कहीं आपका बच्चा आपके संस्कार और चरित्र को छोड़ “मानव बम” बनने की तैयारी तो नहीं कर रहा

सुशील बाबू बड़े ही शांतिप्रिय हैं, वे मुहल्ले के सर्वाधिक संभ्रांत व्यक्ति है। उनके दो बच्चे अभिनव और आकाश भी सुंस्कारित है। मुहल्ले के सारे लोग सुशील बाबू के दोनों बेटे की बड़ाई करते नहीं थकते। जब मुहल्ले के लोग अपने बच्चों को समझाते तो ये कहना नहीं भूलते कि देखो इसी मुहल्ले में अभिनव और आकाश हैं, जो कितने सुसंस्कारित और पढ़ने में तेज हैं, हाल ही में मैट्रिक की परीक्षा में दोनों ने 96 प्रतिशत नंबर लाये

Read more

जब बारिश की बूंदे हमें स्पर्श करती है, तुलसी आप याद आते हैं…

जितने सरल शब्दों में गोस्वामी तुलसीदास ने वर्षा वर्णन कर युवाओं को सोचने पर मजबूर किया, उसे शब्दों में वर्णन नहीं किया जा सकता। संस्कार और चरित्र की सरल भाषा में सीख गोस्वामी तुलसीदास ने श्रीरामचरितमानस में खुब की है, हमारे विचार से प्रत्येक भारतीय परिवार को बिना किसी राग-लपेट के अपने बच्चों में संस्कार और चरित्र का बीजारोपण के लिए श्रीरामचरितमानस उनके हाथों में थमा देना चाहिए

Read more