देश के कई भागों में दंगाइयों ने श्रीरामनवमी की शोभायात्रा पर पत्थर बरसाएं, एक की मौत, कई घायल, मध्यप्रदेश में दंगाइयों के घरों पर चले बुलडोजर

वो कौन लोग हैं, जो श्रीरामनवमी की शोभायात्रा में शामिल लोगों पर पत्थरबाजी करते हैं। जिन्हें श्रीराम के नाम से

Read more

खबरदार छोटे- मझौले पत्रकारों, किसी BJP MLA से मत टकराना, नहीं तो नंगे कर दिये जाओगे

घटना दो अप्रैल, मध्यप्रदेश के सीधी जिले की है। बताया जाता है कि जब कई रंगकर्मी और आरटीआइ एक्टिविस्ट एक

Read more

ये एक दूसरे को नीचा दिखाने का समय नहीं नेताओं और बेवजह चिल्लानेवालों नामुरादों, अपने पत्रकार मित्रों की सुध लो

भाई मैं बार-बार कह रहा हूं, यह समय राजनीति करने का नहीं है। यह समय एक दूसरे को नीचा दिखाने का नहीं है। यह समय हर प्रकार की बुराइयों से उपर उठकर मानवता की सेवा करने का है। आप किसे नीचा दिखा रहे हैं, आप किस मुंह से खुद को सर्वश्रेष्ठ कह रहे हैं। जहां आपके शासन हैं, वहां भी बुरा हाल है, नहीं तो जाकर मध्यप्रदेश, बिहार व उत्तरप्रदेश घुम आइये। अगर सिस्टम झारखण्ड में फेल है, तो आपके शासित राज्यों में सिस्टम कोई दूसरा नहीं हैं।

Read more

ये नोट और शहरों के नाम बदल दें तो सही और हेमन्त राज्य के स्वाभिमान को जगाने के लिए लोगो बदल दें तो गलत

इनके लोग कोरोना काल में मध्यप्रदेश में चल रही कांग्रेस सरकार की तख्ता पलट दें, तो सही है। ये राजस्थान में भी चल रही अच्छी भली सरकार को डिस्टर्ब कर दें, तो सही है। ये कोरोना काल में अमरीका के राष्ट्रपति की आवभगत में खुद को साष्टांग दंडवत् की मुद्रा में सब को दिखा दें, और कोरोना से लड़ने के लिए सही काम करना बंद कर दें, तो सही है। ये बिहार में पुनः सत्ता प्राप्त करने के लिए चुनाव लड़ने की मुद्रा में आ जाये तो ठीक है, वह भी तब जब बिहार के लोग कोरोना और बाढ़ से त्राहिमाम कर रहे हैं,

Read more

राजस्थान, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, पंजाब और महाराष्ट्र की तरह भाजपा अब झारखण्ड भी गंवाने जा रही – कांग्रेस

हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी गजब है, वे अपने पूरे भाषण में सिर्फ और सिर्फ कांग्रेस की ही चर्चा करते हैं, जबकि कांग्रेस ने कभी भी प्रधानमंत्री के प्रति अपशब्द का प्रयोग नहीं किया। प्रधानमंत्री को चाहिए था कि वे जब झारखण्ड में भाषण दे रहे है तो कम से कम झारखण्ड में हो रही भूख से मौतों की तो चर्चा करते, पर वे ऐसा नहीं करते। ये बातें आज रांची में कांग्रेस के झारखण्ड प्रभारी आरपीएन सिंह ने  कांग्रेस भवन में संवाददाता सम्मेलन के दौरान कही।

Read more

योगदा आश्रम आकर मैं धन्य हो गया, मैं परम सौभाग्यशाली मुझे आने का अवसर मिला – शिवराज

भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिव राज सिंह चौहान, के शब्दों में, “योगी कथामृत पढ़ ही रहा था कि रांची आने का कार्यक्रम बन गया। यहां स्वाभाविक रुप से इच्छा हुई कि “योगदा” जाना ही चाहिए। धन्य हो गया और रुकने की इच्छा थी, अद्भुत दिव्य ऊर्जा क्षेत्र जहां बैठकर ध्यान की इच्छा होती है। परम सौभाग्यशाली हूं, आने का अवसर मिला।”

Read more

चंद दिनों में ही कमलनाथ ने दिखाया अपना असली चेहरा, बिहार-यूपी के लोगों के खिलाफ आग उगला

दरअसल उत्तरप्रदेश के कानपुर में जन्मे एवं मध्य प्रदेश के नये-नये मुख्यमंत्री बने कमलनाथ ने सोमवार को कुछ भी गलत नहीं बोला, क्योंकि पिछले कुछ वर्षों से कांग्रेस पार्टी के चरित्र में बड़ा बदलाव आया है, बड़े-बड़े प्रान्तों से कांग्रेस का जनाधार अचानक विलुप्त होना, इसका मूल कारण रहा हैं, अब ये विभिन्न राज्यों में फिर से कैसे स्वयं को मजबूत करें, इसके लिए अब ये तरह-तरह के हथकंडे अपनाने शुरु कर दिये हैं।

Read more

कांग्रेस को ज्यादा खुश होने की जरुरत नहीं और न भाजपा को दुखी होने की, जनादेश दोनों के लिए सबक

कांग्रेस को ज्यादा बौराने की जरुरत नहीं हैं, क्योंकि ये जनादेश उसे ज्यादा खुश होने को नहीं कहता और न ही भाजपा को ज्यादा दुखी होने का संदेश दे रहा है। मध्यप्रदेश और राजस्थान में आज भी कांग्रेस बहुमत से एक सीट कम हैं, वहीं छतीसगढ़ में उसकी सुनामी साफ दिखती है, राजस्थान और मध्यप्रदेश में कांग्रेस को स्पष्ट बहुमत नहीं मिल पाना, स्पष्ट संकेत है कि जनता को कांग्रेस पर भी उतनी विश्वास नहीं है,

Read more

BJP के शीर्षस्थ नेताओं ने CM रघुवर और गिलुआ को उनके पद से नहीं हटाया, तो झारखण्ड भी गया काम से

अब दिल्ली में बैठे भाजपा के नेता माने या न माने, पर इतना तो तय है कि अगर दिल्ली में बैठे भाजपा के शीर्षस्थ नेता झारखण्ड के मुख्यमंत्री रघुवर दास और यहां के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुआ को नहीं बदला तो यह प्रदेश भी मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ की तरह भाजपा के हाथ से निकल जायेगा, क्योंकि यहां की जनता इन तीनों प्रदेशों की जनता से भी ज्यादा वर्तमान सरकार के क्रियाकलापों से नाराज ही नहीं, बल्कि गुस्से में है।

Read more

एक्जिट पोल के अनुसार राजस्थान, एमपी और छत्तीसगढ़ की जनता ने भाजपा को बाहर का रास्ता दिखाया

एक्जिट पोल के चुनाव परिणाम साफ बता रहे हैं कि इस बार राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की जनता का भाजपा से मोहभंग हो चुका हैं, जो भाजपा कांग्रेसमुक्त भारत का सपना संजो कर रखी थी, उस सपने को जबर्दस्त ठोकर लगने जा रही हैं और जल्द ही 11 दिसम्बर को जब चुनाव परिणाम आयेंगे, तब कांग्रेस के हाड़ में हल्दी लग जायेगी और मध्यप्रदेश, राजस्थान तथा छत्तीसगढ़ में उस पार्टी के मुख्यमंत्री दिखाई देंगे।

Read more