प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व झारखण्ड के मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन को पत्र लिख बच्चों ने की स्वर्णरेखा नदी और इक्कीसो महादेव को बचाने की अपील

झारखंड की लाइफलाइन कही जाने वाली स्वर्णरेखा नदी आज शहर के प्रदूषण के कारण अत्यंत बुरी स्थिति में है। रांची शहर से होकर बहने वाली स्वर्णरेखा नदी में रांची शहर की सैंकड़ों नालियों का पानी सीधे इसी में मिल रही है। रांची के चुटिया में हरमू नदी और स्वर्णरेखा नदी के संगम पर स्थित प्राचीन इक्कीसो महादेव भी इन दोनों नदियों के प्रदूषण के कारण विस्मृत हो रहे हैं।

स्वर्णरेखा नदी को प्रदूषणमुक्त करने और इक्कीसो महादेव के संरक्षित करने के उद्देश्य से आज रांची के धुर्वा स्थित ब्रिजफोर्ड स्कूल के 300 से अधिक बच्चों ने प्रधानमंत्री और राज्य के मुख्यमंत्री को पोस्टकार्ड लिखा है। ज्ञात हो कि स्वर्णरेखा उत्थान समिति के द्वारा स्वर्णरेखा नदी को प्रदूषणमुक्त करने के लिए लगातार कई दिनों से अभियान चलाया जा रहा है।

इस अभियान को अपना समर्थन देते हुए विद्यालय की प्रधानाचार्य श्रीमती गुंजन भषीन ने कहा कि छात्रों में ऐसे सामाजिक दायित्वों का बोध हो, इसीलिए छात्रों को ऐसे अभियान में अपना योगदान देना चाहिए। उन्होंने बताया कि कक्षा तीन से सात तक के 350 बच्चों एवं विद्यालय के 35 कर्मियों ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन को पत्र लिखा है।

इससे पहले इस अभियान की शुरुआत करने वाले सुधीर शर्मा ने छात्रों को स्वर्णरेखा नदी और इस अभियान के विषय में बताया। उन्होंने कहा कि इस अभियान को लेकर रांची और मैक्लुस्कीगंज के कई स्कूलों के बच्चों ने पोस्टकार्ड लिखा है। इस अभियान को लेकर लोगों का व्यापक समर्थन मिल रहा है। आशा की जानी चाहिए कि इसका परिणाम सुखद आयेगा।