9 अक्टूबर से पेरिस में आयोजित हो रही इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ गायनेकोलॉजी एंड ऑब्स्टेट्रिक्स के 25 वें वर्ल्ड कांग्रेस में भाग लेंगी रांची के MDLM हॉस्पिटल की निदेशक डॉ. अर्चना पाठक

एमडीएलएम हॉस्पिटल की चिकित्सा निदेशक व प्रसूति एवं स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. अर्चना पाठक पेरिस में आयोजित होने वाले इंटरनेशनल   फेडरेशन ऑफ गायनेकोलॉजी एंड ऑब्स्टेट्रिक्स (फिगो) के 25 वें वर्ल्ड कांग्रेस में भाग लेने  जा रही हैं। पेरिस के इंटरनेशनल कन्वेंशनल सेंटर में 9 अक्टूबर से 13 अक्टूबर तक चलने वाले इस अंतरराष्ट्रीय कांफ्रेंस में सेफ मदर हुड कमिटी, फ़ॉग्सी के सदस्य के रूप में डॉ. अर्चना वहां अपना प्रेजेंटेशन देंगी ।

ज्ञातव्य है कि डॉ. अर्चना पाठक फेडरेशन ऑफ ऑब्स्टेट्रिक एंड गायनोकोलॉजिकल सोसाइटी ऑफ इंडिया (फ़ॉग्सी) के सेफ मदर हुड कमिटी के सदस्य के रूप में जीवन धारा प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत झारखंड सहित बिहार, उत्तरप्रदेश व कर्नाटक राज्यों के अलावे देश के बाहर श्रीलंका के हेल्थ केयर वर्करों को बहुत सारे स्तर पर प्रशिक्षित कर चुकी हैं।

पेरिस में आयोजित हो रहे इस अंतरराष्ट्रीय कांफ्रेंस में विश्वभर के प्रसूति एवं स्त्रीरोग विशेषज्ञ भाग ले रहें हैं। जिसमें भारत, पाकिस्तान, बांग्लादेश, फ़्रांस, नेपाल, चीन, अमेरिका, जर्मनी देशों के साथ-साथ सभी यूरोपियन देशों के चिकित्सक भी शामिल हैं। डॉ. अर्चना पाठक इस कांफ्रेस में अपने सभी प्रशिक्षण कार्यक्रमों के तुलनात्मक एवं सकारात्मक परिणामों को वह समग्र रूप से वहां प्रस्तुत करेंगी ।

डॉ. अर्चना अपने चिकित्सकीय सेवा, शैक्षणिक क्रियाकलापों के साथ साथ विभिन्न सामाजिक कार्यों में भी पूरी क्षमता के साथ निरंतर कार्य करती रहती हैं। इनके द्वारा समय समय कर रांची एवं आस-पास के जिलों में निःशुल्क चिकित्सा शिविर, सर्वाइकल कैन्सर संबंधी स्क्रीनिंग एवं मुफ्त दवाईयों को वितरण किया जाता रहा है।

नर सेवा  नारायण सेवा जैसी सोच के साथ वो गरीबों में कंबल वितरण, अनाथालयों में बच्चों के बीच वस्त्रों का वितरण, सीकिदरी, सहेदा गांव में स्थित वाल्मीकि विकलांग एवं अनाथाश्रम में भोजनालय का निर्माण अपनी सास स्व. विमला देवी के स्मृति में बनवाया है। हमेशा समाज की अभावग्रस्त महिलाओं के सहयोग के लिये उपलब्ध रहना डॉ. अर्चना पाठक के स्वभाव में शामिल है।