104 वर्ष योगदा सत्संग सोसाइटी के, जहां लोग पूर्ण ध्यान के दर्शन और जीवन के ज्ञान से होते हैं लाभान्वित

योगदा सत्संग सोसाइटी ऑफ इंडिया (वाईएसएस) का 104 वां स्थापना दिवस 22 मार्च को है। इसी दिन परमहंस योगानन्द (1893 — 1952)  ने 1917 में भारत में कई सहस्राब्दियों पूर्व अद्भुत हुए पवित्र आध्यात्मिक विज्ञान, क्रियायोग की सार्वभौमिक शिक्षा को उपलब्ध कराने के लिए योगदा सत्संग सोसाइटी की स्थापना की थी। इन धर्म-निरपेक्ष शिक्षाओं में, सर्वांगीण सफलता और समृद्धि के साथ-साथ, जीवन के अंतिम लक्ष्य – आत्मा का परमात्मा से मिलन – के लिए ध्यान की विधियों का एक पूर्ण दर्शन और जीवन शैली का ज्ञान सम्मिलित है।

Read more

स्वामी स्मरणानन्द बने YSS बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स के वाइस प्रेसिडेंट, ईश्वरानन्द बने जेनरल सेक्रेटरी

योगदा सत्संग सोसाइटी ऑफ इंडिया एवं सेल्फ रियलाइजेशन फेलोशिप के अध्यक्ष स्वामी चिदानन्द गिरि ने YSS बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स में दो महत्वपूर्ण बदलाव किये। स्वामी स्मरणानन्द को वाइस प्रेसिडेंट तथा स्वामी ईश्वरानन्द को जेनरल सेक्रेटरी बनाया गया। स्वामी स्मरणानन्द गत् 2002 से वाईएसएस बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स में सदस्य के रुप में शामिल हुए तथा 2007 में जेनरेल सेक्रेटरी भी बनाये गये थे,

Read more