2019 में झामुमो को राज्य में सत्तारुढ़ करने के संकल्प के साथ ही 11वां महाधिवेशन संपन्न

धनबाद के मैथन में झारखण्ड मुक्ति मोर्चा का त्रिदिवसीय 11 वां महाधिवेशन आज संपन्न हो गया। महाधिवेशन में एक बार फिर से 9वीं बार दिशोम गुरु शिबू सोरेन को पार्टी अध्यक्ष तथा हेमन्त सोरेन को  लगातार दुसरी बार कार्यकारी अध्यक्ष चुन लिया गया, जिसका सभी ने समर्थन किया। पार्टी सुप्रीमो के साथ – साथ नई कार्यकारिणी पदाधिकारियों के नाम की भी घोषणा कर दी गई।

महाधिवेशन में सभी वक्ताओं ने पार्टी को राज्य में बेहतर स्थिति में लाने, झारखण्ड में पार्टी को सत्ता में स्थापित करने तथा हेमन्त सोरेन को मुख्यमंत्री बनाने के लिए ठोस प्रयास करने का संकल्प लिया, साथ ही कार्यकर्ताओं से हर हाल में राज्य में अमन शांति बहाल रखने तथा आपसी भाईचारे बनाये रखने पर ध्यान देने को कहा गया।

महाधिवेशन में पार्टी ने संकल्प दोहराया कि वह राज्य में विभिन्न विपक्षी दलों के साथ मिल-बैठकर एक बेहतर विकल्प देने का प्रयास करेगी, ताकि राज्य में सत्तारुढ़ भाजपा को जड़ से उखाड़ फेका जा सकें, वक्ताओं ने यह भी कहा कि राज्य की सरकार हर मोर्चे पर विफल रही हैं, राज्य में विधि-व्यवस्था ठप है, महिलाओं की स्थिति दयनीय है, किसान आत्महत्या कर रहे हैं, गरीब भूखों मर रहे हैं, और राज्य की सरकार को हाथी उड़ाने से फुर्सत नहीं।

वक्ताओं ने कहा कि राज्य की जनता सब देख रही हैं और उसका ध्यान फिलहाल प्रमुख विपक्षी दल झारखण्ड मुक्ति मोर्चा की ओर है, अतः ऐसे हालात में पार्टी जनता के विश्वासों पर खड़ा उतरने का प्रयास करेगी, इसलिए सभी आज से ही 2019 की तैयारी में जुट जाये, क्योंकि 2019 झारखण्ड मुक्ति मोर्चा का है।