर्णय भाजपा की केंद्र सरकार द्वारा आदिवासियों पर एक  बड़ा हमला है। दरअसल भाजपा की केंद्र सरकार ने वनक्षेत्र मे रहने वाले आदिवासियों के बचाव में कोई पक्ष ही नहीं रखा। जिस वजह से वनाधिकार कानून रहने के बावजूद सर्वोच्च न्यायालय ने वनक्षेत्र के आदिवासियों की बेदखली का निर्णय सुना दिया।

You May Like

Breaking News