वित्तीय अनियमितता करने वाले अभियंताओं के विरुद्ध CM हेमन्त सोरेन ने दिये अभियोजन स्वीकृत्यादेश

सरकारी पद का दुरूपयोग, अपराधिक षडयंत्र, धोखाधड़ी एवं प्रक्रियाओं का उल्लंघन करते हुए सुनियोजित ढंग से वित्तीय अनियमितता करने वालों

Read more

झारखण्ड कांग्रेस में एक-दूसरे को नीचा दिखाने का कार्यक्रम हुआ शुरु, प्राथमिकी के माध्यम से विधायक उछाल रहे एक दूसरे पर कीचड़

जी हां, झारखण्ड कांग्रेस में एक दूसरे को नीचा दिखाने का कार्यक्रम अब जोर-शोर से शुरु हो गया है। ये

Read more

इरफान, राजेश और नमन से भी ज्यादा भोले हैं जयमंगल, घटना-घटने के बाद याद आया इन तीनों ने इन्हें दिया था दस करोड़ व मंत्री पद का लालच

बड़े भोले हैं, कांग्रेस पार्टी के एकमात्र बेरमो विधायक कुमार जयमंगल उर्फ अनूप सिंह, ये इतने भोले हैं कि इनको

Read more

इससे बड़े शर्म की बात क्या होगी झारखण्ड पुलिस के लिए, FIR के लिए राज्यपाल को करना पड़ा हस्तक्षेप, 30 घंटे तक दुष्कर्म पीड़िता के पिता को थाने में बिठा दिया, पर FIR दर्ज नहीं की

राज्यपाल रमेश बैस द्वारा पश्चिमी सिंहभूम जिला के बंदगांव थाना अंतर्गत ग्राम की नाबालिग के साथ दुष्कर्म की घटना एवं

Read more

अनामिका गौतम के पक्ष में हाईकोर्ट का फैसला, उन पुलिसकर्मियों के लिए सबक, जो किसी के इशारे पर झूठी मुकदमें दर्ज कर, किसी को भी परेशान करते हैं

झारखण्ड उच्च न्यायालय ने गोड्डा के भाजपा सांसद निशिकांत दूबे को बहुत बड़ी राहत दी है। न्यायाधीश आनन्द सेन की अदालत ने निशिकांत दूबे की पत्नी अनामिका गौतम के खिलाफ देवघर के टाउन थाने में दर्ज प्राथमिकी को खारिज कर दिया है। ज्ञातव्य है निशिकांत दूबे की पत्नी अनामिका गौतम के खिलाफ जनवरी माह में एक मामला देवघर थाने में दर्ज किया गया था, जिसमें अनामिका गौतम समेत पांच लोगों पर 420 का मामला दर्ज किया गया था, इस संबंध में न्यायालय ने सरकार का पक्ष भी मांगा था,

Read more

अभिनन्दन चुटिया थाना प्रभारी रवि ठाकुर का, जिन्होंने बिना किसी प्राथमिकी/शिकायत के ही…

रांची का चुटिया थाना। जहां के थाना प्रभारी हैं – रवि ठाकुर। मैं इनसे मात्र दो बार मिला हूं। दोनों बार जो कारण बना, वो था समाचार। हाल ही में उन्होंने कुछ ऐसे-ऐसे काम किये हैं, जिसे सुनकर मैं स्वयं आश्चर्यचकित हो गया, और मेरे मुंह से यही निकला कि ऐसा कैसे संभव है? क्योंकि पुलिस का मतलब ही, हमारे लिए कुछ और होता है, क्योंकि इसी चुटिया थाना में मैंने कई भ्रष्ट अधिकारियों को देखा है, जिसकी चर्चा में कई बार अपने पूर्व के लिखे समाचारों में कर चुका हूं,

Read more

का डीके पांडे बाबा पूर्व डीजीपी झारखण्ड, आप ये भी सब काम करते थे?

आज सुबह से ही अखबारों को देखने के बाद, झारखण्ड में हर चौक-चौराहों पर एक बात की चर्चा है, कि क्या झारखण्ड के पूर्व डीजीपी डीके पांडे, ये भी सब काम करते थे, जैसा कि उनके बारे में आज के अखबारों ने छापकर, उनका चरित्र चित्रण कर दिया। दरअसल, रांची से प्रकाशित आज सभी अखबारों ने पूर्व डीजीपी डीके पांडे के खिलाफ दर्ज प्राथमिकी को प्रमुखता से प्रकाशित किया है, पर दैनिक भास्कर ने थोड़ा इसमें जबर्दस्त रुचि दिखाई और पूर्व डीजीपी डीके पांडे को ले बैठा।

Read more

क्या MLA साहेब नैतिकता बची है या अब भी आपको लगता है कि राज्य पुलिस आपकी सेवा में लगी रहेगी?

भाई ठीक है, आप दबंग है, आप निवर्तमान सीएम रघुवर दास के चहेते है, धनबाद पुलिस आपके इशारों पर नाचती है, आप किसी को भी आगे कर, किसी भी अच्छे आदमी या उसके परिवार को कोर्ट के चक्कर लगवा देते हैं, उसके भविष्य से खेल जाते हैं, लेकिन कोई आपके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराना चाहे तो प्राथमिकी तो दूर शिकायत भी दर्ज नहीं होती।

Read more

अगर आप यहां की सरकार या पुलिस पर भरोसा करते हैं तो आप महामूर्ख हैं, आपको अपने बेटियों के सम्मान की रक्षा खुद करनी होगी

जिस राज्य में पुलिस थाने के पुलिसकर्मियों का तबादला रिश्वत व पैरवी के आधार पर होता है। जिस राज्य के थाने के थानेदार व पुलिसकर्मी बिना रिश्वत के प्राथमिकी तक दर्ज नहीं करते। जिस राज्य में सत्ता के इशारे पर किसी भी भलेमानस के खिलाफ केस दर्ज कर उसे परेशान किया जाता है। जिस राज्य के पुलिस थाने के थानेदार नागरिकों की सुरक्षा की जगह माल बटोरने, व आलीशान मकान पीटने, फ्लैटों की संख्या अपने नाम करने में ज्यादा दिमाग लगाते हो।

Read more

दो अखबारों के खिलाफ FIR दर्ज कराने के लिए नेता प्रतिपक्ष हेमन्त सोरेन पर जनता का बढ़ रहा दबाव

झारखण्ड मुक्ति मोर्चा के कार्यकर्ता इन दिनों रांची से प्रकाशित दो अखबारों से बहुत ज्यादा आक्रोशित हैं, ये आक्रोश झामुमो एवं महागठबंधन समर्थकों में भी देखा जा रहा हैं, अखबारों में तो ये समाचार दिख नहीं रहा, पर सोशल साइट में यह युद्ध का रुप ले चुका हैं, करीब-करीब सारे ग्रुपों में समर्थकों, कार्यकर्ताओं व निरपेक्ष लोगों का कहना यही है कि अगर हेमन्त सोरेन को लगता है कि खबर सही नहीं हैं,

Read more