मोतिहारी के भेलवाकोठी में गांधी की प्रतिमा का सरकलम, खुद को गांधीवादी बतानेवाले नीतीश इस घटना पर मौन

चंपारणवासी सनद रहे, यह गांधी जी की प्रतिमा का गर्दन नहीं कटा, बल्कि इसके द्वारा आपके चरित्र, स्वाभिमान और संस्कार की धज्जियां उड़ा दी गई, जिन असामाजिक तत्वों ने ऐसा किया है, उसने आपकी इज्जत की जमा-पूंजी पर डाका डाला हैं। ऐसे में आपकी जो सम्मानरुपी जमा पूंजी है, उस सम्मान को हर हाल में बरकरार रखना आप की सबसे बड़ी जिम्मेदारी हैं।

Read more