BJP सांसद महेश पोद्दार के फर्जीवाड़े को फेसबुक ने पकड़ा, गलती पकड़े जाने पर पोस्ट हुआ डिलीट

फेसबुक ने भाजपा सांसद महेश पोद्दार को गलत जानकारी देने पर सावधान किया है। फेसबुक ने  हिन्दी और अंग्रेजी दो भाषाओं में महेश पोद्दार को सूचित करते हुए कहा है कि उन्होंने गलत जानकारी दी हैं, जिसे निष्पक्ष फैक्ट चेकर्स ने इसे जांचा है। ज्ञातव्य है कि सांसद महेश पोद्दार ने अपने फेसबुक पोस्ट पर कल दो फोटो देकर लिखा था कि

“दो तस्वीरें, देश की दो बड़ी पार्टियां, Indian National Congress और Bhartiya janata party (BJP) के अध्यक्ष नामांकन फार्म जमा करते हुए। व्यवहार, संस्कार और शालीनता का फर्क देखिये।” साथ ही निम्नलिखित के साथ उसे हैश टैग भी किया गया था।

#RahulGetsDumped

#BharatModiKeSath

#BharatBoleModiFirSe

#LokSabhaElections2019

महेश पोद्दार ने दो फोटो डाले थे, एक फोटो में राहुल गांधी तो दूसरे में अमित शाह नामांकन की अर्जी दे रहे थे, एक फोटो में राहुल गांधी को बैठे-बैठे नामांकन पत्र निर्वाची पदाधिकारी को देते हुए दिखाया गया था, जबकि अमित शाह को उठकर नामांकन पत्र की अर्जी निर्वाची पदाधिकारी को दिया जा रहा था। जिसकी जांच फेसबुक ने कराई और इसे गलत करार देते हुए, सांसद महेश पोद्दार के उक्त फोटो पर अपनी आपत्ति दर्ज करा दी, जैसे ही महेश पोद्दार को इस बात की जानकारी मिली, उन्होंने इस पोस्ट को डिलीट कर दिया, पर तब तक कई लोगों ने इसके स्क्रीन शॉट ले लिये थे।

हिन्दुस्तान के पत्रकार अखिलेश कुमार सिंह ने तो अपने फेसबुक साइट पर इसे डालकर, प्रतिक्रिया भी दी, उन्होंने लिखा कि “सांसद महोदय आपने फर्जी तस्वीर शेयर की हैं। आपका पेज खुद इसकी जानकारी दे रहा।” हालांकि अब महेश पोद्दार के पेज पर यह चीजें नहीं दिखाई दे रही हैं, फिर भी लोगों के मन में एक बात तो जरुर घर कर गया कि “मतलब अपने दल के प्रति निष्ठा की आड़ में दूसरे दल के लोग संस्कारविहीन हो गये”, हमें लगता है कि इन सभी बातों से प्रत्येक दलों के बड़े नेताओं को बचने की कोशिश करनी चाहिए। नहीं तो, सार्वजनिक रुप से बदनामी उन्हीं की होगी, न कि उनकी जिनकी बदनामी करने/कराने में वे लगे हैं।

One thought on “BJP सांसद महेश पोद्दार के फर्जीवाड़े को फेसबुक ने पकड़ा, गलती पकड़े जाने पर पोस्ट हुआ डिलीट

  • April 17, 2019 at 11:46 am
    Permalink

    ये आदर्शवादी पूंजीपति चौकिदार..fake और झूठ के दम पर राजनीति करते हैं..

Comments are closed.